breaking_newsदेशराज्यों की खबरें
Trending

दिल्ली सरकार ने सभी महिलाओं के लिए Raksha Bandhan पर की DTC बसें Free, 14घंटे फ्री यात्रा

रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) जोकि 15 अगस्त (15 August 2019), गुरुवार को है

नई दिल्ली,14 अगस्त: DTC bus free ride to women on Raksha Bandhan- दिल्ली की केजरीवाल सरकार (Kejriwal Government) हर बार की तरह इस बार भी दिल्ली/एनसीआर (Delhi/NCR) की सभी महिलाओं को रक्षाबंधन (Raksha Bandhan 2019) पर फ्री में डीटीसी बसों में सफर (DTC bus free) करने की सुविधा दे रही है।

जी हां, रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) जोकि 15 अगस्त (15 August 2019), गुरुवार को है,

पर जब सभी महिलाएं जब DTC बसों में सफर करेंगी तो उनसे टिकट नहीं लिया जाएगा

और वे फ्री में अपने गंतव्य स्थान तक जा (DTC bus free ride to women on Raksha Bandhan) सकेंगी।

दिल्ली सरकार (Delhi govt) ने इसकी जानकारी एक प्रेस विज्ञप्ति जारी करके दी है।

रक्षाबंधन पर महिलाओं की सुविधा के लिए सड़कों पर ज्यादा से ज्यादा डीटीसी बसें (DTC Buses) चलाई जाएंगी।

दिल्ली ट्रांसपोर्ट कॉर्पोरेशन (Delhi Transport Corporation) ने यह आदेश डीटीसी की सभी एसी (AC)  

और नॉन एसी बसों (Non AC)  के लिए जारी किया है।

महिला यात्री दोनों प्रकार की डीटीसी बसों में पूरे 14 घंटे राखी पर फ्री (Free) में सफर कर सकेंगी।

डीटीसी बसों में फ्री (DTC bus free) सफर का लुत्फ़ डीटीसी सिटी (DTC City) के अलावा

एनसीआर (NCR)  की महिला पैसेंजरों (Women Passengers) को भी रक्षाबंधन पर मिलेगा।

दिल्ली/एनसीआर की सभी महिलाएं राखी (Rakhi) पर सुबह 8 बजे से लेकर रात 10 बजे तक फ्री में सफर कर सकेंगी।

गौरतलब है कि रक्षाबंधन (Raksha Bandhan) इस बार 15 अगस्त (15 August 2019) को ही पड़ रहा है।

भारत का 73वां स्वतंत्रता दिवस (73rd Independence Day) होने के कारण राजधानी में जहां एक ओर

आजादी का जश्न है तो दूसरी ओर रक्षाबंधन (Raksha Bandhan)  भी इसी दिन होने के कारण त्यौहार की धूम।

हिंदू धर्म का विशेष त्यौहार रक्षाबंधन श्रावण माह की पूर्णिमा को पूरे देश में धूमधाम से मनाया जाता है।

इस वर्ष राखी का त्यौहार गुरुवार के दिन होने से इसका बहुत ज्यादा महत्व बढ़ गया है।

ध्यान दें कि रक्षाबंधन पर महिलाएं अपने भाईयों को शुभ मुहूर्त में ही राखी बांधे। हिंदू धर्म की मान्यताओं के अनुसार रक्षाबंधन पर अपराह्न अर्थात दिन में ही बहनों को राखी बांधनी चाहिए।

दिन में यदि समय उपलब्ध न हो तो आप प्रदोष काल में भी राखी (Rakhi) बांध सकते है।

वैसे मान्यता है कि भद्र काल में भाईयों को राखी नहीं बांधनी चाहिए। इससे एक पौराणिक कथा जुड़ी है।

श्रूर्पणखां ने अपने भाई रावण को भद्रकाल में ही रक्षा सूत्र बांधा था। इसके कारण ही रावण का सर्वनाश हो गया था।

इसलिए भद्रकाल में राखी बांधना शुभ नहीं माना जाता। इस बार रक्षाबंधन (RakshaBandhan) का

महत्व इसलिए भी बढ़ गया है चूंकि भद्रकाल नहीं है और राखी बांधने का मुहूर्त बहुत अच्छा है।

बहनें सूर्यास्त से पूर्व तक कभी भी भाईयों की कलाई में राखी (Rakhi) बांध सकती है।

 

 

 

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: