breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंलाइफस्टाइल
Trending

इस वर्ष सावन में नहीं होगी कांवड़ यात्रा, कोरोना संक्रमण के चलते लिया गया फैसला

धर्मगुरुओं तथा कांवड़ संघों ने कोविड-19 के चलते इस साल श्रावण मास में कांवड़ यात्रा को स्थगित रखने का प्रस्ताव दिया है...

Kawad Yatra to be cancelled amid COVID-19 pandemic this year  

लखनऊ: कोरोनावायरस (Coronavirus) ने वह सब भी करा दिया जो अमूनन हमारे देश में होता नहीं था। कोविड-19(COVID-19) के कारण इस वर्ष सावन महीने में कांवड़ यात्रा नहीं होगी।

शनिवार देर रात उत्तर प्रदेश(Uttar Pradesh)के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ, हरियाणा के मुख्मयंत्री मनोहर लाल खट्टर और उतराखंड के मुख्यमंत्री त्रिवेंद्र सिंह रावत ने वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए इस वर्ष श्रावण मास (Sawan) की कांवड़ यात्रा को स्थगित करने पर सहमति जताई।

प्रवक्ता ने बताया कि तीनों मुख्यमंत्रियों ने कहा कि उनके-उनके राज्य में धर्मगुरुओं तथा कांवड़ संघों ने कोविड-19 के चलते इस साल श्रावण मास में कंवर यात्रा (KanwarYatra) को स्थगित रखने का प्रस्ताव दिया है।

इन प्रस्तावों पर विचार करते हुए तीनों मुख्यमंत्रियों ने व्यापक जनहित में इस वर्ष कांवड़ यात्रा (Kawad Yatra)  को स्थगित रखे जाने का निर्णय लिया ।

उन्होंने बताया कि हरियाणा (Haryana) एवं उत्तराखण्ड (Uttarakhand) के मुख्यमंत्रियों के साथ वार्ता के बाद योगी ने वीडियो कांफ्रेंस के माध्यम से सभी अपर पुलिस महानिदेशक जोन तथा मण्डलायुक्तों से बातचीत की।

मुख्यमंत्री ने कहा कि अधिकारी स्थानीय स्तर पर अपने-अपने क्षेत्रों में धर्मगुरुओं, कांवड़ संघों, शांति समितियों आदि से संवाद स्थापित कर लें।

महामारी के चलते कोविड-19 (COVID-19) प्रोटोकॉल का पूर्णतः पालन करते हुए किसी भी जगह पर पांच से अधिक लोग एकत्रित न होने पाएं ।

‘दो गज की दूरी, मास्क जरूरी’ का पालन हर हाल में सुनिश्चित किया जाए।

Kawad Yatra to be cancelled amid COVID-19 pandemic this year  

उन्होंने कहा कि धर्मगुरुओं और कांवड़ संघों से वार्ता के बाद उनकी अपील को जनता तक पहुंचाने और प्रचारित-प्रसारित करने के भी कार्य किए जाएं ।

स्थानीय स्तर पर शिवालयों में जलाभिषेक के लिए पांच या उससे कम की संख्या में जाने वाले श्रद्धालुओं की सुरक्षा और सावधानी के लिए व्यवस्था की जाए।

गौरतलब है कि एक अगस्त को ईद-उल-अज़हा (बकरीद) का पर्व है । मुख्यमंत्री ने निर्देश दिए कि इस पर्व पर कोई भीड़भाड़ न हो।

सभी जनपदों में धर्मगुरुओं से संवाद स्थापित करते हुए यह सुनिश्चित किया जाए कि बकरीद (Bakrid) पर किसी भी धार्मिक स्थल पर पांच से अधिक व्यक्ति एकत्र न होने पाएं ।

Kawad Yatra to be cancelled amid COVID-19 pandemic this year  

योगी(Chief Minister Yogi Adityanath)ने कहा कि कोरोनावायरस संक्रमण काल में आने वाले सभी त्योहारों के दौरान सभी समुदायों के लोगों को जागरूक किया जाए।

उन्होंने कहा कि प्रत्येक स्तर पर संक्रमण के प्रति जागरूकता उत्पन्न की जाए।

प्रमुख स्थानों, बाजारों तथा चौराहों आदि पर लाउडस्पीकरों के माध्यम से लोगों को कोरोना वायरस से बचाव की जानकारी दी जाए ।

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

Kawad Yatra to be cancelled amid COVID-19 pandemic this year  

 

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

2 × 5 =

Back to top button