breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीतिराज्यों की खबरें
Trending

धरने पर बैठे नायडू हुए बेटे के साथ नजरबंद, घर में ही भूख हड़ताल शुरू

chandrababu-naidu-son-put-under-house-arrest

आंध्र प्रदेश, (समयधारा) : एक तरफ देश में जम्मू कश्मीर को लेकर  सियासी पारा उबाल  मार रहा है l

तो दूसरी और आंध्रप्रदेश राज्य में  भी  सियासी घमासान जगन रेड्डी सरकार के खिलाफ,

तेलुगू देशम पार्टी चीफ चंद्रबाबू नायडू विरोध प्रदर्शन कर रहे हैं। इस पर पुलिस ने उन्हें उनके बेटे के साथ घर पर ही नजर बंद कर दिया है।

TDP राज्य सरकार के खिलाफ राजनीतिक हिंसा के आरोप में रैली कर रही थी। उसके कार्यकर्ताओं को भी नजरबंद कर दिया गया l 

TDP चीफ जैसे ही सुबह घर से रैली के लिए निकलने वाले थे, पुलिस ने उन्हें रोक लिया।

लिहाजा नायडू ने घर पर ही भूख हड़ताल की घोषणा कर दी है। नायडू के बेटे नर लोकेश को भी नजर बंद कर दिया गया है।

गौरतलब है कि पूर्व सीएम चंद्रबाबू नायडू राज्य के गुंटूर जिले में सरकार के विरोध में चलो आत्मकूरु नाम की रैली करने वाले थे।

 हालांकि राज्य की पुलिस ने रैली करने की अनुमति नहीं दी।

साथ ही पुलिस ने धारा 144 लागू कर दिया। पुलिस ने TDP के कई कार्यकर्ताओं को नजरबंद कर दिया है। 

चंद्रबाबू नायडू की अगुवाई वाली पार्टी का दावा है कि राज्य में जगन रेड्डी सरकार आने के बाद,

YSRCP कैडरों ने TDP के आठ कार्यकर्ताओं की हत्या कर दी है और आंध्र प्रदेश के पलनाडू क्षेत्र में हिंसा बढ़ रही है।

chandrababu-naidu-son-put-under-house-arrest

वही मुख्यमंत्री जगन रेड्डी की पार्टी  YSRCP का कहना है की नायडू की तेदेपा के पास कोई मुद्दा नहीं है,

और वह गलत धारणा के आधार पर राज्य में अशांति बनाने की कोशिश कर रहे है l  

इधर TDP के कार्यकर्ता हैदराबाद ऑफिस में आ रहे हैं और आरोप लगा रहे हैं कि,

जगन रेड्डी की पार्टी के कार्यकर्ताओं के हमले के कारण उन्हें अपने गांव से भागना पड़ रहा है।

आंध्र प्रदेश के गृहमंत्री मेकतोटि सुचरिता (Mekathoti Sucharitha) ने कहा कि,

सरकार TDP के नेताओं को राज्य में शांति भंग करने की अनुमति नहीं देगी।

पुलिस ने लोगों से अपील की है कि ऐसी किसी भी गतिविधों में हिस्सा न लें, जिस इलाके में शांति भंग हो।

(इनपुट एजेंसी से)

chandrababu-naidu-son-put-under-house-arrest

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: