breaking_newsअन्य ताजा खबरेंएजुकेशनएजुकेशन न्यूजदेशदेश की अन्य ताजा खबरें

अगर स्कूल खुलें तो क्या आप अपने बच्चों को स्कूल भेंजेंगे… ? जानिए सर्वे के चौकानें वाले आंकड़े

कोरोना तेज रफ्तार से बढ़ रहा है, क्या अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिए तैयार हैं?

if-schools-reopen-will-you-send-your-children-to-school know-the-survey-result

नई दिल्ली (समयधारा) : कोरोना काल ने विदेश ही नहीं देश के भी हालात काफी बदल दिए है l

लोगों का सोचने का तरीका बदल गया है l  कोरोना वायरस की महामारी के कारण देश में लॉकडाउन लागू करना पड़ा।

लॉकडाउन ने  जिंदगी जीने का तरिका ही बदल दिया। उद्योग-धंधों पर ब्रेक तो वाहन पर बैन  लग गया।

इसके साथ ही दुकानें, मॉल, सहित  स्कूल-कॉलेज और अन्य शैक्षणिक संस्थानों पर भी ताला लटक गया।

अब धीरे-धीरे जीवन को पटरी पर लाने के लिए सरकार भरकश कोशिश कर रही है।

लिहाजा शायद सरकार सितंबर में स्कूल खोलने पर विचार कर ले । पर  ऐसे में अब सवाल यह भी उठ रहा है कि

जब कोरोना तेज रफ्तार से बढ़ रहा है, क्या अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिए तैयार हैं?

लोकल सर्कल्स (LocalCircles) के एक सर्वे के मुताबिक अभी भी 62 फीसदी अभिभावक अपने बच्चों को स्कूल भेजने के लिए तैयार नहीं है।

if-schools-reopen-will-you-send-your-children-to-school know-the-survey-result

इस सर्वे में पाया गया है कि सिर्फ 6 फीसदी लोग अगले दो महीने में मूवी सिनेमा जाने के लिए तैयार होंगे।

इसके साथ 36 फीसदी लोगों ने ही मेट्रो या लोकल ट्रेन की सवारी करने की बात कही है।

भारत इस समय अनलॉक (unlock) के तीसरे चरण के दौर से गुजर रहा है। चौथा चरण 1 सितंबर से शुरू होने वाला है।

लेकिन सरकार को अभी चौथे चरण के लिए गाइडलाइंस जारी करना बाकी है।

तीसरे चरण के लॉकडाउन में शैक्षणिक संस्थान (educational institutions), लोकल ट्रेन (local trains),

मेट्रो सर्विस (metro services) और सिनेमा हाल (cinema halls) को खोलने की मंजूरी नहीं दी गई थी।

बल्कि सरकार ने तीसरे चरण में जिम (Gym) होटल (Hotel) और रेस्टोरेंट (Restaurant) खोलने की मंजूरी दी थी।

इस सर्वे में देश के 261 जिलों में 25,000 लोगों से बातचीत की गई है। जिसमें 64 फीसदी पुरुष और 36 फीसदी महिलाएं शामिल हैं।

if-schools-reopen-will-you-send-your-children-to-school know-the-survey-result

सर्वे में जब लोगों से पूछा गया कि क्या सरकार 1 सितंबर 2020 से मेट्रो या लोकल ट्रेनों को फिर से शुरू कर देती है ,

तो क्या आप 60 दिनों बाद यात्रा करेंगे। इसमें 36 फीसदी लोगों ने हां में जवाब दिया। जबकि 51 फीसदी लोगों ने नहीं में जवाब दिया।

सर्वे के मुताबिक 13 फीसदी लोगों को इसके बारे कुछ भी निश्चित नहीं है।

सिनेमा हॉल जाने के लिए पूछे जाने पर 3 फीसदी लोगों ने कहा कि सिनेमा हॉल खुल जाने पर कई बार जाएंगे।

वहीं 3 फीसदी लोगों ने कहा कि एक या दो बार ही जाएंगे।

जबकि 77 फीसदी लोगों ने कहा कि खुद को सुरक्षित रखने के लिए वो नहीं जाएंगे और 14 फीसदी लोगों ने कहा कि वो मूवी देखने नहीं जाते हैं।

if-schools-reopen-will-you-send-your-children-to-school know-the-survey-result

रविवार को एक डिजिटल संवाद (Digital Samvad) में दिल्ली के सीएम अरविंद केजरीवाल (Arvind Kejriwal) ने कहा कि

केंद्र सरकार को दिल्ली के साथ अलग से व्यवहार करना चाहिए और ट्रायल बेसिस पर मेट्रो सर्विस फिर से शुरू करने की मंजूरी देनी चाहिए।

दिल्ली में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या में तेजी से गिरावट आई है।

दिल्ली सरकार आवागमन को आसान बनाने के लिए मेट्रो सर्विस को फिर से शुरू करने के पक्ष में है।

(इनपुट एजेंसी से भी)

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

four × four =

Back to top button