नीतीश सरकार : हमारे पास दो विकल्प थे,या तो भ्रष्टाचार का साथ दो या नहीं,हमनें वही किया जो सही था

पटना, 31 जुलाई : बिहार के मुख्यमंत्री नीतीश कुमार ने यहां सोमवार को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की तारीफ करते हुए कहा कि अभी उनसे मुकाबला करने की किसी में क्षमता नहीं है। नई सरकार बनाने के बाद पहली बार पत्रकारों के साथ बातचीत में नीतीश ने कहा कि हाल के दिनों में महागठबंधन में जो परिस्थिति उत्पन्न हो गई थी, उसमें त्यागपत्र देने के अलावा कोई और विकल्प ही नहीं था। 

उन्होंने कहा, “मैं शुरू से ही भ्रष्टाचार के खिलाफ था और बिहार में भ्रष्टाचार की बातें पूरे देश में चर्चा होने लगी थीं, जिससे बिहार की बदनामी हो रही थी। जिनके ऊपर आरोप लगे थे, उन्होंने स्पष्टीकरण देने से इंकार कर दिया। मैंने कभी किसी से इस्तीफा नहीं मांगा था। मैंने कई बार कहा कि स्थिति स्पष्ट करें, जनता के सामने स्पष्टीकरण जरूरी होता है। मेरी पार्टी भ्रष्टाचार के खिलाफ थी और यह पार्टी का फैसला था।” 

नीतीश ने कहा, “उस समय हमारे पास दो ही विकल्प थे या तो भ्रष्टाचार से समझौता कर लेते, जो हमारे लिए संभव नहीं था।” उन्होंने माना कि अभी उनके ऊपर कई आरोप लगाए जाएंगे, परंतु वह आरोपों से घबराते नहीं।

वर्ष 2019 में नरेंद्र मोदी को प्रधानमंत्री के रूप में देखे जाने के संदर्भ में पूछे गए एक प्रश्न के जवाब में उन्होंने बेबाकी से कहा, “उनके (मोदी) अलावा कोई और हो ही नहीं सकता। अभी उनसे मुकाबला करने की किसी में क्षमता नहीं है।” 

उन्होंने कहा, “पूरे बिहार में घूम-घूमकर मैंने बेनामी संपत्ति पर कार्रवाई करने की मांग की थी और जब कार्रवाई होने लगी, तब मैं कैसे उसे नकार सकता था।” 

राजद द्वारा मुख्यमंत्री बनाए जाने पर पलटवार करते हुए नीतीश ने कहा, “मैं किसी की कृपा से मुख्यमंत्री नहीं बना, लेकिन मुझे जनता की परवाह है। मैं कभी किसी के बताए गलत रास्ते पर नहीं चल सकता।” 

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

error:
Close