breaking_newsअन्य ताजा खबरेंविचारों का झरोखासंपादक की कलम से
Trending

Editor Opinion : लोकसभा चुुनाव 2019 में मोदी नित भाजपा की महा जीत के पीछे ये रहे प्रमुख कारण

editor-opinion-modi led BJP-huge victory-reason in LokSabha election result 2019

नई दिल्ली, 23 मई (समयधारा) : बीजेपी की महा जीत के पीछे क्या है कारण  ?

देश में लोकसभा चुनाव 2019 के नतीजे (LokSabha Election 2019 result) आ गए l बीजेपी – एनडीए – या यूँ कहें मोदी सरकार एक बार फिर बड़े बहुमत के साथ जीत कर देश में सरकार बनाने जा रही है l

इस जीत के साथ ही मोदी सरकार एक बार फिर सत्ता पर काबिज  हो गयी l 

देश ही नहीं विदेशों से भी मोदी को बधाईयों की बाढ़ आई है , परन्तु मोदी सरकार की इस जीत के पीछे क्या कारण है l

कैसे मिली बीजेपी को इतनी बड़ी जीत l  क्या यह जीत बीजेपी की जीत है या जनता की हार…?

आप सोच रहें होंगे की हम यह क्या कह रहे है l  मोदी सरकार को तो जनता ने ही चुना है  फिर जनता की हार कैसे …?

मैं आपसे पूछ रहा हूँ कि क्या यह जनता की हार नहीं है..? कैसे नहीं ..? मोदी सरकार फिर चुनकर किस मुद्दे पर आई ? जरा सोचिए।

पहला मुद्दा – देशभक्ति – कट्टर राष्ट्रवाद 

दूसरा मुद्दा – हिंदुत्व 

तीसरा मुद्दा – चुनावी मार्केटिंग (रणनीति) – बिकाऊ मीडिया   

चौथा मुद्दा- विपक्ष की असफलता को जनता तक पहुंचाना, भड़काऊ भाषण 

 

editor-opinion-modi led BJP-huge victory-reason in LokSabha election result 2019

सबसे पहले हम पहले मुद्दे पर बात करते है l राष्ट्रवाद-देशभक्ति, 

मोदी ने देश भर में अपनी चुनावी सभाओं में देशभक्ति को खूब भुनाया l बालाकोट स्ट्राइक पर हमला – सर्जिकल स्ट्राइक आदि कई मुद्दे उन्होंने खूब भुनाएं l

देशवासियों को उन्होंने देशभक्ति और आतंकवाद की खिलाफत के नाम पर वोट करने की अपील की l

फर्स्ट टाइम वोटर को उन्होंने देशभक्ति और पुलवामा शहीदों  के नाम पर वोट करने के लिए कहा l   

मोदी-शाह का यह तीर ठीक निशाने पर लगा l 5 साल की नाकामी – बेरोजगारी – महंगाई, मॉब लिंचिंग, नोटबंदी, त्रुटिपूर्ण जीएसटी आदि सभी मुद्दे जनता के दिमाग से निकाल बाहर फेंके गए l अपनी सारी नाकामियों को उन्होंने  केवल आतंकवाद और राष्ट्रवाद की आड़ में छुपा लिया l

यही सबसे बड़ी वजह रही मोदी सरकार की सत्ता वापसी की l  

दूसरा सबसे बड़ा मुद्दा रहा हिंदुत्व का। प्रज्ञा ठाकुर सरीखी आतंक की आरोपी को भोपाल से टिकट देकर मोदी सरकार और भाजपा ने कट्टर हिंदुत्व की नींव रखने में सफलता हासिल की। जबकि इन्हीं प्रज्ञा ठाकुर ने गांधी के हत्यारे गोडसे को देशभक्त कहा था ।

मोदी सरकार की जीत का तीसरा सबसे बड़ा हथियार रहा उनका मार्केटिंग का तरीका और बिकाऊ मीडिया l सूत्रों के अनुुसार, अकेले मोदी ब्रैंड पर 10,000करोड़ खर्च किया गया। पांच साल में देश का सबसे भव्य और महंगा भारतीय जनता पार्टी मुख्यालय दीनदयाल उपाध्याय मार्ग पर खड़ा कर दिया गया।

प्रत्येक राज्य में भव्य बीजेपी मुख्यालय, कद्दावर सोशल मीडिया मार्केंटिंग टीम और सोशल मीडिया पर केवल राष्ट्रवाद के मैसेजेेस और पोस्ट को फॉरवर्ड करने की दबाव की राजनीति बनाना। मोदी को ब्रैंड मोदी बनाने में उनकी असफलताओं को जनता तक न पहुंचाने में बड़े-बड़े मीडिया चैनलों को सर्वोपरि हाथ है।

चौथा मुद्दा  विपक्षी पार्टियों की असफलता l मोदी ने देश भर में घूम-घूम कर

अपनी सभी सभाओं में विपक्ष पर तीखे प्रहार कियें l उन्होंने कांग्रेस के 70 सालों की असफलता को इस भी खूब भुनाया l

उन्होंने बोफोर्स और 1984 के सिख दंगों को लेकर स्वर्गीय राजीव गांधी पर जोरदार हमले किये l

उन्होंने न  सिर्फ राजीव गांधी पर हमले किये पर वाड्रा व परिवारवाद को भी  खूब भुनाया l इस तरह वे जनता को यह भुलाने में सफल रहें कि लोकसभा चुनाव 2019 मोदी सरकार के पांच सालों की रिपोर्ट कार्ड पर होना चाहिए न कि गड़े मुर्दों के आधार पर।

विपक्ष मोदी सरकार को चौकीदार चोर है पर घेरना चाहता था पर मोदी ने मैं भी चौकीदार हूँ… कैम्पेनिंग से धराशायी कर दिया l 

अमित शाह-मोदी की चुनावी रणनीति का कोई तोड़ नहीं l पहले उत्तर प्रदेश फिर पश्चिम बंगाल

और ओड़िशा  में आक्रमक प्रचार का तरिका l बूथ लेवल तक संपर्क कर कार्यकर्ताओं में उत्साह जगाना l

मोदी की चुनावी रैलीयां ऐसे कई कारण है अगर हम गिनाने बैठें तो शायद आप को आश्चर्य होगा l

वो कहावत तो आपने सुनी ही होगी प्यार और जंग में सबकुछ जायज है (everything is fare in love and war) l

तो चुनावी जंग में जीत के सभी मंत्र मोदी और शाह ने बीजेपी की अभूतपूर्व जीत के लिए आजमायें l

शाह ने प्रचार की जो रणनीति अपनाई वो मोदी हो या योगी शिवराज हो या वो खुद किसे..? कब..? कहां..? कैसे..?  प्रचार करना है

उसपर आज से ही नहीं करीब-करीब एक-दो साल से उनकी तैयारी चल रही थी l

उनकी आईटी सेल सोशल मीडिया पर प्रचार में कोई कमी नहीं रख रही थी l 

मोदी की जीत में उनके 5 साल के काम का कोई योगदान नहीं रहा l

साथ ही बेहिसाब पैसा मोदी सरकार को अभूतपूर्व जीत दिलाने में सबसे ऊपर रहा है। इन चुनावों में सबसे ज्यादा फंडिंग भाजपा को की गई है। कॉरपोरेट वर्ल्ड ने अपना खजाना मोदी सरकार पर दोनों हाथों से लुटाया है जिसे अब आगामी पांच साल में वे सूद समेत जनता से वसूल करके चुकाएंगे।

विकास के नाम पर सत्ता में आने वाली मोदी सरकार 5 साल बाद विकास को भूल गयी l एक बार भी उन्होंने विकास के मुद्दों को नहीं उठाया l

अपने पूरे चुनाव प्रचार में उन्होंने सिर्फ और सिर्फ देशभक्ति, राष्ट्रवाद, कट्टर हिन्दुत्व को भुनाया और देश की जनता को यह बरगलाने में सफल रहें कि अगर मोदी नहीं आया तो देश में आतंकवाद फैल जाएगा,पाकिस्तान अटैक करेगा और मुसलमानों से हिंदुओं को खतरा बढ़ता चला जाएगा। ये बातें और विचारधारा लोकतंत्र के अनुरूप नहीं बल्कि उसकी हत्या ही है। इसलिए आज लोकतंत्र नहीं बल्कि पूंजीतंत्र जीता है।

editor-opinion-modi led BJP-huge victory-reason in LokSabha election result 2019

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: