breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराज्यों की खबरें
Trending

कठुआ बलात्कार और हत्या कांड पर फैसला आज, ये है मुख्य बातें

कठुआ केस में फैसला आने से पहले कोर्ट और आसपास कड़े सुरक्षा इंतेजाम किए गए है

नई दिल्ली,10 जून : Kathua rape and murder case verdict- कठुआ बलात्कार और हत्या मामले में आज फैसला आ सकता है। जम्मू-कश्मीर में 8 साल की बच्ची के साथ हुए इस घृणित रेप और फिर हत्या के केस में विशेष अदालत आज (सोमवार, 10 जून) को फैसला सुनाएंगी।

कठुआ केस में फैसला आने से पहले कोर्ट और आसपास कड़े सुरक्षा इंतेजाम किए गए है। किसी भी प्रकार की अप्रिय घटना न हो इसके लिए अधिकारी हालात पर नजदीक से नजर रखे हुए है।

गौरतलब है कि 15 पन्नों की चार्जशीट के अनुसार, बीते साल 10 जनवरी को एक 8 साल की बच्ची का कठुआ जिले के गांव से अपहरण किया गया और उसे एक मंदिर में बंधक बनाकर उसके साथ रेप किया गया। चार दिन तक बच्ची को बेहोश रखकर अंतत: उसकी निर्मम हत्या कर दी गई।

  • पिछले बरस जून के प्रथम हफ्ते में इस केस की सुनवाई पड़ोसी राज्य पंजाब के पठानकोट में सत्र और जिला कोर्ट में डेली बेसिस पर हुई।
  • सुप्रीम कोर्ट ने कठुआ केस को जम्मू-कश्मीर से बाहर ट्रांसफर करने का आदेश दिया था चूंकि कठुआ में वकीलों ने क्राइम ब्रांच के ऑफिसर्स को इस संवेदनशील केस में चार्जशीट दाखिल करने से रोका था। इस केस में प्रॉसिक्यूटिंग पार्टी में जे के चोपड़ा, एस एस बसरा और हरमिंदर सिंह शामिल थे।
  • सुप्रीम कोर्ट द्वारा बाहर सुनवाई के आदेश के बाद इस केस की सुनवाई जम्मू से 100 किलोमीटर और कठुआ से 30 किमी. दूर पठानकोट की कोर्ट में हुई थी।
  • इस केस में क्राइम ब्रांच ने ग्राम प्रधान सांजी राम और उसके बेटे विशाल, भतीजे किशोर व उसके फ्रेंड आनंद दत्ता को अरेस्ट किया था।
  • कठुआ केस में दो स्पेशल पुलिस ऑफिसर्स दीपक खजुरिया और सुरेंद्र वर्मा को भी अरेस्ट किया गया।
  • कथित तौर महत्वपूर्ण सबूतों को मिटाने और चार लाख रुपये लेने के मामले में हेड कॉन्स्टेबल तिलक राज और एसआई आनंद दत्ता को भी अरेस्ट किया गया। कथित आरोप है कि इन्होंने सांजी राम से पैसा लिया।
  • डिस्ट्रिक्ट और सेशन जज ने 8 आरोपियों में से 7  के खिलाफ रेप और मर्डर के आरोप तय किए है। जो आरोपी किशोर है, उसके खिलाफ मुकदमा फिलहाल शुरू नहीं हुआ। जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट में उसकी उम्र संबंधी याचिका पर सुनवाई होनी है।
  • यदि आज कठुआ केस में आरोपियों पर दोष सिद्ध हो जाता है तो उन्हें ज्यादा से ज्यादा मौत की सजा और कम से कम उम्रकैद की सजा सुनाई जा सकती है।

यह भी पढ़े: कठुआ कांड : सभी आरोपियों की कोर्ट में पेशी, वकील को मिली धमकी, 28 अप्रैल होगी अगली सुनवाई

यह भी पढ़े: उन्नाव रेप कांड: रेप के आरोपी भाजपा विधायक को यूपी पुलिस ‘अपराधी’ नहीं ‘माननीय’ मानती है,पॉक्सो एक्ट के तहत केस दर्ज होने पर भी गिरफ्तारी नहीं

यह भी पढ़े: जात न पूछो बलात्कार की… 

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: