breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीतिराज्यों की खबरें
Trending

गोधरा की तरह पुलवामा हमला भाजपा की साजिश: गुजरात के पूर्व सीएम और पूर्व भाजपा नेता वाघेला

शंकर सिंह वाघेला ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा चुनाव जीतने के लिए आतंकवाद का सहारा लेती रही है

नई दिल्ली,2मई :Shanker Singh Vaghela पुलवामा हमला (Pulwama terror attack) गोधरा कांड (Godhra Kand) की तरह भाजपा (BJP) की साजिश (Conspiracy) है।  भाजपा चुनाव जीतने के लिए आतंक का सहारा लेती है। ये कहना है गुजरात के पूर्व सीएम और पूर्व भाजपा नेता शंकर सिंह वाघेला (Shankar Singh Vaghela) का।

एनसीपी नेता शंकरसिंह वाघेला (Shankar Singh Vaghela) ने आरोप लगाया है कि पुलवामा आतंकी हमला करने के लिए आरडीएक्स से भरी जिस गाड़ी का इस्तेमाल किया गया था, उसका रजिस्ट्रेशन नंबर गुजरात का था। आगे उन्होंने कहा कि गोधरा कांड भी भाजपा की साजिश थी।

शंकर सिंह वाघेला (Shankar Singh Vaghela) ने मीडिया को संबोधित करते हुए कहा कि भाजपा चुनाव जीतने के लिए आतंकवाद का सहारा लेती रही है। पिछले 5 सालों में तमाम आतंकी हमले हुए है

इतना ही नहीं, वाघेला (Shankar Singh Vaghela) ने आगे कहा कि ‘भांजपा ने बालाकोट एयरस्ट्राइक एक सोची-समझी साजिश के तहत करवाई।

बालाकोट हमले में कोई भी नहीं मारा गया। यहां तक की इंटरनेशनल एजेंसी भी ये साबित नहीं कर सकी है कि एयर स्ट्राइक में 200 लोग मरे थे।

उन्होंने आगे कहा कि ‘खुफिया सूत्रों ने पहले ही पुलवामा हमले की जानकारी दी थी लेकिन कोई कदम नहीं उठाया गया।

भाजपा पर निशाना साधते हुए कहा कि यदि आपके पास बालाकोट को लेकर जानकारी थी तो पहले ही इन आतंकवादी कैंपों के विरुद्ध कार्रवाई क्यों नहीं की? आप क्यों इंतजार कर रहे थे कि पुलवामा जैसी कोई घटना हो।

भाजपा पर तंज कसते हुए शंकरसिंह वाघेला ने कहा कि ‘भाजपा का गुजरात मॉडल झूठा है। राज्य काफी मुश्किलों से गुजर रहा है। भाजपा के खुद के नेता पार्टी से नाराज है और उन्हें ऐसा लग रहा है कि वे बंधुआ मजदूर है।

ध्यान दें कि पिछले लोकसभा चुनाव 2014 में बीजेपी ने गुजरात की सभी 26 लोकसभा सीटें जीती थी लेकिन विधानसभा चुनावों में सत्ताधारी भाजपा को सीटें जीतने में नाकों चने चबवा दिए थे और इस बार कांग्रेस व अन्य विपक्षी दल यहां पर भाजपा को कड़ी टक्कर दे रहे है।

Watch This:

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: