breaking_newsHome sliderदेशराज्यो की खबरें

मुस्लिम महिलाओं को समानता का हक; तीन तलाक को राजनीतिक व साम्प्रदायिक मुद्दा न बनाएं: पीएम मोदी

महोबा: पहली बार तीन तलाक के मुद्दे पर पीएम मोदी ने अपनी चुप्पी तोड़ी और अक्रामक अंदाज में कहा कि तीन तलाक को हिंदू-मुस्लिम का मुद्दा न बनाएं। मुस्लिम महिलाओं के साथ साम्प्रदायिकता के आधार अन्याय नहीं होना चाहिए। मीडिया भी इसे राजनीतिक और साम्प्रदायिक विषय न बनाकर कुरान का ज्ञान रखने वालों को बैठाकर डिबेट करवाएं।

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री मोदी महोबा जिसे बुंदेलों की धरती कहा जाता है, में परिवर्तन रैली में बोल रहे थे। पीएम ने कहा कि तीन तलाक के मुद्दे पर कुछ पार्टियां मुस्लिम महिलाओं के साथ अन्याय कर रही है और इसे राजनीतिक अमलीजामा पहनाने की कोशिश कर रही है। क्या मुस्लिम बहनों को समानता का अधिकार नहीं मिलना चाहिए।

बकौल पीएम मोदी “ मुसलमान बहनों को क्या अपरध है और कोई तीन तलाक महज फोन पर बोल दे तो उसकी जिंदगी खराब  हो जाती है। उन्हें समानता का हक नहीं मिलना चाहिए। मुस्लिम बहनों ने अदालत में अपने हक की लड़ाई लड़ी है और सुप्रीम कोर्ट ने हमसे हमारा नजरिया पूछा तो हमने कहा मुस्लिम मां-बहनों के साथ साम्प्रदायिकता के आधार पर भेदभाव नहीं होना चाहिए “ उन्होंने आगे कहा कि भारत की मुसलमान महिलाओं को उनका हक दिलाना संविधान के अंतर्गत हमारी जिम्मेदारी है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Close