breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीति
Trending

Modi डिस्कवरी पर हुए ‘डिस्कवर’,18 साल में पहली छुट्टी में जिम कॉर्बेट का सफ़र

Highlights MANvsWILD : मोदी और होस्ट बेयर ग्रिल्स के बीच की सभी खबरें

PM-Modi-on-man-vs-wild-with-bear-grylls-all-news-updates-in-hindi

नई दिल्ली, 13 अगस्त (समयधारा) : Modi डिस्कवरी पर हो रहे है ‘डिस्कवर’,18 साल में पहली छुट्टी में जिम कोर्बिट का सफ़र l

पीएम नरेंद्र मोदी ने मशहूर वाइल्ड लाइफ प्रोग्राम शो ‘मैन वर्सेज वाइल्ड’ में शिरकत की। 

इस दौरान पीएम मोदी ने अपनी जिंदगी से जुड़े कई अहम किस्सों के बारे में बताया। 

जब मोदी और ग्रिल्स चल रहे थे तो ग्रिल्स को मोदी की सुरक्षा को लेकर थोड़ी चिंता होने लगी l

उन्होंने मोदी को आसपास टाइगर होने की बार कही  और कहा की आप देश के सबसे बड़े व्यक्ति है आपकी सुरक्षा मेरी जिम्मेदारी है l

ग्रिल्स एक लकड़ी और चाकू की मदद से अपनी सुरक्षा के लिए एक हथियार तैयार करते हैं।

जब ग्रिल्स ने पीएम मोदी को चाकू से बनाया हुआ हथियार बनाकर पीएम मोदी को दिया,

और कहा कि यह आपकी सुरक्षा के लिए है, इस पर मोदी ने कहा, ‘किसी को मारना मेरे संस्कार में नहीं है,

लेकिन आपकी सुरक्षा के लिए इसे में अपने पास रख लेता हूं।’ 

उन्होंने न सिर्फ अपनी निजी जिंदगी के बारें में बताया बल्कि प्रकृति से अपने गहरे लगाव को भी व्यक्त किया l 

उत्तराखंड के जिम कॉर्बेट में शूट किए गए इस कार्यक्रम में पीएम मोदी और होस्ट बेयर ग्रिल्स ने वाइल्ड लाइफ,

और प्रकृति को संरक्षित करने पर भी काफी चर्चा की। पीएम और ग्रिल्स के बीच प्रकृति, जंगल, हिमालय को लेकर काफी बातचीत हुई।

पीएम ने कहा, ‘यदि हम प्रकृति से संघर्ष करते हैं तो यह प्रकृति के साथ सबके लिए खतरनाक होता है,

लेकिन हम प्रकृति से संतुलन बना लेते हैं तो वह भी हमारी मदद करती है।’

मोदी जी ने कार्यक्रम में कहा कि हमें प्रकृति से कभी डर नहीं होना चाहिए।

PM-Modi-on-man-vs-wild-with-bear-grylls-all-news-updates-in-hindi 

हमें उसके प्रति उत्साहित रहना चाहिए। पीएम ने अपने पिता का जिक्र करते हुए कहा, ‘जब मैं छोटा था,

हमारी आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं थी। जब भी बारिश होती थी तो पिताजी 25-30 पोस्ट कार्ड लेकर आते थे,

और सभी रिश्तेदारों को बारिश होने की खबर देते थे। हम सबको लगता था कि इस बेवजह के खर्चे की क्या जरूरत है,

लेकिल अब अहसास होता है कि जब रिश्तेदारों को वो बताते थे कि हमारे गांव में बारिश हो गई है तो उनके चेहरे पर एक संतोष होता था।’

पीएम मोदी ने अपनी दादी का जिक्र करते हुए भी बताया, ‘मेरी दादी जी पढ़ी लिखी नहीं थी।

मेरे चाचा ने लकड़ी का व्यापार करने का मन बनाया। इस पर मेरी दादी बहुत नाराज हुई।

जब दादी से इसका कारण पूछा तो उन्होंने कहा कि भूखे मर जाएंगे, लेकिन लकड़ी बेचने का काम नहीं करेंगे।

मेरी दादी का मानना था कि लकड़ी में भी जीवन है। पेड़ काटकर अपना परिवार चलाना ठीक नहीं।

प्रकृति के साथ जुड़ाव मुझे संस्कार में मिला है। ग्रिल्स ने पीएम मोदी को हाथ से बनाई हुई नाव में नदी पार कराई।

ग्रिल्स ने कहा कि इस तरह की नाव में बैठने वाले शायद आप पहले पीएम होंगे।

इस पर पीएम ने कहा कि उनका बचपन इसी तरह से प्रकृति के साथ समन्वय करते हुए बीता है।

ग्रिल्स पेड़-पौधों पर चर्चा शुरू की तो पीएम ने कहा, ‘भारत में हर पौधे को भगवान माना जाता है।

भारत में साल में एक बार तुलसी की भगवान से शादी करते हैं और उसे परिवार का हिस्सा बनाते हैं।

हम अपने मजे के लिए प्रकृति का दोहन करते हैं। यहां से समस्या शुरू होती है।’

ग्रिल्स ने पीएम से पूछा कि अगर आप दुनिया को कोई संदेश देना चाहेंगे तो वह क्या होगा?

पीएम ने कहा, ‘प्रकृति के साथ प्रेम करके कैसे जीना, प्रकृति से कुछ भी लेते हैं,

तो सोचें कि 50 साल बाद जो बच्चा होगा वो पूछेगा कि मेरे हक की हवा क्यों खराब कर रहे हो।

PM-Modi-on-man-vs-wild-with-bear-grylls-all-news-updates-in-hindi 

मैं शाकाहारी हूं, प्राणी के लिए प्रकृति का महत्व मुझे पता है।’

कार्यक्रम के अंत में पीएम मोदी ने कहा, ‘मुझे आपके साथ और प्रकृति के साथ बिताने का अच्छा मौका मिला।

मुझे उम्मीद है कि जब लोग इसे देखेंगे तो उनका भारत आने का मन होगा। यह भारत के टूरिजम के लिए भी अच्छा होगा।’

प्रधानमंत्री मोदी ने एक ट्वीट कर आज इस प्रोग्राम के बारे में भी बताया l 

(इनपुट डिस्कवरी से)

PM-Modi-on-man-vs-wild-with-bear-grylls-all-news-updates-in-hindi 

यह खबर भी पढ़े : Jio GigaFiber, Free HD/4k टीवी, Free 4k सेटअप बॉक्स, फर्स्ट डे फर्स्ट शो 

Tags

Dharmesh Jain

धर्मेश जैन एक स्वतंत्र लेखक है और साथ ही समयधारा के को-फाउंडर व सीईओ है। लेखन के प्रति गहन रुचि ने धर्मेश जैन को बिजनेस के साथ-साथ लेख लिखने की ओर प्रोत्साहित किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: