breaking_news Home slider बॉलिवुड-हॉलिवुड मनोरंजन

आखिर क्यों सलमान खान के पिता सलीम खान ने की उनकी जमकर कुटाई…

मशहूर लेखक सलीम खान अपने बेटे सलमान खान के साथ (साभार- गूगल)

एक दिलचस्प मुलाकात में मशहूर लेखक सलीम खान ने अपने बेटे सलमान खान के बारे में भी बात की। उन्होंने बताया कि ऐसा नहीं है कि मैंने सलमान के लिए फिल्में नहीं लिखीं। मैंने उसके लिए फिल्म पत्थर के फूल लिखी थी, जो अच्छी चली भी थी। आज भी यदि मैं किसी को स्क्रिप्ट दिखाता हूं तो लोग हमेशा यही सवाल करते हैं कि यदि यह स्क्रिप्ट अच्छी है तो फिर इसमें सलमान काम क्यों नहीं करते। लेकिन मैं इन सवालों के घेरे से बाहर आना चाहता हूं। वे बताते हैं, ‘एक बात और है कि यदि फिल्म पिटती है तो यह मेरी गलती है। यदि वह हिट होती है तो यह सलमान की मेहनत कहलाती है। भला एक राइटर ऐसा क्यों चाहेगा।

सलमान खान से उनके रिश्ते और गैलेक्सी अपार्टमेन्ट में उनके साथ रहने, उनकी आज तक की पसंदीदा फिल्म और उनसे जुड़ी कई अन्य राज की बातें जानने के लिए देखिए ‘माय लाइफ माय स्टोरी‘। ‘माय लाइफ माय स्टोरी‘, जी क्लासिक का वीकली शो है, जिसमें हिन्दी सिनेमा के दिग्गजों की सफलता की कहानी होगी जिन्होंने आने वाली पीढ़ियों को प्रेरित किया। इस सीरीज में सुभाष घई, बप्पी लहरी, हेलन और कई अन्य हस्तियां अपनी दिलचस्प कहानियां बताएंगे और खुद से जुड़े विवादों पर भी चर्चा करेंगे। इसके साथ ही उन्होंने यह भी बताया कि एक बार कॉलेज के टाइम में हमारे घर में एक लड़का रहने आया था। वह किसी का दोस्त नहीं था बल्कि ऐसे ही मेरे बेटों को जानता था। जब सलमान को उसके बारे में पता चला तो उसने मुझे न बताकर उल्टा उस पर तरस खाकर घर में पानह दे दी। लेकिन जब मुझे उसके बारे में पता चला तो मैंने उससे ज्यादा सलमान की धुनाई की थी।

आपको बता दें कि सलीम खान एक्टिंग करने मुंबई आए थे लेकिन कुछ लीड रोल मिलने के बावजूद वे सफल एक्टर नहीं बन पाए। फिर उन्होंने फिल्में लिखनी शुरू की क्योंकि उन्हें लिखने का शौक था। उन्होंने जावेद अख्तर के साथ मिलकर सलीम-जावेद की मशहूर जोड़ी बनाई, जिसने दीवार, शोले, डॉन, त्रिशूल और कई अन्य हिट फिल्में लिखीं।

वो ज़माना करे दीवाना‘ की अपनी ब्रांड विचारधारा के साथ ज़ी क्लासिक यह चैट शो प्रस्तुत कर रहा है,जिसे आर जे अनमोल होस्ट करेंगे। इसमें हिन्दी फिल्म इंडस्ट्री की मशहूर हस्तियों की जिंदगी के सफर और बॉलीवुड में उनके योगदान के बारे में बताया जाएगा। इंडस्ट्री के इन महारथियों को करीब से जानिए ज़ी क्लासिक के ‘माय लाइफ माय स्टोरी‘ में, जो 4 फरवरी से हर शनिवार शाम 7 बजे प्रसारित किया जाएगा।

About the author

समय धारा

Add Comment

Click here to post a comment

अन्य ताजा खबरें