breaking_newsHome sliderअपराधदेश

रंजीत हत्याकांड : पत्नी ने दो साथियों संग कराई थी हत्या

फिरोजाबाद, 20 मार्च : शिकोहाबाद के गंगा नगर निवासी रंजीत बघेल की 12 जनवरी की रात में हत्या कर दी गई थी। दूसरे दिन सुबह मैनपुरी रोड पर ग्राम बनीपुरा के निकट आलू के खेत में रंजीत की लाश बरामद हुई थी। पुलिस ने इस हत्याकांड का खुलासा करते हुए हत्या में शामिल मृतक की पत्नी, प्रेमी व उसके दो साथियों को गिरफ्तार कर हत्या में प्रयुक्त तमंचा व मारुति ईको बैन भी बरामद कर ली है। एसएसपी ने पुलिस पार्टी को 5 हजार रुपये इनाम दिया है। 

एसएसपी अजय कुमार ने वार्ता के दौरान बताया कि मृतक रंजीत की पत्नी रेनू का शादी से लगभग 10 माह पूर्व ब्रजेश बघेल से उसके गांव में कथा में मुलाकात हुई थी। उसके बाद दोनों के मध्य मोबाइल से बातचीत शुरू हो गई। दोनों के मध्य प्रेम हो गया लेकिन रिश्ते के चलते शादी नहीं हो सकती थी। तब ब्रजेश ने रेनू की शादी आवगंगा रोड शिकोहाबाद निवासी देव सिंह के पुत्र रंजीत से करा दी। मृतक रंजीत शराब का आदी था। इससे उसकी पत्नी रेनू परेशान रहने लगी। रेनू अपनी बड़ी बहन शारदा की ससुराल एटा जनवरी माह में गई थी। उसने 9 जनवरी को फोन से अपने प्रेमी ब्रजेश को भी वहीं बुला लिया। वहीं दोनों ने रंजीत की हत्या की योजना बनाई। 10 जनवरी को ब्रजेश अपने गांव वापस चला गया। इसके बाद रेनू अपने मायका फिरोजाबाद चली गई। 

ब्रजेश ने अपने गांव से ही मारुति ईको बैन के चालक अनिल पुत्र ओमप्रकाश बघेल से संपर्क कर गाड़ी को एक हजार रुपये में तय किया तथा अपने परिचित सुशील उर्फ टिन्नी पुत्र भारत सिंह बघेल को हत्या की सुपारी देते हुए 30 हजार की रकम तय की। 12 जनवरी को योजना के मुताबिक शाम 7 बजे तीनों ईको गाड़ी से शिकोहाबाद मैनपुरी चौराहा पर आए। ब्रजेश ने पहले से ही फर्जी आईडी से खरीदी गई सिम से मृतक रंजीत को फोन कर बुला लिया। इसके बाद चारों गाड़ी में बैठ कर चल दिए। 

मैनपुरी रोड पर कुछ दूरी पर चलने के बाद सुशील ने तमंचे की बट से रंजीत के सिर पर प्रहार करना शुरू कर दिया और उसकी मौत होने के बाद तीनों ने मिलकर उसके शव को ग्राम बनीपुर के पास एक आलू के खेत में फेंक दिया और वापस अपने गांव चले गए। वार्ता के दौरान एसपी ग्रामीण विकास कुमार वैद्य, सीओ अजय कुमार, प्रभारी निरीक्षक सोमपाल सैनी भी मौजूद थे।

— आईएएनएस

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

20 − seven =

Back to top button