breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

शर्मनाक! मुसलमानों को मेनका गांधी की धमकी- वोट दो वर्ना…मैं कोई गांधी की छठी औलाद नहीं हूं…Video

मेनका गांधी की मुस्लिमों को दी गई धमकी पर चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस भी भेज दिया है।

नई दिल्ली, 13 अप्रैल: Maneka Gandhi threaten Muslim voters viral video- मोदी सरकार में केंद्रीय मंत्री और भाजपा उम्मीदवार मेनका गांधी वोट पाने के लिए इस स्तर पर चली गई कि उन्होंने मुसलमान मतदाताओं को सीधे-सीधे धमकी दे डाली। यूपी की सुल्तानपुर लोकसभा सीट से मेनका गांधी ने एक नुक्कड़ सभा की। इस जनसभा में मेनका गांधी स्पष्ट तौर पर मुस्लिम मतदाताओं को धमकी देते हुए कह रही है- “ मैं तो चुनाव जीत रही हूं। मैं आपके सहयोग के बिना भी जीत जाऊंगी। आप साथ नहीं दोगें तो मुझे ज्यादा अच्छा नहीं लगेगा। ऐसे में हमारा साथ दो वर्ना कल जब आप किसी काम के लिए हमारे पास आओगे तो समझ लेना मैं क्या करूंगी। मैं कोई महात्मा गांधी की छठी औलाद नहीं हूं।

मेनका गांधी का मुसलमानों को धमकी देने का वीडियो तेजी से सोशल मीडिया पर वायरल हो रहा है। इसमें मेनका गांधी साफ मुस्लिम मतदाताओं को धमकाते हुए दिख रही है और कह रही है कि रिजल्ट आने पर अगर 100 या 50 वोट आपके यहां से मिले तो देख लेना काम भी आपके लिए मैं वैसा ही करूंगी। दूसरे शब्दों में कहें तो मेनका गांधी मुस्लिम मतदाताओं को उन्हें वोट देने के लिए धमका रही है और कह रही है कि एक हाथ दें और दूसरे हाथ लें। अगर तुमने हमें वोट नहीं दिया तो तुम्हारी खैर नहीं।

सुल्तानपुर जिले के मुस्लिम आबादी वाले गांव तुराबखानी क्षेत्र में मेनका गांधी ने एक नुक्कड़ सभा की और इसमें जिस धमकी भरे अंदाज में उन्होंने वोट अपील की,उससे वे सोशल मीडिया में सभी के निशाने पर आ गई। चुनाव आयोग की एक के बाद एक चेतावनी के बावजूद भी भाजपा और अन्य दलों के राजनेताओं के बोल बिगड़ते ही चले जा रहे है। इस फेहरिस्त में अब मेनका गांधी का नाम भी जुड़ गया। बतौर महिला एंव बाल विकास मंत्री वे इतना अशोभनीय बोलेंगी इसकी किसी ने कल्पना नहीं की थी।

जनसभा को संबोधित करते हुए मेनका गांधी ने कहा कि “हम खुले हाथ और खुले दिन के साथ आएं है। आप साथ नहीं भी दोगे तो भी मैं जीत रही हूं। अगर कल आपको मेरी जरूरत पड़ेगी तो उस जरूरत के लिए यहीं वक्त है नींव डालने का। समझ रहे है न आप लोग!”

वायरल वीडियो में मेनका गांधी का लोकसभा चुनाव 2019 में जीत का अहंकार साफ दिख रहा है। वे मुस्लिम मतदाताओं को धमकाते हुए कह रही है कि “मेरे फाउंडेशन ने 1000 करोड़ मुस्लिम संस्थाओं के लिए खर्च किए है। ताकि वे फले-फूले। जब इलेक्शन आता है तो आप कह देते हो कि भाजपा को वोट नहीं दोगे। मैं तो चुनाव जीत ही चुकी हूं। ये जीत आप साथ नहीं भी दोगे तो भी होगी ही… लेकिन फिर मन खट्टी होगा।“ आप चुनाव आने पर कहते हो हम किसी भी पार्टी को वोट दे देंगे लेकिन बीजेपी को वोट नहीं देंगे,इससे भाजपा हारेगी तो हमारा भी दिल टूटता है। हम सिर्फ देते जाएं। ऐसा तो होगा नहीं। मैं कोई महात्मा गांधी की छठी औलाद नहीं हूं…”

आप लोग पीलीभीत के किसी भी बंदे को फोन करके पूछ लो मेनका गांधी ने वहां कैसा काम किया”

यहां देखें मेनका गांधी का धमकी भरा वायरल वीडियो:

मेनका गांधी के वोट देने की धमकी भरी अपील पर बॉलिवुड एक्टर कमाल खान ने भी अपनी प्रतिक्रिया दी है। उन्होंने ट्वीट करके पूछा है कि ये क्या है चुनाव आयोग? वोट पाने के लिए मतदाताओं को इस तरह धमकाना क्या कानूनी है? ये लोकतंत्र है या गुंडागर्दी? हिंदू,मुस्लिम,सिख, इसाई किसी को भी इस तरह के राजनीतिज्ञों को वोट नहीं देना चाहिए। ऐसे भ्रष्ट राजनेताओं की धमकियों से डरना छोड़ो”

इलेक्शन कमीशन के संज्ञान में मेनका गांधी की मुस्लिमों को दी गई धमकी भरी वोटिंग अपील आ चुकी है और चुनाव आयोग ने उन्हें नोटिस भी भेज दिया है।

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: