होम > बिजनेस > बिजनेस न्यूज > केंद्र के कुप्रबंधन,लापरवाह,अजीब नीतियों के कारण देश का आर्थिक विकास बेपटरी हो गया: कांग्रेस
breaking_newsHome sliderबिजनेसबिजनेस न्यूज

केंद्र के कुप्रबंधन,लापरवाह,अजीब नीतियों के कारण देश का आर्थिक विकास बेपटरी हो गया: कांग्रेस

नई दिल्ली, 19 मार्च : केंद्र के नोटबंदी,जल्दबाजी में त्रुटिपूर्ण जीएसटी लागू करने की लापरवाह,विचित्र नीतियों से देश का आर्थिक विकास बेपटरी हो गया: कांग्रेस

कांग्रेस ने रविवार को मोदी सरकार पर जुबानी हमला करते हुए कहा कि देश की अर्थव्यवस्था ‘अज्ञानी व अक्षम नीति निर्माताओं’ के हाथ में है

जिनकी ‘लापरवाह और अजीब नीतियों’ के कारण देश का आर्थिक विकास बेपटरी हो गया है। पार्टी ने कहा कि केंद्र सरकार की सबसे बड़ी विफलता अर्थव्यवस्था का कुप्रबंधन है।

कांग्रेस के 84वें महाधिवेशन में पूर्व वित्तमंत्री पी. चिदंबरम ने भारत की आर्थिक स्थिति पर एक प्रस्ताव पेश किया।

प्रस्ताव में कहा गया है, “देश की अर्थव्यवस्था अज्ञानी व अक्षम नीति नियंताओं के हाथ में है, जिन्होंने नोटबंदी और जल्दबाजी में त्रुटिपूर्ण वस्तु एवं सेवा कर (जीएसटी) लागू करने जैसे लापरवाह और विचित्र नीतियों से देश के आर्थिक विकास को बेपटरी कर दिया है।”

कांग्रेस ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की अगुवाई में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) सरकार के कार्यकाल में शासन व प्रबंधन संबंधी अव्यवस्थाएं व चूक बहुतायत में हुई हैं।

कांग्रेस ने कहा, “मोदी सरकार को भारत के आर्थिक विकास को नई ऊंचाई पर ले जाने का मौका सुनहरा मौरा मिला था। सभी सितारे पक्ष में थे। 2008 के वैश्विक वित्तीय संकट के बाद देश की अर्थव्यवस्था में स्थायित्व का दौर था, अर्थव्यवस्था चढ़ाव पर थी, तेल की कीमतें कम (100 डॉलर प्रति बैरल से घटकर 40 डॉलर प्रति बैरल) थीं। वैश्विक अर्थव्यस्था में उत्साह था, लोकसभा में पूर्ण बहुमत था। दुखद है, सरकरा ने इतना सुनहरा अवसर खो दिया।”

कांग्रेस ने कहा, “चार साल का कार्य काल पूरा करने के बाद मोदी सरकार के खुद के वार्षिक आर्थिक सर्वेक्षण 2017-18 में सरकार पर गंभीर सवाल उठे।”

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error:
Close