Trending

सियासी राजस्थान – सरकार बनाने के लिए बीजेपी और कांग्रेस का हालचाल

blog on rajasthan election

नई दिल्ली, 8 दिसंबर : रेगिस्तान के ऊँट में सवारी करने के लिए दोनों प्रमुख दल सत्ताधारी बीजेपी और विपक्ष कांग्रेस नें अपनी पूरी ताकत झोंक दी इस चुनाव में |

पासा किसके पक्ष में पड़ेगा इसका पता तो चुनाव परिणाम के दिन ही पता चलेगा |

लेकिन दोनों ही पार्टियों नें हिंदुत्व कार्ड भरपूर खेला है इस विधानसभा चुनाव में |

जहाँ भाजपा राम का नाम और अयोध्या बार – बार लाती रही | वहीँ राहुल गाँधी नें भी एक मौका नहीं छोड़ा मंदिर – मस्जिद जाने का |

मध्यप्रदेश और छत्तीसगढ़ के बाद राजस्थान में भी आज वोटिंग का दिन आ गया है |

और दो महीने से चली आ रही रणभेरी के लिए आज मतदान हो रहें हैं |

राजस्थान की  200 विधानसभा सीटों में से आज 199 सीटों में मतदान होंगे |

राजस्थान की सियासी जमीन में सीधी टक्कर दो प्रमुख पार्टियों में है |

blog on rajasthan election

वसुंधरा राजे को अपनी साख बचानी है तो वहीँ सचिन पायलट और पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत को कांग्रेस पार्टी को फिर से खड़ा करना है |

इस राज्य का एक स्वभाव रहा है कि हर पंचवर्षीय में यहाँ परिवर्तन लहर चलती है |

अशोक गहलोत और सचिन पायलट पूरी तरह आश्वस्त भी हैं कि इस बार फिर से कांग्रेस की ही सरकार बनेगी

राजस्थान में , तो वहीँ वसुंधरा भी अपने आप को आश्वस्त दिखाते हुए नज़र आती हैं |

blog on rajasthan election

मौजूदा सरकार के खिलाफ जनता की नाराज़गी बीच बीच में देखने को मिल भी जाती है |

बीजेपी के खिलाफ लहर हो या ना हो पर मुख्यमंत्री वसुंधरा के खिलाफ लहर तो ज़रूर है |

इसीलिए मुख्यमंत्री के खिलाफ नारेबाजी की ख़बरें भी आ रहीं हैं कल  मतदान के दिन भी |

आपको बता दें कि पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत नें जोधपुर में मतदान किया |

blog on rajasthan election

तो वहीँ वसुंधरा राजे नें लोगों से घरों से निकलकर वोट करने की अपील भी की है|  राजस्थान में आज शाम 5 बजे तक मतदान है |

प्रदेश में सत्ता में वापसी के लिए भारतीय जनता पार्टी नें अपनी पूरी ताकत झोंक दी है |

प्रधानमंत्री मोदी से लेकर अमित शाह और वीआईपी चेहरों नें प्रचार किया है |

तीनों प्रमुख राज्यों में जिसमे मध्यप्रदेश , छत्तीसगढ़ , और राजस्थान में बीजेपी के लिए सत्ता बचने के लिए

सबसे टेढ़ी खीर राजस्थान ही साबित हो रहा है| इसीलिए प्रदेश में उलटफेर की सम्भावना बनी हुई है |

blog on rajasthan election

आज मतदान के दिन की बात छोड़कर अगर चुनाव प्रचार की जाए तो भाजपा की तरफ से नरेन्द्र मोदी नें एक मुखिया का ज़िम्मा संभाला था |

और अपने हर सभा में राज्य सरकार के साथ – साथ केंद्र सरकार की भी उपलब्धियां गिनायीं |

भाजपा अपने प्रचार के दौरान में हिंदुत्व के मुद्दे को सबसे ज्यादा हवा दी थी |

वहीँ कांग्रेस इस बात से आश्वस्त नज़र आ रही थी कि राजस्थान की जनता का मिजाज़ ही परिवर्तन का है |

और उसके दोनों प्रमुख चेहरे पूर्व मुख्यमंत्री अशोक गहलोत हो या फिर सचिन पायलट दोनों ही अपने आपको मुख्यमंत्री का दावेदार दिखाते हुए नज़र आए |

मुख्यमंत्री के पद की दावेदारी को लेकर कांग्रेस के अन्दर सिर्फ राजस्थान ही नहीं मध्यप्रदेश में भी दिक्कतें हैं |

कांग्रेस लगातार चुनाव में भाजपा पर हिंदुत्व धुर्विकरण का भी इलज़ाम लगाती हुई नज़र आई है |

राम मंदिर , विकास , और रोज़गार के मुद्दे पर कांग्रेस नें भाजपा की घेराबंदी की है |

अब सियासी राजस्थान में ऊँट किस करवट बैठेगा इस मौंजू सवाल का जवाब तो पगड़ी वाली जनता ही देगी |

blog on rajasthan election

 

 

डिस्क्लेमर(अस्वीकरण): इस लेख में प्रस्तुत विचार लेखिका के व्यक्तिगत है। लेख में व्यक्त किसी भी सूचना की सच्चाई,सटीकता,संपूर्णता और व्यावहारिकता के प्रति समयधारा उत्तरदायी नहीं है। इस लेख में सभी सूचनाएं ज्यों की त्यों प्रस्तुत की गई है।लेख में प्रस्तुत कोई भी सूचना या तथ्य या व्यक्त विचारधारा समयधारा की नहीं है और समयधारा इसके लिए किसी भी प्रकार से उत्तरदायी या जवाबदेयी नहीं है।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close