breaking_news Home slider ऑटो लेटेस्ट ऑटो न्यूज

ऑटो-न्यूज़ : लेन-देन के प्लेटफार्म-ड्रूम ने जुटाए 3 करोड़ डॉलर

The automobile transaction platform-drum has recently raised $ 30 million in funding for Series D.
ड्रूम ने टोयोटा सुशो कॉर्पोरेशन के नेतृत्व वाले सीरीज डी में जुटाए 3 करोड़ डॉलर

नई दिल्ली, 17 मई, ऑटो-न्यूज़ : लेन-देन के प्लेटफार्म-ड्रूम ने जुटाए 3 करोड़ डॉलर l 

भारत के पहले और सबसे बड़े ऑटोमोबाइल लेन-देन के प्लेटफार्म-ड्रूम ने हाल ही में सीरीज डी की फंडिंग में तीन करोड़ डॉलर जुटाए हैं।

कम्पनी ने गुरुवार को इसकी घोषणा की।

कम्पनी के मुताबिक इस राउंड का नेतृत्व टोयोटा सुसो कॉर्पोरेशन (टोयोटा ग्रुप का सदस्य) ने किया और डिजिटल गैरेज ऑफ जापान ने इसमें उसका साथ दिया।

फंड जुटाने के इस राउंड में एशिया-स्थित इन्वेस्टमेंट मैनेजर, एलिसन इन्वेस्टमेंट के अलावा कई मौजूदा निवेशकों और अग्रणी संस्थागत निवेशकों, चीन, हांगकांग और दक्षिण-पूर्व एशिया के फैमिली ऑफिस ने भी भाग लिया। 

निवेश के इस दौर ने ड्रूम के उस भरोसे को मजबूती मिली है, जो उसने भारत में ऑनलाइन ऑटोमोबाइल मार्केट में लीडरशिप पोजिशन के जरिये हासिल की है।
नए फंड का इस्तेमाल भारत में ऑनलाइन ऑटोमोबाइल मार्केटप्लेस सेग्मेंट में ड्रूम के प्रभुत्व को और मजबूती देने के लिए किया जाएगा।

इस मार्केट में ड्रूम की हिस्सेदारी 70 प्रतिशत है। 

इसके अलावा इस फंड के जरिये प्लेटफार्म को अंतरराष्ट्रीय स्तर पर अपनी उपस्थिति को मजबूती देने और इकोसिस्टम सर्विस टूल्स को बेहतर बनाने में मदद मिलेगी। टेक्नोलॉजी आधारित इस प्लेटफार्म अपनी मशीन लनिर्ंग और एआई क्षमताओं को विकसित करने के साथ ही 100 गुना बड़ा प्लेटफार्म बनाने में भी बड़े पैमाने पर निवेश करेगा। 

ड्रूम ने टोयोटा सुशो कॉपोर्रेशन के साथ एक एमओयू (करार) पर भी हस्ताक्षर किए हैं, जिसका उद्देश्य दक्षिण-पूर्व एशिया में प्लेटफार्म को लेकर जाना है। भरोसे की कमी, प्रति व्यक्ति उच्च लागत, बंटे हुए सेलर बेस और लचर कायदे-कानूनों की समस्या से जूझ रहे इन बाजारों में यह प्लेटफार्म नई सफलताएं हासिल कर सकता है।

निवेशकों से फंडिंग लेने के नवीनतम दौर और समर्थन के जरिये ड्रूम का उद्देश्य भारत के प्रमुख ऑनलाइन ऑटोमोबाइल मार्केट के रूप में अपनी स्थिति को मजबूती देना है। पिछले तीन वर्षों में ड्रूम ने भारत में ऑनलाइन ऑटोमोबाइल मार्केट में 70 प्रतिशत हिस्सेदारी हासिल की है, जो ग्रॉस रेवेन्यू (सकल राजस्व) में करीब 70.0 करोड़ डॉलर के करीब है। 

शुद्ध राजस्व में यह करीब 3.4 अरब डॉलर के साथ लिस्टेड है। ड्रूम ने सबसे बड़े ऑनलाइन ऑटोमोबाइल मार्केट के तौर पर अपनी स्थिति को साबित किया है, जिस पर 500 शहरों के 2.5 लाख कार डीलर रजिस्टर्ड है। मासिक विजिटर्स की संख्या 2.7 करोड़ है। कंपनी का लक्ष्य 2018 के अंत तक सकल व्यापार मूल्य (ग्रॉस मर्केटडाइज वैल्यू) को 1.4 अरब डॉलर और 2019 के अंत तक 3.4 अरब डॉलर तक लेकर जाना है। कंपनी 2019 के अंत तक आईपीओ लाने की योजना बना रही है।

ड्रूम के संस्थापक और सीईओ संदीप अग्रवाल ने कहा ,”हमें खुशी है कि टोयोटा सुशो कॉर्पोरेशन जैसे बड़े निवेशक इस दौर में हमारे साथ खड़े हुए हैं। यह साझेदारी भारत और अंतरराष्ट्रीय स्तर पर, ड्रूम की विकास क्षमता बढ़ाने में प्रमुख भूमिका निभाएगी। हम भाग्यशाली हैं कि लाइटबॉक्स, बीनेक्स्ट और बीनोस का हमें दीर्घकालिक समर्थन मिला है। पिछले चार साल वे हमें सपोर्ट कर रहे हैं। ड्रूम के आगामी अंतरराष्ट्रीय विस्तार की पृष्ठभूमि पर, हम एलिसन इन्वेस्टमेंट के साथ साझेदारी के लिए उत्साहित हैं।”

–आईएएनएस

About the author

समय धारा

Add Comment

Click here to post a comment