Home slider अन्य ताजा खबरें देश राजनीति

राज्य का बच्चा-बच्चा जानता है ऊप्र से केंद्र का सौतेला व्यवहार :सपा

उत्तर प्रदेश के मुख्मंत्री अखिलेश यादव

लखनऊ, 27 अक्टूबर:  समाजवादी पार्टी (सपा) के उपाध्यक्ष एवं कैबिनेट मंत्री राजेंद्र चौधरी ने भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अमित शाह के बयान पर प्रतिक्रिया देते हुए कहा कि शाह ने गुरुवार को इटावा में अपने भाषण में ‘बचकानेपन’ की हद कर दी। उन्हें बताना चाहिए था कि उत्तर प्रदेश के विकास में उन्होंने कितनी मदद की। उप्र के साथ केंद्र का सौतेला व्यवहार अब राज्य का बच्चा-बच्चा जानने लगा है।

उन्होंने कहा कि उप्र से निर्वाचित उनके 73 सांसद हैं, केंद्र सरकार में दर्जनभर मंत्री हैं और खुद प्रधानमंत्री भी यहीं से सांसद हैं। इसके बजाय वे गुजरात की कहानी सुनाते रहे। नीति आयोग बनाकर भाजपा ने कैसे उत्तर प्रदेश के राज्यांश में नौ हजार करोड़ रुपये का नुकसान किया है, यह तथ्य भी छुपा नहीं है।

चौधरी ने कहा कि उप्र में मुख्यमंत्री अखिलेश यादव ने चार साल में राज्य के विकास की जितनी जनहित की परियोजनाएं लागू की हैं, उसकी अन्य राज्य सरकारें भी प्रशंसा कर रही हैं, लेकिन भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को यहां कुछ दिखाई नहीं पड़ रहा है। वह भूल गए कि सैफई (इटावा) में, जिस हवाईपट्टी पर उतरे वह सपा की ही देन है। जिस सड़क से वे गुजरे वह भी इसी सरकार ने बनाई है और इटावा के नुमाइश मैदान के, जिस मंच से वह जनता को बरगलाने की कोशिश में लगे थे, वह भी सपा ने ही बनवाया है।

चौधरी ने कहा कि भाजपा के राष्ट्रीय अध्यक्ष को अखिलेश सरकार के विकास कार्यो से चिढ़ है। सच तो यह है कि भाजपा के हाथ से गुजरात भी खिसकता जा रहा है। जिस गुजरात मॉडल का चुनाव में बखान करके भाजपा ने केंद्र में सरकार बना ली, तबसे किसान तबाह हैं।

उन्होंने कहा कि भाजपा सांप्रदायिकता का जहर घोलकर उत्तर प्रदेश में भी सत्ता में आना चाहती है। शाह सपा के खिलाफ कितनी भी साजिशें रच लें, वह कहीं सफल होने वाले नहीं हैं।

–आईएएनएस

About the author

समय धारा

Add Comment

Click here to post a comment

अन्य ताजा खबरें