Trending

Breaking: गोवा के मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर का निधन,कल होगा अंतिम संस्कार

सभी बड़ी राजनीतिक हस्तियों और रक्षा मंत्रालय ने भी मनोहर पर्रिकर के देहातं पर गहरा दुख व्यक्त किया

नई दिल्ली,17 मार्च: Goa CM Manohar-parrikar dies at 63 age गोवा के मुख्यमंत्री (Goa CM )मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar)  का 63 वर्ष की उम्र में निधन हो गया है। वे अग्नाश्य कैंसर से जूझ रहे थे। राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने मनोहर पर्रिकर के निधन की पुष्टि ट्वीट करके की और उनके निधन पर गहरा दुख जताया। तीन बार गोवा के सीएम रहे मनोहर पर्रिकर। उनका अंतिम संस्कार कल किया जाएगा। मनोहर पर्रिकर ने रक्षामंत्रालय का पदभार भी संभाला था।

मनोहर पर्रिकर के निधन (#Manohar Parrirkar passesaway) पर पीएम मोदी, कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी, दिल्ली के मुख्यमंत्री केजरीवाल और अन्य राजनीतिक हस्तियों ने गहरा शोक जताया है।

रक्षा मंत्रालय ने भी पूर्व रक्षा मंत्री रहे मनोहर पर्रिकर के निधन पर शोक जताया। आपको बता दें कि मनोहर पर्रिकर 2014 से 2017 तक देश के रक्षा मंत्री रहे।

केंद्रीय मंत्री अरुण जेटली ने मनोहर पर्रिकर के निधन पर दुख जताते हुए कहा- उन्होंने हमेशा अपने सार्वजनिक जीवन में एक उदाहरण पेश किया।

इससे पहले खबर आई थी कि उनका स्वास्थ्य गिरता ही जा रहा है और उनकी हालत बहुत नाजुक है। इसकी सूचना गोवा मुख्यमंत्री कार्यालय (Goa CMO) ने दी थी।

Goa CM Manohar Parrikar dies at 63 age suffered pancreatic cancer

बकौल गोवा सीएमओ मुख्यमंत्री मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar Health Condition) की सेहत काफी गंभीर है। डॉक्टर उन्हें ठीक करने का प्रयास कर रहे है’

गौरतलब है कि मनोहर पर्रिकर पिछले साल फरवरी 2018 से काफी से बीमार चल रहे है। उन्हें अग्नाश्य कैंसर है। बीते दिनों तबियत ज्यादा खराब होने पर मनोहर पर्रिकर को गोवा मेडिकल कॉलेज में एडमिट कराया गया था। कल यानि शनिवार को भी इस बात की सूचना मिली थी कि मनोहर पर्रिकर की सेहत काफी बिगड़ गई है। इसके बाद भाजपा ने बयान दिया कि स्वास्थ्य में सुधार हो रहा है।

शनिवार को बीजेपी विधायक और गोवा विधानसभा के उपाध्यक्ष माइकल लोबो ने मीडिया को बताया था कि पिछली रात से मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) की तबियत काफी खराब ह।

डॉक्टर्स उनकी निगरानी कर रहे हैं और उनका कहना है कि उनकी सेहत में सुधार नहीं दिख रहा है। 3 विधानसभा सीटों पर उपचुनाव नजदीक हैं और प्रत्याशियों का तयन होना अभी बाकी है।

माइकल लोबो ने कहा था कि राज्‍य में नेतृत्‍व परिवर्तन नहीं होगा, जब तक मनोहर पर्रिकर (Manohar Parrikar) हैं। केवल वही मुख्‍यमंत्री रहेंगे और किसी ने उन्‍हें बदलने की मांग नहीं की है। हम प्रार्थना कर रहे हैं कि वो ठीक हो जाएं, लेकिन कोई उम्‍मीद नहीं है, वह बहुत बीमार हैं, लेकिन अगर उन्‍हें कुछ होता है तो नया मुख्‍यमंत्री भाजपा से ही होगा।

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close