breaking_news Home slider अन्य ताजा खबरें बिजनेस बिजनेस न्यूज

भारत की टेलिकॉम इंडस्ट्रीज 3825 करोड़ डॉलर की बन जाएगी

साभार गूगल

नई दिल्ली, 27 सितम्बर :  केंद्रीय संचार मंत्री मनोज सिन्हा ने बुधवार को कहा कि जिस गति से डेटा खपत में लगातार वृद्धि हो रही है, दूरसंचार उद्योग 2017 के अंत तक 3,825 करोड़ डॉलर राजस्व वाला उद्योग बना सकता है। उन्होंने कहा कि इस तरह इस उद्योग की वर्ष 2014 से 2017 के बीच संयोजित वार्षिक वृद्धि दर(सीजीआर) 5.2 प्रतिशत होगी। प्रथम मोबाइल कांग्रेस के उद्घाटन भाषण में सिन्हा ने कहा, “पिछले चार वर्षो के दौर निवेश में 220 प्रतिशत की वृद्धि हुई है। पिछले 15 महीनों के दौरान ऑपरेटरों ने दो लाख टॉवर लगाए हैं।”

सिन्हा ने कहा कि भारत दुनिया में दूरसंचार बाजार के क्षेत्र में 120 करोड़ दूरसंचार उपभोक्ताओं और 45 करोड़ इंटरनेट उपभोक्ताओं के साथ दूसरे स्थान पर है।

दूरसंचार उद्योग प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष तौर पर 40 लाख लोगों के लिए रोजगार पैदा करेगा।

मंत्री ने कहा, “पिछले कुछ वर्षो में सरकार ने अपना ध्यान प्रौद्योगिकी पर दिया है। सरकार ने नई दूरसंचार नीति के लिए पहले ही साझेदारों से बातचीत शुरू कर दी है। आईटी और दूरसंचार फिलहाल जीडीपी में 16.5 प्रतिशत का योगदान दे रहे हैं और इसके बढ़ने की अपार संभावनाएं हैं।”

उन्होंने कहा कि राष्ट्रीय दूरसंचार नीति 2018 के मुताबिक, वर्ष 2020 तक भारतीय दूरसंचार बाजार के 66 हजार करोड़ डॉलर को पार करने की संभावना है।

सिन्हा ने कहा कि सरकार व्यापार आसान बनाने के लिए कई कदम उठा रही है।

–आईएएनएस

About the author

समय धारा

Add Comment

Click here to post a comment

अन्य ताजा खबरें