भारत में मोदी से ज्यादा लोकप्रिय है ममता बनर्जी, इसलिए भाजपा जलन और हीनभावना से ग्रस्त है: टीएमसी

कोलकाता, 23 जुलाई : पश्चिम बंगाल में सत्तारूढ़ तृणमूल कांग्रेस के महासचिव पार्था चटर्जी ने शनिवार को पार्टी अध्यक्ष और मुख्यमंत्री ममता बनर्जी के खिलाफ तीखी टिप्पणी करने वाली भारतीय जनता पार्टी (भाजपा) पर जमकर निशाना साधा। बंगाल के शिक्षा मंत्री चटर्जी ने कहा, “ममता बनर्जी की लोकप्रियता और उनके आकर्षण से जलन और हीनभावना के चलते वे ऐसा कह रहे हैं। वे कुछ ही समय पहले यहां आए हैं, केले की पत्तियों पर खाना खाते हैं, पांच सितारा होटलों में रात्रिभोज करते हैं, अपमानजनक टिप्पणियां करते हैं और चले जाते हैं।”

चटर्जी ने कहा, “यहां तक कि भारत में मोदी की भी इतनी लोकप्रियता नहीं है। इसलिए वे हीनभावना से ग्रस्त हैं।”

उन्होंने कहा, “चूंकि सारा काम खुद मोदी कर रहे हैं, इसलिए केंद्रीय मंत्रियों के पास कोई काम नहीं है। वे बस इधर-उधर घूम रहे हैं, अला-फलां समारोहों में हिस्सा ले रहे हैं। वे जनता की समस्या को समझने की कोशिश नहीं कर रहे।”

गौरतलब है कि शनिवार को ही केंद्रीय मानव संसाधन एवं विकास मंत्री प्रकाश जावड़ेकर ने कहा है कि ममता, मोदी को सत्ता से बेदखल करने का दिवास्वप्न देख रही हैं, जो पूरा नहीं हो सकेगा।

जावड़ेकर के आरोपों का जवाब देते हुए चटर्जी ने कहा, “उन्हें इतिहास के बारे में कुछ नहीं पता। 90 के दशक में धार्मिक हिंसा के दौरान मदर टेरेसा के साथ सड़कों पर कौन दौड़ रहा था? वे सांप्रदायिकता फैला रहे हैं। आपके सहायक इस सांप्रदायिक हिंसा के जरिए बंगाल को विभाजित करना चाहते हैं। जावड़ेकर ने जो कुछ कहा वह बकवास है और उसका सच्चाई से कोई नाता नहीं है।”

भाजपा पर देश की शिक्षा व्यवस्था के ‘भगवाकरण’ का आरोप लगाते हुए चटर्जी ने केंद्र द्वारा राज्यों की सहमति लिए बगैर नीतियां थोपने की निंदा की।

उन्होंने कहा, “शिक्षा और हर दूसरे संस्थानों के भगवाकरण की कोशिशें की जा रही हैं। वे हर जगह अपने आदमी बिठा रहे हैं। बुरी शिक्षा देना उनकी आदत में है। उनसे हम और उम्मीद भी क्या कर सकते हैं। उन्होंने लोकसभा में विधेयक पेश करने से पहले हमसे संपर्क तक नहीं किया। वे पास-फेल नीति को लेकर भ्रम पैदा कर रहे हैं।”

चटर्जी ने जावड़ेकर के उस दावे को भी खारिज किया, जिसमें जावड़ेकर ने कहा है कि बंगाल में लोग लगातार भाजपा से जुड़ रहे हैं।

चटर्जी ने कहा, “जावड़ेकर को बंगाल की स्थिति में बारे में जरा भी अक्ल नहीं है। वह संख्या के बारे में बात कर रहे हैं..बंगाल में हमें भाजपा में सिर्फ चार लोग नजर आते हैं। वे रुपये लेकर झंडे बेच रहे हैं। उन्हें इस पर ध्यान देना चाहिए। देश में किसी अन्य राजनीतिक दल ने इतना झूठ और अफवाह नहीं फैलाई।”

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close