क्यों याद किया जायेगा इस बार का ऑस्कर – अवार्डस, विवाद या ट्रम्प ….?

लॉस एंजेलिस, 28 फरवरी : इस बार का ऑस्कर अवार्डस फंक्शन हर बार के समारोह से अलग था, बहुत सी बातें जो पहली बार हुई जैसे किसी भी मुस्लिम अभिनेता को अवार्ड मिलना …! किसी का अवार्ड किसी और को मिलना ….! पहली बार अमेरिका के राष्ट्रपति ट्रम्प की निंदा…! भारत के दिवंगत अभिनेता ओमपुरी को भी याद किया जाना और बहुत सी बातें जो इस समारोह को ख़ास और रोचक बनती है l चलिए कल संपन्न हुए इस समारोह के कुछ रोचक तथ्य   समयधारा आपको  बताते है l 

अकादमी अवार्डस 89वां संस्करण कई मायनों में खास रहा। इस बार कई अश्वेत कलाकारों ने ऑस्कर की सुनहरी ट्रॉफी जीती, एक मुस्लिम अभिनेता ने पहली बार ट्राफी जीती और सर्वश्रेष्ठ फिल्म का खिताब जीतने वाली फिल्म के नाम की घोषणा में चूक हो गई। अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के यात्रा प्रतिबंध के फैसले के खिलाफ समारोह में शामिल न होने वाले ईरानी फिल्मकार असगर फरहादी ने भी अपनी फिल्म ‘द सेल्समैन’ के लिए विदेशी भाषा की सर्वश्रेष्ठ फिल्म का ऑस्कर जीता। फरहादी ने दूसरी बार ऑस्कर जीता है।

समारोह में अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप की नीतियों की एक से अधिक बार आलोचना हुई।

समारोह में दिवंगत भारतीय अभिनेता ओमपुरी को भी अन्य दिवंगत हस्तियों के साथ याद किया गया।

फिल्म ‘ला ला लैंड’ को छह ऑस्कर मिले।

ऑस्कर समारोह रविवार को लॉस एंजेलिस में डॉल्बी थियेटर में आयोजित किया गया, जिसमें भारतीय अभिनेत्री प्रियंका चोपड़ा, भारतीय मूल के ब्रिटिश अभिनेता देव पटेल, उनकी मां और भारतीय बाल कलाकार सनी पवार भी शामिल हुए।

प्रियंका डिजाइनर लेबल ‘राल्फ एंड रुसो’ के खूबसूरत गाउन में बेहद आकर्षक अंदाज में नजर आईं।

फिल्मकार डेमियन शैजल (32) को ‘ला ला लैंड’ के लिए सर्वश्रेष्ठ निर्देशक का पुरस्कार मिला। वह अकादमी पुरस्कार से सम्मानित होने वाले सबसे कम उम्र के निर्देशक हैं।

‘ला ला लैंड’ सर्वश्रेष्ठ फिल्म का खिताब हासिल करने से चूक गई। हालांकि, पहले ‘ला ला लैंड’ को गलती से सर्वश्रेष्ठ फिल्म घोषित कर दिया गया, लेकिन बाद में इस भूल को सुधारते हुए ‘मूनलाइट’ को सर्वश्रेष्ठ फिल्म घोषित किया गया। 

कैसी एफ्लेक को 89वें अकादमी पुरस्कार समारोह में फिल्म ‘मैनचैस्टर बाय द सी’ में अपनी भूमिका के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेता का ऑस्कर मिला।

अभिनेत्री एमा स्टोन ने फिल्म ‘ला ला लैंड’ में अपनी भूमिका के लिए सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के खिताब पर कब्जा जमाया। यह उनका पहला ऑस्कर है। सर्वश्रेष्ठ अभिनेत्री के खिताब के लिए एमा का मुकाबला मेरिल स्ट्रिप, नतालिया पॉर्टमैन, इजाबेल हपर्ट और रुथ नेग्गा के साथ था।

वाएला डेविस को ‘फेंसिस’ के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेत्री का खिताब हासिल हुआ और वह अभिनय के लिए ऑस्कर, एमी और टोनी अवॉर्ड हासिल करने वाली पहली अश्वेत कलाकार बन गईं।

2002 में ऑस्कर जीतने वाली अभिनेत्री हेली बेरी अकादमी अवॉर्ड्स में इस बार विविधता देख खुश हुईं।

उन्होंने कहा, “चीजें बदल रही हैं।”

भारतीय मूल के ब्रिटिश अभिनेता देव पटेल ऑस्कर जीतने से चूक गए। उनके साथ दौड़ में शामिल अमेरिकी अश्वेत अभिनेता महरशाला अली को फिल्म ‘मूनलाइट’ के लिए सर्वश्रेष्ठ सहायक अभिनेता का पुरस्कार मिला। वह ऑस्कर जीतने वाले पहले मुस्लिम अभिनेता बन गए।

89वें अकादमी पुरस्कार समारोह में कई यादगार प्रस्तुतियां भी पेश की गईं।

गायक एवं अभिनेता जस्टिन टिंबरलेक ने अपनी बेहतरीन प्रस्तुति से सभी को झूमने पर मजबूर कर दिया। उन्होंने ऑस्कर में नामित अपने गीत ‘कांट स्टॉप फीलिंग’ से समारोह का आगाज किया।

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close