breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराज्यों की खबरें
Trending

1st May : 60 साल का हुआ महाराष्ट्र-गुजरात, जानियें क्यों मनाया जाता है साथ ही कामगार दिवस

1st मई महाराष्ट्र-गुजरात और कामगार दिवस पर देशवासियों को बधाई

1st-may maharashtra-day gujarat-day-international-labor-day celebrate-today

1 मई, (समयधारा) : विश्व सहित देश भर में कोरोना का संकट कम होने का नाम ही नहीं ले रहा l

इस बीच हर साल की तरह इस साल भी एक मई को महाराष्ट्र दिवस – गुजरात दिवस और इंटरनेशनल कामगार दिवस है l 

देशवासियों को इन सब दिवस की शुभकामनाएँ  l

आज महाराष्ट्र डे  गुजरात डे और कामगार डे पर विभिन्न लोगों ने शुभकामनाएं संदेश दिए है l

1st-may-maharashtraday-gujaratday-internationallaborday-celebrate-today
1st मई महाराष्ट्र-गुजरात और कामगार दिवस पर देशवासियों को बधाई

देश के  प्रधानमंत्री मोदी ने मराठी में ट्वीट करते हुए महाराष्ट्र डे पर शुभकामनाएँ दी l

उन्होंने कहा महाराष्ट्र दिवस के अवसर पर महाराष्ट्र के भाइयों और बहनों को मेरी शुभकामनाएं। भारत को देश के विकास में महाराष्ट्र के महत्वपूर्ण योगदान पर गर्व है। मैं आने वाले वर्षों में राज्य की प्रगति और समृद्धि के लिए प्रार्थना करता हूं। जय महाराष्ट्र!

(महाराष्ट्र दिनानिमित्त महाराष्ट्र राज्यातल्या बंधू- भगिनींना माझ्या शुभेच्छा. देशाच्या जडणघडणीतील महाराष्ट्राच्या भरीव योगदानाचा भारताला अभिमान आहे. येणाऱ्या काळात राज्याच्या प्रगती आणि संपन्नतेसाठी मी प्रार्थना करतो. जय महाराष्ट्र !)

वही महाराष्ट्र के  मुख्यमंत्री उद्धव बाला साहेब ठाकरे ने आज मन्त्रालय में महाराष्ट्र दिवस के अवसर पर झंडा फहराया।

1st-may maharashtra-day gujarat-day-international-labor-day celebrate-today

आज महाराष्ट्र राज्य की स्थापना की 60 वीं वर्षगांठ का प्रतीक है।

मुख्यमंत्री उद्धव बालासाहेब ठाकरे, छत्रपति शिवाजी महाराज द्वारा ध्वजारोहण के बाद, भारत रत्न डॉ। उन्होंने बाबासाहेब अम्बेडकर और राजमाता जीजाऊ के चित्रों को पुष्प अर्पित किए।

महाराष्ट्र राज्य की वर्षगांठ के अवसर पर, मुख्यमंत्री उद्धव बाला साहेब ठाकरे ने आज हुतात्मा चौक पर उनके स्मारक पर पुष्पांजलि अर्पित कर एकजुट महाराष्ट्र के निर्माण के लिए अपने प्राणों की आहुति देने वाले शहीदों को नमन किया।

1st-may maharashtra-day gujarat-day-international-labor-day celebrate-today

वही गुजरात दिवस पर प्रधानमंत्री मोदी ने गुजराती में ट्वीट कर शुभकामनाएं दी l उन्होंने कहा 

गुजरात के लोगों को राज्य स्थापना दिवस की शुभकामनाएँ! गुजरात के लोग अपनी मर्दानगी के लिए जाने जाते हैं। गुजरातियों ने कई क्षेत्रों में विशेष योगदान दिया है। गुजरात हमेशा उपलब्धियों के नए शिखर पर है … जय जय गरवी गुजरात!

(ગુજરાતની જનતાને રાજ્યના સ્થાપના દિવસની ખૂબ ખૂબ શુભેચ્છાઓ ! ગુજરાતની પ્રજા પુરુષાર્થ માટે જાણીતી છે. ગુજરાતીઓએ ઘણાં બધાં ક્ષેત્રોમાં વિશેષ યોગદાન આપ્યું છે. ગુજરાત સદૈવ સિદ્ધિઓનાં નવાં શિખરો સર કરતું રહે એવી મનોકામના… જય જય ગરવી ગુજરાત !)

गुजरात के मुख्यमंत्री विजय रुपानी ने भी गुजरात दिवस पर ट्वीट कर कहा : 

दुनिया भर में रहने वाले सभी गुजरातियों को गुजरात राज्य की कई खुशियाँ! जय जय गरवी गुजरात …

गुजरात स्थापना दिवस के अवसर पर, मैं संकल्प करता हूं कि … मैं मास्क पहने बिना बाहर नहीं जाऊंगा।

मैं सामाजिक दूरी का ध्यान रखूंगा, दो गज के संकल्प का पालन करूंगा। मैं दिन के दौरान अक्सर अपने हाथों को धोता और साफ करता हूं।

1st-may maharashtra-day gujarat-day-international-labor-day celebrate-today

चलियें अब बताते है की क्या महत्व है 1 मई का : 

मई महीने में पहला दिन महाराष्ट्र राज्य के लिए विशेष महत्व रखता है, 

क्योंकि महाराष्ट्र  राज्य का गठन लगभग 60 साल पहले इसी दिन हुआ था l

जब इसे 1960 में बॉम्बे से विभाजित किया गया था। इसी दिन को मनाने के लिए, महाराष्ट्र के लोग इसे महाराष्ट्र दिवस के रूप में मनाते हैं।

महाराष्ट्र दिवस के दिन अंतर्राष्ट्रीय मजदूर दिवस भी मनाया जाता है l 

1950 के दशक के मध्य के दौरान, संयुक्ता महाराष्ट्र आंदोलन के रूप में जाना जाने वाला एक आंदोलन एक अलग मराठी भाषी राज्य की मांग करने लगा l 

जबकि महागुजरात आंदोलन का उद्देश्य गुजराती भाषी लोगों के लिए एक राज्य का गठन करना था।

विरोध और झड़प 1960 में बॉम्बे पुनर्गठन अधिनियम के साथ समाप्त हो गया l 

भारत की संसद द्वारा पारित अधिनियम ने गुजरात और महाराष्ट्र को आधुनिक राज्यों के रूप में स्थापित किया l 

 गांधीनगर को गुजरात और मुंबई को महाराष्ट्र  की राजधानियों के रूप में मान्यता मिली।

1st-may maharashtra-day gujarat-day-international-labor-day celebrate-today

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

9 − 1 =

Back to top button