breaking_news Home slider बॉलिवुड-हॉलिवुड मनोरंजन

नील नितिन मुकेश के नाम में तीन पीढ़ियां समाहित : जन्मदिन विशेष

नील नितिन मुकेश

मुंबई,15 जनवरी: संगीत घराने से ताल्लुक रखने वाले नील नितिन मुकेश को संगीत का शौक तो है, लेकिन जुनून है अभिनय का। दर्द भरे गीतों के लिए मशहूर पाश्र्व गायक मुकेश उनके दादा थे और पिता हैं गायक नितिन मुकेश। कहा जा सकता है कि नील के नाम में तीन पीढ़ियां समाहित हैं।

नील ने अपने फिल्मी करियर की शुरुआत वर्ष 2007 में बतौर अभिनेता निर्देशक राम राघवन की एक्शन थ्रिलर फिल्म ‘जॉनी गद्दार’ से की। इस फिल्म में उनके अभिनय की काफी सराहना की गई। साथ ही फिल्मफेयर अवार्डस में वह सर्वश्रेष्ठ नवोदित कलाकार के रूप में भी नामांकित किए गए।

नील नितिन मुकेश का जन्म 15 जनवरी, 1982 को मुंबई में हुआ। उनका पूरा नाम नील नितिन मुकेश चंद माथुर है। उनकी मां का नाम निशि मुकेश माथुर है।

नील ने अपनी प्रारंभिक शिक्षा मुंबई के ग्रीनलॉन हाईस्कूल से पूरी की। बाद में उन्होंने मुंबई के एचआर कॉलेज से कॉमर्स विषय में ग्रैजुएशन किया। अपने परिवार में दादा के समय से चली आ रही संगीत की परंपरा से अलग हटकर उन्होंने अभिनय को अपना करियर चुना। उन्होंने एक अखबार को दिए साक्षात्कार में कहा भी कि ‘संगीत मेरा शौक है, लेकिन अभिनय मेरा जुनून है।’

नील ने नमित कपूर के एक्टिंग स्कूल से अभिनय में चार महीने तक प्रशिक्षण लिया। बाद में उन्होंने अभिनेता अनुपम खेर से भी एक्टिंग के गुर सीखे। नील ने 1988 में आई फिल्म ‘विजय’ और 1989 में आई फिल्म ‘जैसी करनी वैसी भरनी’ में बाल कालाकार के रूप में भी काम किया है।

अंग्रेज की तरह दिखने वाले नील साल 2009 में आई फिल्म ‘आ देखें जरा’ में अभिनेत्री बिपाशा बसु के साथ नजर आए। इस फिल्म के लिए नील को आलोचकों से मिली-जुली प्रतिक्रिया मिली। इसके बाद वह निर्देशक कबीर खान की 2009 में आई फिल्म ‘न्यूयॉर्क’ में नजर आए।

इस फिल्म में नील के साथ अभिनेत्री कैटरीना कैफ और अभिनेता जॉन अब्राहम मुख्य भूमिकाओं में थे। यह फिल्म आंतकवादी गतिविधियों पर आधारित थी, जिसमें नील सहायक अभिनेता के तौर पर नजर आए थे। दर्शकों और समीक्षकों ने इस फिल्म को बेहद सराहा। इस फिल्म के लिए नील को दूसरा सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता के तौर पर फिल्मफेयर अवार्डस के लिए नामांकित किया गया।

इसी साल वह मधुर भंडारकर के निर्देशन में बनी फिल्म ‘जेल’ में भी नजर आए। इस फिल्म में उनका न्यूड सीन काफी विवादित रहा। यह फिल्म बॉक्स-ऑफिस पर बुरी तरह असफल साबित हुई, हालांकि समीक्षकों ने इसमें उनकी बेहतरीन भूमिका को सराहा था।

नील साल 2010 में अभिनेत्री दीपिका पादुकोण के साथ फिल्म ‘लफंगे परिंदे’ में भी नजर आए, लेकिन यह भी बॉक्स-ऑफिस पर कुछ खास कमाल नहीं कर पाई। साल 2015 में नील सूरज बड़जात्या की फिल्म ‘प्रेम रतन धन पायो’ में सलमान खान के साथ नजर आए। इस फिल्म में उन्होंने सलमान के सौतेले भाई की भूमिका की। इस फिल्म ने बॉक्स-ऑफिस पर अच्छी कमाई की थी।

नील ने साल 2016 में दशहरे के अवसर पर मुंबई की रुक्मिणी सहाय से सगाई कर ली। रुक्मिणी विमानन उद्योग से जुड़ी हुई हैं। इस साल दोनों शादी के बंधन में बंधने वाले हैं। लंबे नाम वाले नवोदित अभिनेता की उम्र भी लंबी हो, जन्मदिन पर यही शुभकामना!

–आईएएनएस

About the author

समय धारा

Add Comment

Click here to post a comment