RTI के तहत PMO ने मोदी और मनमोहन के विदेशी दौरे के खर्चों का हिसाब-किताब देने से किया इनकार

लखनऊ, 16 जुलाई :  प्रधानमंत्री कार्यालय (पीएमओ) ने प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी तथा पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह के विदेश दौरों पर होने वाले विभिन्न खर्चो का ब्योरा देने से इनकार करते हुए सवाल को ‘अस्पष्ट’ करार दिया। सूचना का अधिकार (आरटीआई) कार्यकर्ता नूतन ठाकुर ने शनिवार को हमारी सहयोगी चैनल  को बताया कि उन्होंने पीएमओ से 16 जून को जानकारी प्रदान करने का अनुरोध किया था।

ठाकुर ने साल 2010 के बाद से मोदी तथा मनमोहन सिंह के विदेश दौरों पर विभिन्न मदों में हुए खर्च के बारे में जानकारी मांगी थी।

केंद्रीय लोक सूचना अधिकारी तथा पीएमओ में अवर सचिव प्रवीण कुमार ने जानकारी देने से इनकार करते हुए कहा कि जो सूचना मांगी गई है वह ‘ अस्पष्ट’ है। 

ठाकुर ने सूचना का अधिकार के तहत पीमओ से विभिन्न कार्यालयों तथा उसके बीच आदान-प्रदान किए गए विभिन्न पत्रों व दस्तावेजों सहित सभी फाइलों की प्रतियों की मांग की थी।

जानकारी देने से इनकार करते हुए कुमार ने ठाकुर को सूचित किया कि आरटीआई अधिनियम, 2005 की धारा 19 के उद्देश्यों को लेकर पीएमओ के निदेशक सैयद एकराम रिजवी अपीलीय प्राधिकार हैं।

ठाकुर ने आईएएनएस को बताया कि अपने सवाल के जवाब के लिए वह निश्चित तौर पर नई दिल्ली में अपीलीय प्राधिकार का दरवाजा खटखटाएंगी।

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close