breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीतिराज्यों की खबरें
Trending

सोनभद्र नरसंहार: पीड़ितों से मिलने जा रही प्रियंका गांधी को प्रशासन ने हिरासत में लिया

प्रियंका ने इस दौरान कहा कि वह सोनभद्र में हुई वारदात में मारे गए लोगों के परिवार के लोगों से मिलने के लिए शांतिपूर्ण तरीके से जा रही थीं लेकिन प्रशासन ने उन्हें रोक लिया

मिर्जापुर, 19 जुलाई : Sonbhadra clash: Priyanka Gandhi detained-देश को हिलाकर रख देने वाले सोनभद्र नरसंहार (Sonbhadra clash)  में उस वक्त सियासी माहौल गर्मा गया।

जब उत्तर प्रदेश प्रशासन ने पीड़ितों से मिलने जा रही प्रियंका गांधी को हिरासत (Priyanka Gandhi detained) में ले लिया।

दिल्ली समेत कई शहरों में कांग्रेस कार्यकर्ताओं ने प्रियंका गांधी को हिरासत में लिए जाने पर प्रदर्शन किया।

हालांकि उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के हवाले से कहा गया है कि दोषियों के खिलाफ कड़ी कार्रवाई होगी।

अब तक सोनभद्र नरसंहार मामले (Sonbhadra clash) में मुख्य आरोपी समेत 29 लोगों को गिरफ्तार कर लिया गया है।

सोनभद्र के सामूहिक हत्याकांड के पीड़ित परिवारों से मिलने जा रहीं कांग्रेस महासचिव प्रियंका गांधी वाड्रा

को मिर्जापुर में प्रशासन ने रोक (Sonbhadra clash: Priyanka Gandhi detained) लिया।

अदलहाट क्षेत्र के नारायनपुर में खुद को रोके जाने के विरोध में प्रियंका धरना पर बैठ गयीं। बाद में उन्हें चुनार गेस्ट हाउस ले जाया गया।

वह गत बुधवार को सोनभद्र गोलीकांड में घायल हुए लोगों से मिलने के लिए वाराणसी के एक अस्पताल पहुंची थी।

जब उन्होंने सोनभद्र जाने की कोशिश की तो प्रशासन ने उन्हें अदलहाट क्षेत्र में रोक (Sonbhadra clash: Priyanka Gandhi detained) लिया।

इसके विरोध में प्रियंका अपने समर्थकों के साथ धरने पर बैठ गई और खुद को रोके जाने के लिखित आदेश दिखाने की मांग की।

प्रियंका ने इस दौरान कहा कि वह सोनभद्र में हुई वारदात में मारे गए लोगों के परिवार के लोगों से मिलने के लिए शांतिपूर्ण तरीके से जा रही थीं लेकिन प्रशासन ने उन्हें रोक लिया।

वह चाहती हैं कि उन्हें जाने से रोकने का लिखित आदेश उन्हें दिखाया जाए।

अदलहाट के थानाध्यक्ष ने बताया कि प्रियंका को चुनार गेस्ट हाउस ले जाया जा रहा है।

प्रियंका ने धरने के दौरान कहा कि उन्होंने प्रशासन से कहा था कि वह पीड़ितों से मिलने के लिए

सिर्फ 4 लोगों के साथ भी सोनभद्र जाने को तैयार हैं, मगर इसके बावजूद ना जाने क्यों उन्हें रोक लिया गया।

कांग्रेस महासचिव ने कहा कि सोनभद्र में जिन लोगों पर गोलियां बरसायी गयीं, उनका क्या कुसूर था।

उन्होंने अपने अधिकारों के लिये लड़ाई लड़ी बस, अपनी जमीन जो पुश्तों से वे जोत रहे थे, उसको हड़पा जा रहा है।

प्रियंका ने कहा कि सोनभद्र मामले में उत्तर प्रदेश सरकार और प्रशासन की नाकामी खुलकर सामने आयी है। रोज हत्याएं हो रही हैं। ऐसा लगता ही नहीं कि राज्य में सरकार नाम की कोई चीज ही नहीं है।

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: