Category - दिल की बात

breaking_news Home slider चटपट चुटकले और शायरी दिल की बात

शायरी दिल से : प्यार में बेवाफाई मिले तो गम न करना, अपनी आँखे किसी के लिए नम न करना

(1) वो छोड़ के गए हमें; न जाने उनकी क्या मजबूरी थी; खुदा ने कहा इसमें उनका कोई कसूर नहीं; ये कहानी...

Read More
breaking_news Home slider चटपट चुटकले और शायरी दिल की बात

टूटे दिल की शायरी : जानकार भी तुम मुझे जान ना पाए…आजतक तुम मुझे पहचान ना पाए…खुद ….

जानकार भी तुम मुझे जान ना पाए; आजतक तुम मुझे पहचान ना पाए; खुद ही की है बेवाफाई तुमने; ताकि तुम पर...

Read More
breaking_news Home slider चटपट चुटकले और शायरी दिल की बात

शायरी : तुम्हारा सिर्फ हवाओं पे शक़ गया होगा, चिराग़ खुद भी तो-जल-जल के थक गया होगा

(1) तेरी दोस्ती ने दिया सकूं इतना; की तेरे बाद कोई अच्छा न लगे; तुझे करनी है बेवफ़ाई तो इस अदा से कर; कि तेरे बाद कोई भी बेवफ़ा न लगे। (2) प्यार करने का हुनर हमें आता नहीं;...

breaking_news Home slider चटपट चुटकले और शायरी दिल की बात

दिल की बात : हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला, हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला

हमें न मोहब्बत मिली न प्यार मिला; हम को जो भी मिला बेवफा यार मिला! अपनी तो बन गई तमाशा ज़िन्दगी; हर कोई अपने मकसद का तलबगार मिला! प्यार किया था तो प्यार का अंजाम कहाँ मालूम...

breaking_news Home slider चटपट चुटकले और शायरी दिल की बात

दिल से : लत ऐसी लगी है कि तेरा नशा मुझसे छोड़ा नहीं जाता…..

(1) दिल में छुपा के रखी है लड़कपन की चाहतें, दोस्तों से जरा कह दो अभी बदला नहीं हूँ मैं। (2) ऐ-जिंदगी तू खेलती बहुत है खुशियों से, हम भी इरादे के पक्के हैं मुस्कुराना नहीं...

breaking_news Home slider चटपट चुटकले और शायरी दिल की बात

दिल की बात : किसी की मजबूरी का…मजाक ना बनाओ यारों…… : ज़िन्दगी कभी मौका देती है तो…कभी

(1) ये ना पूछना ज़िन्दगी ख़ुशी कब देती है, क्योकि शिकायते तो उन्हें भी है जिन्हें ज़िन्दगी सब देती है.. (2) “पता नहीं कैसे परखता है मेरा खुदा मुझे… इम्तिहां भी...

breaking_news Home slider चटपट चुटकले और शायरी दिल की बात

दिल की बात : ऐ-जिंदगी तू खेलती बहुत है…खुशियों से… हम भी इरादे के पक्के हैं…मुस्कुराना नहीं छोडेंगे..

(1) वो उम्र भर कहते रहे तुम्हारे सीने में दिल ही नहीं दिल का दौरा क्या पड़ा, ये दाग भी धुल गया (2) कभी वक्त निकाल के, हमसे बातें करके देखना… हम भी बहुत जल्दी, बातों मे...

breaking_news Home slider दिल की बात

दिल की बात : एक आशिक ने क्या खूब लिखा है कि “मरने के बाद मुझे जल्दी ना जला देना उसे…..

(1) हम तो खुशियाँ उधार देने का कारोबार करते हैं,साहब! कोई वक़्त पे लौटाता नहीं इसीलिए घाटे में चल रहे हैं…. (2) सफर से बस इतना ही सबक सीखा है .. सहारा कोई – कोई ही...

breaking_news Home slider अन्य ताजा खबरें चटपट चुटकले और शायरी दिल की बात

दिल की बात : तेरा खयाल भी हैं….क्या गजब….ना आए तो आफत….जो आ जाए तो कयामत…..

(1) दोस्तों की महफिल में आ कर …खुशी से फूल जाता हूँ ..! Dilse.. ग़म चाहे कैसा भी हो … आ कर भूल जाता हूँ .. (2) महबूबा के नाम का एक ख़त कमीज़ की जेब में रख कर क्या...

breaking_news Home slider अन्य ताजा खबरें चटपट चुटकले और शायरी दिल की बात

दिल से : बचत करने की आदत सी हो गई है Dilse.. मैं अपना दर्द अब कम ही बांटता हूँ..

(1) जिंदगी में ऐसे लोग भी मिलते हैं…. जो वादे तो नहीं करते लेकिन निभा बहुत कुछ जाते है.,. (2) लोग दीवाने हैं बनावट के जनाब, हम अपनी सादगी लेकर कहाँ जायें? (3) कभी कभी...

अन्य ताजा खबरें