breaking_news
Trending

अस्थमा-क्या आपके शरीर में भी है जमा…? पायें जड़ से छुटकारा

Home Remedies Asthma-Dama-health tips of curing Asthma 

नई दिल्ली,21 अप्रैल : एक बार फिर समयधारा अस्थमा को लेकर आपको जागरूक करने आया है 

कहते है की हर बीमारी का ईलाज होता है l बस हमें सही जानकारी नहीं होती l

दिल्ली जैसे बड़े शहरों में तरह -तरह की बीमारियों ने लोगों को परेशान कर रखा हैं l

दिल्ली में बहुत से ऐसे लोग है जिन्हें दमा-अस्थमा जैसी बीमारीयों ने घेर रखा है l

अब अस्थमा हो भी क्यों न ..! वायु प्रदुषण में दिल्ली का नाम सबसे ऊपर आता है l

इसी वजह से दिल्ली में अस्थमा जैसी बड़ी समस्या आम बात है l

Home Remedies Asthma-Dama-health tips of curing Asthma 

आपको दिल्ली में ऐसे बहुत से लोग मिल जायेंगे जो इस बीमारी से ग्रसित है l

#दिल्ली प्रदूषण : स्मॉग स्वास्थ्य के लिये बहुत हानिकारक,स्मॉग से होने वाली बीमारियों व बचाव के उपाय

पर सही इलाज नहीं मिलने के कारण यह बीमारी लाइलाज होती जा रही है l

सही समय पर सही इलाज ही इस बीमारी का रामबाण उपाय है l

अगर आपको अस्थमा है तो सबसे पहले अपने बच्चों में अस्थमा न हो उस तरफ ध्यान दीजियें l

भारत जैसे देशों में यह आम धारणा है की अस्थमा अनुवांशिक रोग है l

तो आप पहले इस मिथक से परे हटकर सोचेंगे और अगर फिर भी मिथक नहीं दिल से जा रहा है

तो अपने बच्चों को इससे दूर रखने के लिए यहाँ बतायी गयी जानकारी पर गौर फरमाएं l 

आज हम आपको अस्थमा को रोकने व उसे जड़ से खत्म करने के बारे में जानकारी देंगे l 

अस्थमा : क्या आपके शरीर में भी है जमा...? पायें जड़ से छुटकारा
अस्थमा : क्या आपके शरीर में भी है जमा…? पायें जड़ से छुटकारा

डीजल के धुएं से जो 0.1 माइक्रोन से भी कम कण निकलते है वो फेफड़ों में गहराई तक समा जाते है

Home Remedies Asthma-Dama-health tips of curing Asthma 

बादाम, मछली जैसे सैलमॉन, पटसन के बीज व सोयाबीन तेल में मौजूद जरूरी पॉलीअनसेचुरेटेड वसा

अम्ल आपके बच्चों के आहार में शामिल होकर उन्हें एलर्जी संबंधी बीमारियों से दूर रखेंगे।

इनका सेवन आपके बच्चे को खास तौर से दमा (अस्थमा) व नाक में जलन व श्लेष्मा झिल्ली में

सूजन के जोखिम को रोकने में कारगर होगा। 

दमा व नाक के एलर्जी संबंधी रोग से बच्चों के बचपन पर असर पड़ता है।

 कम करना चाहते है दमा, तो घर लें इस जगह

Home Remedies Asthma-Dama-health tips of curing Asthma 

इसकी वजह या तो आनुवांशिक होती है या पर्यावरणीय कारकों का असर होता है।

शोध के परिणाम बताते हैं कि पॉलीअनसेचुरेटेड वसा अम्लों की रक्त में बढ़ी मात्रा

बच्चों में एलर्जी संबंधी रोगों के जोखिम को कम करने से जुड़ी हुई है।

पॉलीअनसेचुरेड वसीय अम्ल में ओमेगा-3 व ओमेगा-6 वसा अम्ल आते हैं, जिन्हें एराकिडोनिक अम्ल कहते हैं।

ऐसे बच्चों में, जिनमें आठ साल की उम्र में ओमेगा 3 का उच्च रक्त स्तर होता है,

उनमें 16 साल की उम्र में दमा या नाक में जलन या श्लेष्मा झिल्ली में एलर्जी के विकसित होने की संभावना कम होती है।

उच्चस्तर वाले ओमेगा-6 वसा अम्ल जिसे एराकिडोनिक अम्ल कहते हैं,

यह 16 साल की उम्र में दमा के कम जोखिम से जुड़ा हुआ है।

स्वीडेन के कारोलिंस्का इंस्टीट्यूट की शोधकर्ता एना बर्गस्ट्रोम ने कहा,

“चूंकि एलर्जी की अक्सर शुरुआत बचपन के दौरान होती है, 

Home Remedies Asthma-Dama-health tips of curing Asthma 

ऐसे में इस शोध का मकसद पर्यावरण व जीवनशैली का एलर्जी संबंधी बीमारियों पर असर देखना था।” 

गुड़ और काले तिल के लड्डू खाने से सर्दी में अस्थमा की परेशानी नहीं होती है।

पांच ग्राम गुड़ को इतने ही सरसों के तेल में मिलाकर खानेसे श्वास रोग से छुटकारा मिलता है।

गुड़ की तासीर गर्म है, इसलिए इसका सेवन जुकाम और कफ से आराम दिलाता है।

जुकाम के दौरान अगर आप कच्चा गुड़ नहीं खाना चाहते हैं तो चाय या लड्डू में भी इसका इस्तेमाल कर सकते हैं।

Home Remedies Asthma-Dama-health tips of curing Asthma 

 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: