breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरें

बाहुबली के साथ चंद्रयान 2 हुआ लॉन्च – इंडिया बनेगा चंद्रमा का बाहुबली

Chandrayaan 2 Launched Today India’s Second Mission Moon

नई दिल्ली, 22 जुलाई : भारत के दूसरे चंद्रमा अभियान चंद्रयान-2 को बाहुबली रॉकेट (जीएसएलवी-मार्क-3) के साथ

सोमवार की दोपहर बाद सफलतापूर्वक प्रक्षेपित किया गया। यह चंद्रमा के दक्षिणी ध्रुव क्षेत्र का अध्ययन करेगा

जोकि अभी तक दुनिया के किसी भी अंतरिक्ष मिशन में नहीं किया गया है l यह भारत का दूसरा मिशन मून है।

इसरो(ISRO) के वैज्ञानिकों का कहना था कि यह बहुत तनाव भरा माहौल था।

भारत के चंद्रयान-2 को ले जाने वाले जियोसिंक्रोनाइज सैटेलाइट लॉन्च व्हीकल – मार्क तृतीय (जीएसएलवी – एमके तृतीय) का,

यहां स्थित प्रक्षेपण स्थल से सोमवार को नियत समय अपराह्न् 2.43 बजे सफल प्रक्षेपण किया गया,

जिसके बाद चंद्रयान-2 अपनी कक्षा में स्थापित हो गया।

इससे पहले भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (ISRO) की ओर से रविवार,

शाम 6 बजकर 43 मिनट पर चंद्रयान-2 की लांचिंग की उलटी गिनती शुरू हो गई थी।

लॉन्चिंग से पहले रॉकेट और अंतरिक्ष यान प्रणाली की जांच की गई और रॉकेट के इंजन में ईंधन भरा गया।

जीएसएलवी-एमके-3 रॉकेट को बाहुबली नाम दिया गया है। 

Chandrayaan 2 Launched Today India’s Second Mission Moon

इस चंद्रयान-2 को 22 जुलाई को दोपहर 2: 43 बजे श्रीहरिकोटा के सतीश धवन अंतरिक्ष केंद्र से लॉन्च किया जाएगा।

पहले इसे 15 जुलाई को चंद्रयान-2 को लॉन्च किया जाना था,

लेकिन ऐन वक्त पर लॉन्च व्हीकल में लीक जैसी तकनीकी खामी का पता चलने पर इसे टाल दिया गया था।

राज्यसभा ने सोमवार को चंद्रयान-2 के सफल प्रक्षेपण के लिए भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो)

और अन्य वैज्ञानिकों की उपलब्धि की सराहना की।

भारत के बाहुबली जीएसएलवी रॉकेट द्वारा चंद्रयान-2 के सफलतापूर्वक प्रक्षेपण पर सोमवार को राष्ट्रपति

रामनाथ कोविंद और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी समेत विभिन्न राजनीतिक दलों के नेताओं ने मिशन की प्रशंसा करते हुए इसरो को बधाइयां दीं।

भारत के बाहुबली जीएसएलवी रॉकेट द्वारा चंद्रयान-2 के सफलतापूर्वक प्रक्षेपण पर राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद

और प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने सोमवार को इसे देशवासियों के लिए गौरव का क्षण बताया।

पश्चिम बंगाल की मुख्यमंत्री ममता बनर्जी ने सोमवार को चंद्रयान 2 के सफलतापूर्वक लॉन्च के लिए

भारतीय अंतरिक्ष अनुसंधान संगठन (इसरो) व अन्य वैज्ञानिकों की सराहना की।

इसरो के हैवी लिफ्ट रॉकेट जियोसिंक्रोनाइज सैटेलाइट लांच व्हीकल मार्क-3 (जीएसएलवी एम-3) ने चंद्रमा के लिए उड़ान भरी।

यह रॉकेट अपने साथ 3,850 किलोग्राम के चंद्रयान-2 को लेकर सोमवार की दोपहर श्रीहरिकोटा अंतरिक्षयान से प्रक्षेपित हुआ।

आज चाँद को छूने का दिन – बाहुबली ले जाएगा चाँद पर 

Chandrayaan 2 Launched Today India’s Second Mission Moon

(इनपुट एजेंसी से) 

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: