breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबिजनेसबिजनेस न्यूज
Trending

बड़ी खबर : आपकी छोटी-छोटी सेविंग पर सरकार की कोरोना मार, अब क्या करें..?

बैंकों ने EMI पर दी 3 महीने की छूट, तो दूसरी तरफ बैंकों ने ब्याज दर में की बड़ी कटौती, 30 जून तक सभी वाहनों के लाइसेंस, परमिट जैसे डॉक्यूमेंट्स होंगे मान्य

big-interest-rate-cuts-small-savings-schemes-like-ppf-nsc-kisan-vikas-patra-know-new-rate
नई दिल्ली (समयधारा) कोरोना ने विश्वभर सहित पूरे भारत में कोहराम मचा रखा है l 
इस समय देश में कोरोना के 1600 से भी ज्यादा केस हो गए है l वही  मरने वालों का आकड़ा भी दिनों दिन बढ़ता ही जा रहा है l
इस  बीच सरकार ने 1 लाख 70 हजार करोड़ का राहत पैकेज दे गिरती हुए अर्थव्यवस्था को थोड़ा सहारा दिया l
फिर आरबीआई ने भी बड़ी राहत दी थी l उन्होंने 3 महीने की EMI में छूट दे दी l
कोरोना से कारोबार ठप्प, घबराएँ नहीं..! ये बैंक दे रहे है, कारोबारियों को सस्ता लोन 
फिर एक और तोहफा 30 जून तक सभी वाहनों के लाइसेंस, परमिट जैसे डॉक्यूमेंट्स को मान्य कर दिया l 
अब सरकार ने एक बेहद ही कडा फैसला लिया है l इस फैसले से कई छोटे लोगों को नुकसान होगा l 
सरकार ने मंगलवार को स्मॉल सेविंग्स स्कीम (छोटी बचत योजनाओं) के ब्याज दर में बड़ी कटौती कर दी है।
big-interest-rate-cuts-small-savings-schemes-like-ppf-nsc-kisan-vikas-patra-know-new-rate
कोरोना : अमेरिका ने खोला खजाना, हर अमेरिकी को मिलेगा 90 हजार, बच्चों को 37.5 हजार रुपये
कुछ दिनों पहले RBI ने रेपो रेट 0.75 फीसदी घटाते हुए 4.40 फीसदी कर दिया था।
इसी के बाद सरकार ने स्मॉल सेविंग्स स्कीम के इंटरेस्ट रेट में कमी की है।

live-corona-updates-modi-government-announce-1-lakh-70-thousand-crore-relief-package
live-corona-updates-modi-government-announce-1-lakh-70-thousand-crore-relief-package
सरकार ने अप्रैल 2020-जून 2020 तिमाही के लिए स्मॉल सेविंग्स स्कीम में 0.70 फीसदी से लेकर 1.40 फीसदी तक की कमी की है।
कोरोनावायरस (Coronavirus) के संक्रमण के कारण सिस्टम से लिक्विडिटी कम ना हो, इसलिए RBI ने रेट कट किया था।
#G20 Virtual Summit : 5 ट्रिलियन डॉलर के साथ जंग लड़ेंगे कोरोना से G20 के देश 
big-interest-rate-cuts-small-savings-schemes-like-ppf-nsc-kisan-vikas-patra-know-new-rate

  • किसान विकास पत्र (Kisan Vikas Patra)

सरकार ने किसान विकास पत्र के इंटरेस्ट रेट में 0.70 फीसदी की कमी की है। किसान विकास पत्र 124 महीने यानी 10 साल 4 महीने में मेच्योर होता है। किसान विकास पत्र पर अब 6.9 फीसदी का रिटर्न मिलेगा। पहले इस पर 7.60 फीसदी का ब्याज मिलता था।

  • नेशनल सेविंग्स सर्टिफिकेट (NSC)

सरकार ने NSC का इंटरेस्ट रेट बहुत ज्यादा घटा दिया है। NSC पर अब आपको सिर्फ 6.8 फीसदी रिटर्न मिलेगा जो पहले के मुकाबले 1.10 फीसदी कम है। पहले इस पर 7.90 फीसदी का रिटर्न मिलता था।

RBI Allows Banks to Put EMI on Hold, benefit-for-home-loancar-loanpersonal-loan-all-term-loan, RBI की देशवासियों को बड़ी सौगात, तीन महीने EMI का टेंसन ख़त्म
RBI Allows Banks to Put EMI on Hold, benefit-for-home-loancar-loanpersonal-loan-all-term-loan, RBI की देशवासियों को बड़ी सौगात, तीन महीने EMI का टेंसन ख़त्म
  • पब्लिक प्रोविडेंट फंड (PPF)

आपको अपने PP पर अब 7.1 फीसदी रिटर्न मिलेगा। इसके इंटरेस्ट रेट में सरकार ने 0.80 फीसदी की कमी की है। पहले PPF पर 7.9 फीसदी का रिटर्न मिलता था।
big-interest-rate-cuts-small-savings-schemes-like-ppf-nsc-kisan-vikas-patra-know-new-rate

  • सीनियर सिटिजंस सेविंग्स स्कीम

5 साल वाले सीनियर सिटिजंस सेविंग्स स्कीम का इंटरेस्ट रेट 1.20 फीसदी घटकर 7.4 फीसदी पर आ गया है। पहले इस पर 8.6 फीसदी का रिटर्न मिलता था। हालांकि सेविंग्स डिपॉजिट पर पहले की तरह 4 फीसदी का रिटर्न मिलता रहेगा। सीनियर सिटिजंस स्कीम में ब्याज हर तीन महीने में मिलता है।

  • सुकन्या समृद्धि योजना (SSY)

यह स्कीम खासतौर पर बच्चियों के लिए है। अब इस स्कीम पर सरकार 7.6 फीसदी रिटर्न देगी जहां पहले 8.4 फीसदी देती थी। इसके ब्याज में सरकार ने 0.80 फीसदी की कमी की है।

first ever G20VirtualSummit chaired by KingSalman G20 CoronavirusLockdown COVID2019 StayAtHome, 5 ट्रिलियन डॉलर के साथ जंग लड़ेंगे कोरोना से G20 के देश
5 ट्रिलियन डॉलर के साथ जंग लड़ेंगे कोरोना से G20 के देश
  • रेकरिंग डिपॉजिट

5 साल के रेकरिंग डिपॉजिट के ब्याज दर में सबसे ज्यादा कटौती की गई है। इस पर अब 5.8 फीसदी ब्याज मिलेगा जो पहले के मुकाबले 1.40 फीसदी कम है। पहले इस पर 7.20 फीसदी का रिटर्न मिलता था।
big-interest-rate-cuts-small-savings-schemes-like-ppf-nsc-kisan-vikas-patra-know-new-rate
5 साल के टाइम डिपॉजिट पर ब्याज दर 7.7 फीसदी से घटकर 6.7 फीसदी पर आ गया है।
वहीं तीन साल, दो साल और एक साल के टाइम डिपॉजिट के लिए रिटर्न 6.9 फीसदी से घटकर 5.5 फीसदी पर आ गया है।
इससे पहले, EMI को लेकर RBI के फैसले को बैंकों ने अमल में ले लिया l करीब-करीब 13 बैंकों ने इस पर घोषणा भी कर दी l 
बैंकों ने लोन की EMI नहीं देने की सुविधा सभी ग्राहकों को देने का फैसला लिया है।
एक -एक कर बैंकों ने गाइडलाइंस जारी करना शुरू कर दिया है।
इन गाइडलाइंस के मुताबिक अगर आप मार्च की EMI दे चुके हैं तो सिर्फ 2 महीने तक के लिए छूट मिलेगी।
बैंकों लोन की EMI पर अब तक कई सरकारी बैंकों ने गाइडलाइंस जारी की है। IBA भी जल्द गाइडलाइंस जारी करने जा रहा है।
बता दें कि लॉकडाउन और कोरोना संकट को देखते हुए  RBI ने 3 महीने तक के लिए EMI से छूट का एलान किया था।
big-interest-rate-cuts-small-savings-schemes-like-ppf-nsc-kisan-vikas-patra-know-new-rate
ये  छूट Housing Loan, Loan Against Property, Auto Loan, Education Loan, Personal Loan जैसे लोन पर लागू होगी।
EMI नहीं देने की सुविधा सभी कर्जदारों पर लागू होगा। अगर EMI नहीं देनी है तो उसके लिए लोन धारकों को कुछ नहीं करना है।
अगर कर्ज धारक लोन की किस्त (EMI) देना चाहते हैं तो उन्हें अपने बैंकों को सूचित करना होगा।
बता दें कि  लोन की EMI पर मिलना वाला ये छूट 1 मार्च 2020 से 31 मई 2020 तक पड़ने वाली EMI पर  ही लागू होगा। 
अगर मार्च में EMI का भुगतान बैंक को किया है तो लोन की EMI पर मिलना वाली छूट अप्रैल से मई तक मिलेगी।
इससे आपके लोन की अवधि 3 महीने बढ़ जाएगी। 3 महीने के दौरान लगने वाला ब्याज आगे वसूला जाएगा।
आगे की EMI के साथ ब्याज को एडजस्ट किया जाएगा। बता दें कि 3 महीने तक लोन की EMI ना भरने पर क्रेडिट रेटिंग पर कोई असर नहीं पड़ेगा।
गौरतलब हो कि 1 मार्च से पहले का कोई Default/Overdue है तो उस रकम का भुगतान ब्याजकर्ता को बैंक को चुकाना होगा।
पुराने बकाये का भुगतान नहीं टाला जाएगा। भुगतान नहीं करने पर पेनल्टी लगेगी।
big-interest-rate-cuts-small-savings-schemes-like-ppf-nsc-kisan-vikas-patra-know-new-rate
अगर आपके ड्राइविंग लाइसेंस की वैलिडिटी खत्म हो गई है या फिर आपके किसी वाहन के कोई डॉक्यूमेंट्स की वैलिडिटी 1 फरवरी या इसके बाद खत्म हो रही है,
तो अब आपको परेशान होने की जरूरत नहीं है। रोड ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री ने इस वैलिडिटी को बढ़ाकर 30 जून कर दिया है।
कहने का मतलब यह हुआ कि अब आपके सभी डॉक्यूमेंट्स 30 जून तक मान्य होंगे।
कोरोना वायरस की वजह से सरकार ने देश को 21 दिन के लिए लॉकडाउन घोषित कर दिया है।
ऐसे में सरकारी एडवाइजरी का पालन करते हुए राज्यों ने देशभर के ट्रांसपोर्ट ऑफिस बंद कर दिए हैं।
इसकी वजह से आम नागरिक अपने वाहनों का रजिस्ट्रेशन, ड्राइविंग लाइसेंस, परमिट और फिटनेस सर्टिफिकेट रिन्यू नहीं करा पा रहे हैं।
लिहाजा रोड ट्रांसपोर्ट मिनिस्ट्री ने सभी राज्यों से अनुरोध किया है कि सभी प्रकार के डॉक्यूमेंट्स को वैलिडिटी 30 जून तक बढ़ा दिया जाए।
ऐसे में आपके ड्राइविंग लाइसेंस, रजिस्ट्रेशन, परमिट और फिटनेस सार्टिफिकेट की वैलिडिटी अगर 1 फरवरी या इसके बाद खत्म हो रही है
big-interest-rate-cuts-small-savings-schemes-like-ppf-nsc-kisan-vikas-patra-know-new-rate
तो आपके डॉक्यूमेंट्स की वैलिडिटी 30 जून तक रहेगी। यानी आपके सभी डॉक्यूमेंट्स 30 जून तक मान्य होंगे।
इसका सबसे बड़ा फायदा उन ट्रकों को होगा, आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति में लगे हुए हैं।
इससे तकरीबन 23 करोड़ वाहन मालिकों और 1.2 ट्रकों को राहत मिलने की उम्मीद जताई जा रही है।
बता दें कि केंद्र सरकार ने कुछ जरूरी चीजों की आपूर्ति के लिए 30 जून, 2020 तक आवश्यक वस्तु घोषित (Essential Commodities Act,1955) लागू कर दिया है।
इसका मतलब यह हुआ कि 30 जून तक आवश्यक वस्तुओं की आपूर्ति करने वाली गाड़ियों को कानूनी छूट मिलती है।
( इनपुट मनीकण्ट्रोल हिंदी से भी )
big-interest-rate-cuts-small-savings-schemes-like-ppf-nsc-kisan-vikas-patra-know-new-rate

Show More

shweta sharma

श्वेता शर्मा एक उभरती लेखिका है। पत्रकारिता जगत में कई ब्रैंड्स के साथ बतौर फ्रीलांसर काम किया है। लेकिन अब अपने लेखन में रूचि के चलते समयधारा के साथ जुड़ी हुई है। श्वेता शर्मा मुख्य रूप से मनोरंजन, हेल्थ और जरा हटके से संबंधित लेख लिखती है लेकिन साथ-साथ लेखन में प्रयोगात्मक चुनौतियां का सामना करने के लिए भी तत्पर रहती है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

two × five =

Back to top button