breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

मोदी ने ‘रोड शो’ करके तोड़ी चुनाव आचार संहिता?,EC ने गुजरात निर्वाचन अधिकारियों से मांगी रिपोर्ट

नई दिल्ली, 24 अप्रैल:EC demands report from Gujarat poll officials on PM Modi roadshow-गुजरात में मंगलवार (23 अप्रैल 2019) लोकसभा चुनाव 2019 की सीटों के लिए मतदान हुआ। यहां अपना वोट डालने गए पीएम मोदी ने बकायदा एक रोड शो (PM Modi roadshow) करके वोट डाला जोकि पहली नजर में आदर्श चुनाव आचार संहिता के उल्लंघन (violation of the model code of conduct) का मामला बनता है। इस बाबत चुनाव आयोग ने गुजरात निर्वाचन अधिकारियों से रिपोर्ट मांगी है (EC demands report from Gujarat poll officials)।

असल में कांग्रेस ने चुनाव आयोग से शिकायत की है कि पीएम मोदी ने वोट डालने के दौरान भी रोड शो किया है जोकि चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है।

गौरतलब है कि मंगलवार को लोकसभा चुनाव 2019 (LokSabha Election 2019) के तीसरे चरण का मतदान हुआ है। इस दौरान वरिष्ठ उप निर्वाचन आयुक्त उमेश सिन्हा ने पत्रकारों को संबोधित करते हुए कहा है कि इस मामले में गुजरात मुख्य निर्वाचन अधिकारी (सीईओ) से रिपोर्ट तलब की गई है।

हालांकि सूत्रों से मिली जानकारी के अनुसार, गुजरात निर्वाचन अधिकारी इसे पहली नजर में आदर्श चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन नहीं मानते। वैसे आधिकारिक रूप से चुनाव आयोग (EC) की ओर से इस संबंध में फिलहाल कोई बयान नहीं आया है।

दूसरी ओर, भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने भी सोमवार को पश्चिम बंगाल में ‘मोदीजी की वायु सेना’ कथित टिप्पणी की थी, इस बारे में पूछे जाने पर उप चुनाव आयुक्त चंद्र भूषण कुमार ने कहा है कि ‘विस्तृत जानकारी जुटाई जाएगी, जोकि 2 या 3 दिन में आ जाएगी।’

ध्यान दें कि ये पहली बार नहीं है जब लोकसभा चुनाव 2019 के लिए पीएम मोदी या उनकी पार्टी के वरिष्ठ नेताओं ने चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया हो। योगी और मेनका गांधी पर इसके चलते चुनाव प्रचार पर 2-3 दिन के लिए रोक लगा दी गई थी लेकिन प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने महाराष्ट्र में एक रैली को संबोधित करते हुए सीधे-सीधे फर्स्ट टाइम वोटरों से पुलवामा शहीदों के नाम पर भाजपा को वोट डालने की अपील की थी,जोकि पूरी तरह से चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन है लेकिन दो हफ्ते से ज्यादा बीत जाने पर भी चुनाव आयोग की ओर से अभी तक प्रधानमंत्री के खिलाफ कोई कार्रवाई किए जाने की खबर नहीं आई है।

इतना ही नहीं, अभी रविवार को ही पीएम मोदी (PM Modi) ने राजस्थान के बाड़मेर में चुनावी रैली में भी चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन किया था जब उन्होंने चुनाव के मुद्दों से हटकर परमाणु बम दिवाली के लिए नहीं रखें….सरीखा बयान दिया था।

मोदी ने अपने बयान में न केवल बालाकोट स्ट्राइक का जिक्र किया था बल्कि ये भी कहा था कि भारत ने परमाणु बम दिवाली के लिए नहीं रखे…मोदी के इन बयानों से स्पष्ट तौर पर बार-बार चुनाव आचार संहिता का उल्लंघन हो रहा है और ऐसे में चुनाव आयोग द्वारा पीएम मोदी को एक नोटिस तक न भेजना चुनाव आयोग की कर्तव्यनिष्ठा को  सवालों के घेरे में लाएं हुए है।

चुनाव आयोग की इस बेचारगी को न केवल सुप्रीम कोर्ट बल्कि वरिष्ठ पत्रकारों और पूर्व चुनाव आयुक्तों ने भी सवालों के घेरे में लिया है।

Watch This:

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: