breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबिजनेसबिजनेस न्यूजमनी मंत्रा
Trending

Alert..! अगर आपके पास भी है इन 4 कंपनियों के शेयर तो तुरंत करे यह काम

जानियें आखिर क्यों RELIANCE की इन कंपनियों में INVEST न करें ...! पैसा गया है डूब..!!आगे भी जायेगा डूब..!!!

r-com-reliance-power-jp-associates-suzlon-beware-from-these-share

नई दिल्ली, 14 जून (समयधारा) : Alert..! अगर आपके पास भी है इन 4 कंपनियों के शेयर तो तुरंत करे यह कामl 

जीहाँ, अगर आपके पास इन 4 बड़ी कंपनियों के शेयर है l  तो आपके पैसे सुरक्षित नहीं है l

शायद आपके पैसे डूब जाएँ l इन कंपनियों में निवेश का मतलब है ख़ुदकुशी करना l

हमारे रिसर्च और एक्सपर्ट्स की राय के अनुसार   इन कंपनियों में निवेश का मतलब है जानबूझकर आग में कूदनाl

अगर आपने इन कंपनियों में निवेश किया है तो तुरंत इन कंपनियों से अपना निवेश निकाल ले और अन्य कंपनियों में निवेश करें l 

यह है वो चार कंपनिया 

r-com-reliance-power-jp-associates-suzlon-beware-from-these-share

रिलायंस पॉवर (RELIANCE POWER) : (CURRENT PRICE,  BSE-5.50 / NSE-5.55)

रिलायंस पावर कंपनी का शेयर अभी तक सबसे ज्यादा 413 रुपये गया है और इस समय यह 5.50 रुपये है।

रिलायंस पावर इस समय कर्ज में डूबी हुई कंपनी है। यह कंपनी अंबानी परिवार के अनिल अंबानी की कंपनी है l 

कंपनी पर 27,029 करोड़ रुपये का कर्ज है। वह वर्ष में  3208 करोड़ रुपये ब्याज देती है। कंपनी का वार्षिक घाटा 2832 करोड़ रुपये है। 

रिलायंस पावर के जो प्रोमोटरों है  उनकी कुल हिस्सेदारी का 78.72 प्रतिशत हिस्सा गिरवी है।

यह शेयर 70-80 रुपये प्रति शेयर के भाव से शेयर गिरवी रखे गये हैं।

पिछले दिनों RELIANCE POWER में भारी गिरावट देखने को मिली है।

अगर बात की जाए इसके अभी तक के सबसे बड़े भाव की तो  यह शेयर इसके ऊपरी स्तर जो 413 के आस पास है

इस समय 98.7 प्रतिशत तक नीचे आ गया है । इसका मतलब है की 100 रुपये का निवेश जिसने भी किया था

उसका अभी उसे सिर्फ 1.30 मिल रहा है l  रिलायंस पावर में लिस्टिंग के बाद से आय में कमजोरी आई है।

2019 में घाटे में पहुंची है। अधिक ब्याज से कंपनी के शेयर में दबाव देखा जा रहा है।

r-com-reliance-power-jp-associates-suzlon-beware-from-these-share

रिलायंस कम्युनिकेशन (R COM) : (CURRENT PRICE,  BSE-1.47 / NSE-1.60)

रिलायंस कम्यूनिकेशन का शेयर अभी तक सबसे ज्यादा 845 रुपये है और वर्तमान भाव 1.5O रुपये है।

आर कॉम पर 3027 करोड़ रुपये का कर्ज है। कंपनी का वार्षिक घाटा 7206 करोड़ रुपये है।

आर कॉम में प्रोमोटर हिस्सेदारी का 22 प्रतिशत हिस्सा गिरवी है। 90-100 प्रति शेयर के भाव से हिस्सेदारी गिरवी रखी गई है। 

रिलायंस कम्यूनिकेशन के शेयर ने तो निवेशकों पर बम फोड़ दिया है यह  शेयर अपने ऊपरी स्तरों से 99.8 प्रतिशत तक फिसला है।

शेयर का रिकॉर्ड उच्चतम भाव  845 रुपये था l अब यह सिर्फ 1.47 में मिल रहा है l 

कंपनी की ऑपरेटिंग परफॉर्मेंस में लगातार कमजोरी होती गई है। साल 2015 से मार्जिन में गिरावट जारी है।

इसे सबसे बड़ा झटका एंड्राइड मोबाइल की वजह से एयरटेल-वोडाफोन-आईडिया इत्यादि कंपनियों की वजह से मिला l 

r-com-reliance-power-jp-associates-suzlon-beware-from-these-share

जे पी एसोसिएट्स (JAI PRAKASH ASSOCIATES) : (CURRENT PRICE,  BSE-3.70 / NSE-3.65)

जेपी एसोसिएट्स का शेयर अभी तक सबसे ज्यादा 340 रुपये रहा है और इस समय यह  भाव 3.70 रुपये है।

कंपनी पर 26,425 करोड़ रुपये का भारी कर्ज है। सुजलोन को सालाना 1000 करोड़ रुपये ब्याज का भुगतान करना पड़ता है।

कंपनी का सालाना घाटा 2100 करोड़ रुपये है। जेपी एसोसिएट्स(J P ASS.) में प्रोमोटर हिस्सेदारी का 20 प्रतिशत हिस्सा गिरवी है।

यह हिस्सेदारी 140 रुपये प्रति शेयर के भाव से गिरवी रखी गई है।

इस कंपनी का शेयर अपने ऊपरी स्तरों से 98.8 प्रतिशत तक नीचे गिर गया है l शेयर का सबसे बड़ा भाव  340 रुपये था l 

इसलिए ऊपरी स्तरों से इतना गिरने के बाद इस कम्पनी में इन्वेस्ट करना या इस कंपनी में

और ज्यादा मुनाफे की जगह नहीं है यहाँ से यह और टूटेगा। जेपी एसोसिएट्स के ऑपरेटिंग परफॉर्मेंस में लगातार कमजोरी आती गई है।

साल 2015 से कंपनी घाटे में आई। 5 साल में कंपनी की बिक्री आधी हुई है। इस कंपनी ने अपने नए पप्रोजेक्ट पर भी ध्यान नहीं दिया है l 

r-com-reliance-power-jp-associates-suzlon-beware-from-these-share

सुजलोन (SUZLONE ENERGY LTD) : (CURRENT PRICE,  BSE-4.22 / NSE-4.20)

सुजलॉन का का शेयर अभी तक सबसे ज्यादा 413 रुपये तक गया है,  जबकि इस समय का भाव 4.20 रुपये है।

कंपनी पर बहुत ही भारी कर्ज है। कंपनी पर 11,605 करोड़ रुपये का कर्ज है।

वार्षिक 1270 करोड़ का ब्याज भुगतान कंपनी को करना पड़ता है। कंपनी को वार्षिक  घाटा 1570 करोड़ रुपये हो रहा है।

कंपनी में प्रमोटर की कुल हिस्सेदारी का 76.34 प्रतिशत हिस्सा गिरवी है।

उन्होंने यह हिस्सेदारी 105 से 110 रुपये प्रति शेयर के भाव से गिरवी राखी हैं।

कंपनी ने पिछले 7 से 8 साल से नतीजों में  गिरावट दिखाई है। 2017 से कंपनी अपने ऑपरेटिंग घाटे में पहुंची है। 

r-com-reliance-power-jp-associates-suzlon-beware-from-these-share

(इनपुट सोशल मीडिया से भी)

Yamaha लाया नया इलेक्ट्रिक स्कूटर EC-05, बैटरी अलग कर सकते है चार्ज 

Post Office की यह योजनायें आपकी छोटी सेविंग को बना देगी कुबेर का खजाना

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: