breaking_newsअन्य ताजा खबरेंएजुकेशनएजुकेशन न्यूजटेक न्यूजटेक्नोलॉजीदेश
Trending

Google ने एनिमेटेड Doodle बनाकर Teachers’ Day 2019 को किया सेलिब्रेट

भारत के सभी शिक्षकों के योगदान और सम्मान को समर्पित गूगल का डूडल (Google Doodle) बेहद ही खास है।

नई दिल्ली,सितंबर:Google Doodle celebrating Teachers’ Day 2019- आपके व्यक्तित्व के सर्वांगीण विकास और जीवन को आकार देने में एक शिक्षक की भूमिका सबसे ज्यादा महत्वपूर्ण होती है।

शिक्षक का हम सभी के जीवन में कितना अहम योगदान है इस भावना का सम्मान करते हुए गूगल ने गुरुवार, 5 सितंबर शिक्षक दिवस पर एक एनिमेटेड डूडल बनाया (Google Doodle celebrating Teachers’ Day 2019) है।

भारत के सभी शिक्षकों (Teachers) के योगदान और सम्मान को समर्पित गूगल का डूडल (Google Doodle) बेहद ही खास है।

गूगल (Google) ने टीचर्स डे (Teachers’ day) पर बनाएं गए डूडल (Doodle) में एक लाल, एनिमेटेड ऑक्टोपस को दर्शाया है

GoogleDoodlecelebratingTeachers'Day2019_optimized

जोकि ब्लैकबोर्ड के सामने खड़ा है। यह अपने जाल का उपयोग गणित के समीकरणों को हल करने, पढ़ने, प्रयोगों का संचालन करने और नोट्स बनाने में करता है।

भारत में, 5 सितंबर को शिक्षक दिवस (Teacher’s day 2019) के रूप में मनाया जाता है ताकि समाज में शिक्षकों द्वारा किए गए योगदान को श्रद्धांजलि दी जा सके।

दरअसल 5 सितंबर (5th September) को महान शिक्षक डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन की जयंती (Dr Sarvepalli Radhakrishnan birth anniversary)है,

जो शिक्षा के कट्टर विश्वासी थे और एक प्रसिद्ध राजनयिक, विद्वान, भारत के राष्ट्रपति और सबसे ऊपर, एक शिक्षक थे।

आज शिक्षक दिवस (Teachers Day) पर न सिर्फ गूगल (Google) बल्कि हम सभी को लिए मौका है

कि हम अपने शिक्षकों को याद करें और विद्यार्थी के समग्र विकास के लिए उनके योगदान की सराहना करें।

राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद 5 सितंबर, गुरुवार को एक समारोह में 2018 के विजेताओं को राष्ट्रीय शिक्षक पुरस्कार (National Teachers’ Awards 2018 winners) प्रदान करेंगे ।

मानव संसाधन विकास मंत्रालय (MHRD) ने उन शिक्षकों की सूची पहले ही जारी कर दी है,

जिन्हें आज राष्ट्रपति द्वारा सम्मानित किया जाएगा। राष्ट्रीय राजधानी में आयोजित होने वाले

कार्यक्रम में देश भर के कुल 46 शिक्षकों को सम्मानित किया जाएगा। 1958 में स्थापित किए गए इस पुरस्कार की यह 61 वीं वर्षगाठ है।

गौरतलब है कि भारत में पहला शिक्षक दिवस समारोह (first teachers day celebration)1962 से शुरू हुआ जब डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन ने भारत के राष्ट्रपति के रूप में सेवा शुरू की।

जब उनके कुछ छात्रों और दोस्तों ने उनसे संपर्क किया और उनसे उन्हें अपना जन्मदिन मनाने की अनुमति देने का अनुरोध किया,

तो उन्होंने कहा, “मेरे जन्मदिन को अलग से मनाने के बजाय, यह मेरा गौरवपूर्ण विशेषाधिकार होगा। यदि 5 सितंबर को शिक्षक दिवस (Teachers Day) के रूप में मनाया जाता है”।

तब से, 5 सितंबर को भारत में शिक्षक दिवस (5th Sep teachers day in India) के रूप में मनाया जाने लगा।

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन पुरस्कार (Dr. Sarvepalli Radhakrishnan Awards)

डॉ. राधाकृष्णन को 1954 में भारत रत्न, भारत के सर्वोच्च नागरिक पुरस्कार से सम्मानित किया गया।

उन्हें कई अन्य प्रतिष्ठित पुरस्कारों के साथ-साथ 1931 में नाइटहुड और 1963 में ब्रिटिश रॉयल ऑर्डर ऑफ़ मेरिट की मानद सदस्यता से सम्मानित किया गया।

डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन को 27 बार नोबेल पुरस्कार के लिए, 16 बार साहित्य में नोबेल पुरस्कार और 11 बार नोबेल शांति पुरस्कार के लिए नामांकित किया गया था।

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: