Trending

ईद मुबारक : भाईचारे का संदेश देते हुए मोदी,कोविंद,राहुल आदि ने देशवासियों को ईद की बधाई दी

देश के उत्तर प्रदेश,बिहार,आंध्र प्रदेश आदि स्थानों पर ईद की धूम

नई दिल्ली, 16 जून : ईद मुबारक : भाईचारे का संदेश देकर मोदी,कोविंद,राहुल आदि ने देशवासियों को ईद की बधाई दी l

उत्तर प्रदेश,बिहार,आंध्र प्रदेश आदि स्थानों पर ईद की धूम है l

देश के विभिन्न हिस्सों में ईद का जश्न जोरो-शोरों से मनाया जा रहा है l 

राष्ट्रपति राम नाथ कोविंद, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने शनिवार को देशवासियों को ईद की मुबारकबाद दी और दुआ की कि यह त्योहार सद्भावना और भाईचारा लेकर आए।

राष्ट्रपति ने ट्वीट कर कहा, “ईद मुबारक और सभी साथी नागरिकों, विशेष रूप से भारत और विदेशों में बसे हमारे मुस्लिम भाइयों और बहनों को शुभकामनाएं।

खुशी का यह अवसर आपके परिवारों में खुशियां लेकर आए और हमारे साझा समाज में भाईचारा, समझ और पारस्परिक सद्भावना को बढ़ाए।”

मोदी ने ट्वीट कर कहा, “ईद मुबारक! आज का यह दिन हमारे समाज में एकता और सद्भावना के बंधन को गहरा कर दे।” 

उन्होंने अपने कार्यक्रम ‘मन की बात’ के भाषणों में से एक का लिंक भी साझा किया, जहां उन्होंने रेखांकित किया था कि त्योहार दोस्ती के बंधन को मजबूत करते हैं।

कांग्रेस अध्यक्ष ने बधाई संदेश में कहा, “ईद मुबारक!

सर्वशक्तिमान हम सभी को शांति, खुशी, ज्ञान और अच्छे स्वास्थ्य का आशीर्वाद दें।”

ईद-उल-फितर पवित्र रमजान महीने के समापन के अवसर पर मनाया जाता है। 

लखनऊ : उत्तर प्रदेश की राजधानी लखनऊ व राज्यभर के सभी जिलों में शनिवार को ईद का त्योहार हर्ष और उल्लास से मनाया जा रहा है।

इस मौके पर राज्यपाल राम नाईक ने ईद की बधाई दी। इस बीच पुलिस अधिकारियों ने बताया कि ईद को देखते हुए सभी ईदगाहों के आसपास सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं। 

ईदगाह पर राज्यपाल रामनाईक के अलावा उपमुख्यमंत्री दिनेश शर्मा, कैबिनेट मंत्री रीता बहुगुणा जोशी व पूर्व मुख्यमंत्री अखिलेश यादव भी पहुंचे।

सपा संस्थापक मुलायम सिंह यादव ने देशभर के मुसलमानों को ईद की बधाई दी। 

ईद-उल-फितर की नमाज के लिए ईगदाहों और मस्जिदों में अल्लाह के सजदे में लाखों लोगों ने सिर झुकाए । गोरखपुर शहर की सभी सात ईदगाहों में ईद की नमाज अदा की गई।

इसके अलावा शहर की मस्जिदों में भी ईद-उल-फितर की नमाज पढ़ी गई।

राजधानी के शहर-ए-काजी मुती वलीउल्लाह ने कहा, “ईदगाह का अर्थ होता है खुशी की जगह या खुशी का वक्त। यह ऐसी जगह है जहां पर बंदा दो रकात नमाज पढ़ कर अल्लाह का शुक्र अदा करता है।

मुसलमानों के दो सबसे बड़े त्योहारों ईद-उल-फितर और ईद-उल-अजहा की खुशी ईदगाह में ही मनाई जाती है।” 

पुलिस अधिकारियों ने बताया कि ईद के मुबारक मौके पर ईदगाहों और मस्जिदों के आसपास सुरक्षा के पुख्ता इंतजाम किए गए हैं।

धार्मिक प्रतिष्ठानों की सुरक्षा पर विशेष नजर रखी जा रही है।

कानपुर, वाराणसी, मेरठ, लखनऊ सहित कई शहरों में सुरक्षा की दृष्टि से अतिरिक्त पुलिस बल की तैनाती की गई है। 

पटना, बिहार  में पाक रमजान महीने के बाद शनिवार को ईद की धूम देखी जा रही है।

राज्य की सभी मस्जिदों में बड़ी संख्या में मुस्लिम समुदाय के लोग पहुंच रहे हैं।

पटना के गांधी मैदान में बड़ी संख्या में लोगों ने पहुंचकर ईद के मौके पर नमाज अदा की और एक-दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी।

इस मौके पर बच्चों में खासा उल्लास देखने को मिला।

बच्चों ने भी अपने हमउम्र साथियों के गले मिलकर एक-दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी। 

बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार भी ईद के मौके पर गांधी मैदान पहुंचे और बिहार और देश के लोगों को ईद की मुबारकबाद दी।

उन्होंने लोगों से देशभर में शांति और भाईचारा बनाए रखने की अपील की।

नीतीश ने रमजान के पाक महीने को तपस्या बताते हुए कहा कि इस पाक महीने के बाद ईद सभी के लिए खुशियां लेकर आए। 

राज्य के अन्य जिलों में ईद-उल-फितर का पर्व धूमधाम से मनाया जा रहा है।

पटना के विभिन्न मस्जिदों में भी ईद की नमाज पढ़ी गई और लोगों ने एक-दूसरे को ईद की मुबारकबाद दी।

राज्य के मधेपुरा, गया, भागलपुर, बगहा, मुजफ्फरपुर, समस्तीपुर और दरभंगा समेत पूरे राज्य में लोग एक-दूसरे को गले लगाकर ईद की मुबारकबाद दे रहे हैं।

ईद को लेकर राज्य में सुरक्षा व्यवस्था कड़ी कर दी गई है।

विजयवाड़ा, आंध्र प्रदेश के मुख्यमंत्री एन.चंद्रबाबू नायडू ने शनिवार को मुस्लिमों के साथ मिलकर ईद-उल-फितर की नमाज अदा की।

उन्होंने विजयवाड़ा में नगरपालिका के मैदान में मुस्लिमों के साथ खड़े होकर ईद की नमाज अदा की।

उन्होंने ईद के मौके पर मुस्लिम नेताओं और आम लोगों को बधाई दी।

उन्होंने वहां इकट्ठा भीड़ को संबोधित करते हुए उर्दू में मुस्लिमों को बधाई दी।

उन्होंने कहा कि मुस्लिम मानवता की भलाई के लिए रमजान के महीने में रोजा रखते हैं।

नायडू ने कहा कि वह खुदा से राज्य और यहां के लोगों की समृद्धि और खुशी के लिए प्रार्थना करेंगे।

उन्होंने कहा कि तेलुगू देसम पार्टी (तेदेपा) सरकार राज्य में सांप्रदायिक सौहार्द को बनाए रखने क प्राथमिकता दे रही है।

उन्होंने याद दिलाया कि तीन तलाक विधेयक का विरोध करने वालों में तेदेपा पहली पार्टी थी।

नायडू ने कहा कि अल्पसंख्यकों के कल्याण के लिए राज्य के बजट से 1,100 करोड़ रुपये आवंटित किए गए हैं।

उन्होंने ऐलान किया कि राज्य में अल्पसंख्यकों के लिए जल्द 25 आवासीय स्कूल खोले जाएंगे। 

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close