breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

Rajasthan Politics: अशोक गहलोत बहुमत दिखाने को तैयार,राज्यपाल कर रहे इंकार

कांग्रेस के विधायक राजभवन में ही धरने पर बैठ गए है। अब कल शनिवार को सुबह 11 बजे सभी जिला मुख्यालयों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा धरना प्रदर्शन किया जायेगा...

 Rajasthan Political Crisis Live Updates

जयपुर: राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत विधायकों संग राजभवन पहुंच गए है। हालांकि राज्यपाल उनसे अकेले में मिल रहे है और साथ गए कांग्रेस के विधायक राजभवन में ही धरने पर बैठ गए है। अशोक गहलोत राज्यपाल से बहुमत परीक्षण कराने के लिए विधानसभा का सत्र बुलाने की मांग कर रहे है।

हालांकि राजस्थान के राज्यपाल कलराज मिश्रा ने बोला है कि अभी मामला सुप्रीम कोर्ट में लंबित है। धरने पर बैठे विधायकों से ने बात की है। लेकिन कांग्रेस विधायक राजभवन में धरने पर बैठ गए है और हाउस बुलाओं…हाउस बुलाओं…के नारे लगाएं जा रहे है।

इस बीच थोड़ी देर के लिए बाहर आकर सीएम अशोक गहलोत ने कहा है कि ऐसा पहली बार है कि जब सत्तापक्ष चाहता है कि विधानसभा सत्र बुलाया जाएं और विपक्ष इससे भाग रहा है।

हालांकि सीएम हाउस में टेंट बुला लिए गए है। सभी विधायक राजभवन के मैदान में धरने पर बैठे है और मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने स्पष्टतौर पर कहा है कि जब तक राज्यपाल महोदय पत्र नहीं सौंपते हैं तब तक धरना जारी रहेगा।

अब कल शनिवार को सुबह 11 बजे सभी जिला मुख्यालयों पर कांग्रेस कार्यकर्ताओं द्वारा धरना प्रदर्शन किया जायेगा।

इससे पहले,

राजस्थान हाईकोर्ट ने सचिन पायलट (Sachin Pilot gets relief) खेमे को स्पीकर के नोटिस पर राहत दे दी है और कोर्ट ने यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया है।

इससे राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत और पूर्व उपमुख्यमंत्री सचिन पायलट के बीच (Sachin Pilot vs Ashok Gehlot) सियासी शह और मात का खेल और ज्यादा दिलचस्प हो गया है।

खासकर जब अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने मीडिया को संबोधित करते हुए बताया कि उनके पास पूर्ण बहुमत (Majority) है और वह राजस्थान के गवर्नर (Rajasthan Governor) से विधानसभा सत्र बुलाने का बार-बार अनुरोध कर रहे है

ताकि कोरोनाकाल (Coronavirus) में इस तरह की अनिश्चितता से जनता को नुकसान न हो लेकिन राज्यपाल विधानसभा सत्र बुलाने को तैयार नहीं है चूंकि उनपर ऊपर से दबाव है।

 Rajasthan Political Crisis Live Updates

इतना ही नहीं, राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Rajasthan CM Ashok Gehlot) ने कहा कि वह अपने विधायकों संग राजभवन जा रहे है और सब मिलकर एक बार फिर राज्यपाल से विधानसभा सत्र बुलाने की मांग करेंगे।

अगर राज्यपाल नहीं मानें तो फिर हो सकता है कि जनता राजभवन की ओर कूच करें और इसे हम नहीं रोक सकेंगे।

उधर मीडिया रिपोर्ट्स के हवाले से खबर आ रही है कि राज्यपाल ने अशोक गहलोत को आज 2बजे मिलने के लिए बुलाया है।

 Rajasthan Political Crisis Live Updates
हालांकि अब अशोक गहलोत अपने विधायकों संग राज्यपाल से मिलने राजभवन पहुंच रहे है।

इससे पहले सूत्रों से खबर आई कि राज्यपाल ने साफ कह दिया है कि फिलहाल विधानसभा सत्र नहीं बुलाया जा सकता है चूंकि कुछ विधायकों को कोरोनावायरस हो गया है।

गौरतलब है कि शुक्रवार को राजस्थान हाईकोर्ट (Rajasthan High Court) ने सचिन पायलट कैंप की याचिका पर सुनवाई करते हुए अहम फैसला सुनाया। इस फैसले में कोर्ट ने यथास्थिति बरकार रखने के निर्देश दिए है।

इससे सचिन पायलट कैंप को बड़ी राहत मिल गई है। चूंकि राजस्थान हाईकोर्ट ने विधानसभा अध्यक्ष के नोटिस पर रोक लगा दी है और सचिन पायलट कैंप की याचिका को मंजूर कर लिया है।

 Rajasthan Political Crisis Live Updates

राजस्थान हाईकोर्ट से राहत नहीं मिलने पर अशोक गहलोत (Ashok gehlot) शक्ति प्रदर्शन करने को पूरी तरह से तैयार है और इसलिए वह बार-बार राज्यपाल (Governor) से विधानसभा सत्र बुलाने की मांग कर रहे है जिसे फिलहाल राज्यपाल ने खारिज कर दिया है।

गौरतलब है कि राजस्थान हाईकोर्ट में सचिन पायलट(Sachin Pilot) कैंप की ओर से एक याचिका लगाकर केंद्र को इस मामले में पक्षकार बनाने की अपील की गई थी।

जिसे स्वीकार कर लिया गया। चूंकि सभी दलीलें सुने जाने के बाद केंद्र को इस मामले का पक्षकार बनाया गया था तो हाईकोर्ट अब केंद्र सरकार का भी पक्ष सुनेगा।

उधर गहलोत कैंप के विधायक बाबूलाल बैरवा की तबियत बिगड़ गई है। सांस लेने की तकलीफ के चलते उन्हें SMS में भर्ती कराया गया।

 Rajasthan Political Crisis Live Updates

फेयरमोंट होटल से एम्बुलेंस के जरिए अस्पताल लाए गए। बाबूलाल बैरवा गहलोत खेमे के विधायक माने जा रहे हैं।

गौर हो कि राजस्‍थान विधानसभा के स्‍पीकर सीपी जोशी (CP Joshi) ने सचिन पायलट खेमे के 19 बागी कांग्रेसी विधायकों को अयोग्यता मामले में नोटिस जारी किया था, जिसके बाद सचिन पायलट समेत अन्य ने हाईकोर्ट में अर्जी दाखिल कर आदेश को चुनौती दी थी।

हाई कोर्ट ने स्पीकर को 24 जुलाई तक अयोग्यता मामले की कार्रवाई करने पर रोक लगा दी थी।

 
 
 
 Rajasthan Political Crisis Live Updates

(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen + twelve =

Back to top button