breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराज्यों की खबरें
Trending

थम नहीं रहा जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमलों का सिलसिला,24घंटे में तीन आतंकी हमले,मेजर शहीद,12घायल

मुठभेड़ में शहीद हुए मेजर केतन शर्मा मेरठ के निवासी थे। दुख और गम में डूबे हुए उनके परिजनों ने कहा है कि ‘सरकार पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दें।‘

नई दिल्ली,18 जून: Jammu Kashmir valley three terrorists attack- जम्मू कश्मीर (Jammu Kashmir ) के अनंतनाग में सुरक्षा बलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ जारी है। इस मुठभेड़ में एक मेजर शहीद हो गए है। सोमवार को जम्मू-कश्मीर में सुरक्षाबलों पर तीन आतंकी हमले (Jammu Kashmir valley three terrorists attack) हुए है।

24घंटे में इन तीन आतंकी हमलों के बाद से सेना अलर्ट पर है। कश्मीर घाटी में आतंकवादियों द्वारा सुरक्षाबलों पर किए जा रहे आतंकी हमलों से शांति-व्यवस्था की कोशिशों को गहरा धक्का लगा है।

इन आतंकी हमलों में 12 जवान घायल हो गए है और एक मेजर शहीद हो गए है। आतंकवादियों और सुरक्षा बलों की मुठभेड़ में एक पाकिस्तानी आतंकी भी मारा गया है।

यह भी पढ़े: अमृतसर एअरपोर्ट को खाली कराया गया, जम्मू-कश्मीर के सभी हवाईअड्डे बंद

गौरतलब है कि सोमवार को दक्षिण कश्मीर में सेना के जवानों और आतंकवादियों के बीच हुए एनकाउंटर में सेना के मेजर केतन शर्मा शहीद हो (major martyr) गए और एक ऑफिसर समेत दो जवान घायल हुए है।

बकौल अधिकारी ये मुठभेड़ अनंतनाग जिले (Anantnag encounter )के अचबल में हुई थी।

पुलिस के अधिकारी ने बताया कि आतंकवादियों की मौजूदगी कि

प्राप्त जानकारी के अनुसार, आतंकवादियों का सुराग मिलने के बाद सेना ने अचबल इलाके में घेराबंदी करके सर्च ऑपरेशन शुरू कर दिया था।

लेकिन जवाब में जब आतंकवादियों ने सुरक्षाबलों पर गोली चलाई तो यह सर्च ऑपरेशन मुठभेड़ (Anantnag encounter )में तब्दील हो गया।

जिसमें मेजर केतन शर्मा,एक अन्य ऑफिसर समेत दो जवानों को गोली लगी। इन सभी को 92बेस अस्पताल में ले जाया गया। अस्पताल पहुंचते ही मेजर की मौत हो गई।

यह भी पढ़े: Big News: IAF स्ट्राइक के बाद तिलमिलाएं पाकिस्तान की फायरिंग, सेना के 10 जवान घायल, दिल्ली, मुंबई समेत 5 शहरों में हाई अलर्ट

शहीद मेजर के परिजनों ने कहा है कि दुश्मन को सरकार मुहंतोड़ जवाब दें।

मुठभेड़ में शहीद हुए मेजर केतन शर्मा मेरठ के निवासी थे। दुख और गम में डूबे हुए उनके परिजनों ने कहा है कि ‘सरकार पाकिस्तान को मुंहतोड़ जवाब दें।‘

शहीद मेजर केतन (major martyr)  के दोस्त मेजर आदित्य मलिक उन्हें याद करते हुए कहते है कि ‘केतन ने कुछ ही दिन पहले अपनी बिटिया का जन्मदिन मनाया था।

हम सबने साथ में बहुत इंजॉय किया था। मेजर केतन शर्मा काफी जिंदादिल शख्स थे। तमाम चैलेंजेस के बीच भी वे खुश रहते थे। उनके चेहरे पर कभी शिकन नहीं दिखती थी।‘

गौरतलब है कि कश्मीर घाटी में यह 24 घंटे में तीसरा आतंकवादी हमला (Jammu Kashmir valley three terrorists attack) है।

यह भी पढ़े: जम्मू-कश्मीर में प्रमुख राजनीतिक पार्टियां अनुच्छेद 35ए के समर्थन में आगे आई

Jammu Kashmir valley three terrorists attack-

पहला हमला अनंतनाग जिले के अचबल में सर्च ऑपरेशन के समय हुआ। जब आतंकवादियों ने गोली चलाई और मुठभेड़ शुरू हो गई।

दूसरा हमला सेना की राष्ट्रीय राइफल्स के एक वाहन पर IEED के द्वारा किया गया। यह हमला पुलवामा के अरिहल गांव में हुआ।

तीसरा हमला आतंकी हमला त्राल में CRPF की 180वीं बटैलियन के हेडक्वार्टर पर ग्रेनेड फेंककर किया गया।

यह भी पढ़े: जम्मू-कश्मीर में आतंकी हमले की विश्वभर में निंदा,अमेरिका का पाकिस्तान को अल्टीमेटम

 

(इनपुट एजेंसी से भी)

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: