विपक्ष की तरफ से उपराष्ट्रपति पर लड़ रहे है एक और गाँधी(गोपालकृष्ण)

नई दिल्ली, 11 जुलाई : देश में पांच अगस्त को होने वाले उपराष्ट्रपति चुनाव में गोपालकृष्ण गांधी विपक्ष के साझा उम्मीदवार होंगे। यह फैसला मंगलवार को यहां 18 विपक्षी दलों के नेताओं की बैठक में लिया गया। सूत्रों के अनुसार, कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी ने बैठक में इसका ऐलान किया।

इस मुद्दे पर विपक्षी दलों की बैठक पार्लियामेंट लाइब्रेरी बिल्डिंग में शुरू हुई थी, जिसमें कांग्रेस अध्यक्ष सोनिया गांधी, पार्टी के उपाध्यक्ष राहुल गांधी, पूर्व प्रधानमंत्री मनमोहन सिंह, लोकसभा में कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे और राज्यसभा में नेता प्रतिपक्ष गुलाम नबी आजाद के साथ-साथ विपक्षी पार्टियों के कई नेताओं ने शिरकत की।

बैठक से पहले नेताओं ने सोमवार को जम्मू एवं कश्मीर के अनंतनाग जिले में अमरनाथ तीर्थयात्रियों पर हुए हमले जान गंवाने वालों के लिए दो मिनट का मौन रखा।

बैठक में जनता दल (युनाइटेड) भी शामिल हुई, जिसकी अगुवाई वरिष्ठ नेता शरद यादव ने की। पार्टी राष्ट्रपति चुनाव में राष्ट्रीय जनतांत्रिक गठबंधन (राजग) के उम्मीदवार रामनाथ कोविंद को समर्थन दे रही है।

बैठक में मार्क्‍सवादी कम्युनिस्ट पार्टी (माकपा) के महासचिव सीताराम येचुरी, जनता दल-सेक्युलर के नेता व पूर्व प्रधानमंत्री एच.डी.देवगौड़ा, जम्मू एवं कश्मीर के पूर्व मुख्यमंत्री व नेशनल कांफ्रेंस (नेकां) के उमर अब्दुल्ला, बहुजन समाज पार्टी (बसपा) नेता सतीश मिश्रा, समाजवादी पार्टी (सपा) के नेता नरेश अग्रवाल, राष्ट्रीय लोक दल (रालोद) के नेता अजीत सिंह, राष्ट्रवादी कांग्रेस पार्टी (राकांपा) के प्रफुल्ल पटेल, भारतीय कम्युनिस्ट पार्टी (भाकपा) के डी.राजा और तृणमूल कांग्रेस के डेरेक ओ’ब्रायन भी मौजूद रहे।

उपराष्ट्रपति चुनाव के लिए नामांकन-पत्र दाखिल करने की आखिरी तारीख 18 जुलाई है। नामांकन-पत्रों की जांच 19 जुलाई को होगी। नामांकन वापस लेने की आखिरी तारीख 21 जुलाई है। 

हामिद अंसारी 11 अगस्त, 2007 से उपराष्ट्रपति हैं। वह 11 अगस्त, 2012 को दूसरी बार भी इस पद के पर निर्वाचित हुए। उनका मौजूदा कार्यकाल 10 अगस्त को समाप्त हो रहा है।

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close