breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीतिराज्यों की खबरेंलोकसभा चुनाव 2019
Trending

आखिर बंगाल हिंसा पर हरकत में आया इलेक्शन कमीशन, प्रचार में 1 दिन किया कम

election-commission-on-bjp-tmc-clash-no-election-campaign-in-west-bengal-from-10pm-16may

नई दिल्ली, 15 मई (समयधारा) l पश्चिम बंगाल में जारी हिंसा के बीच  आज आखिरकार चुनाव आयोग हरकत में आया

और उन्होंने एक बड़ा फैसला लेते हुए बंगाल में प्रचार का दिन समय से एक दिन पहले खत्म करने का बड़ा फैसला लिया l 

19 तारीख को सातवें और अंतिम चरण में होने वाले चुनाव प्रचार की समय सीमा 17 की बजाय 16 तारीख करने का फैसला लिया l 

गौरतलब है की TMC और BJP के बीच बंगाल में जोरदार हिंसा का दौर शुरू है l

कल अमित शाह के रोड शो पर जबरदस्त बवाल मचा था l TMC के कार्यकर्ताओं ने पत्थरबाजी की थी l

वही बीजेपी के कार्यकर्ताओं ने भी इसका माकूल जवाब दिया था l 

इस पर चुनाव आयोग काफी नाराज था l चुनाव आयोग ने कहा कि कल (गुरुवार) रात 10 बजे के बाद

पश्चिम बंगाल की 9 लोकसभा सीटों पर कोई चुनाव प्रचार नहीं होगा। पहले चुनाव प्रचार शुक्रवार शाम 5 बजे खत्म किया जाना था।

एक्सपर्टस की राय में इसे भाजपा द्वारा चुनाव आयोग से ममता बनर्जी के चुनाव प्रचार पर रोक लगाने संबंधी याचिका से भी जोड़कर देखा जा रहा है। बस इस मुद्दे को सीधे तरीके से नहीं घुमाकर लागू करवाया गया है।

चुनाव आयोग ने ईश्चरचंद विद्यासागर की मूर्ति तोड़े जाने को भी दुर्भाग्यपूर्ण बताया है।

घटना पर ऐक्शन लेते हुए चुनाव आयोग ने एडीजी (सीआईडी) और राज्य के प्रधान सचिव (गृह) को भी हटा दिया है।

election-commission-on-bjp-tmc-clash-no-election-campaign-in-west-bengal-from-10pm-16may

चुनाव आयोग ने अपने आदेश में कहा, ‘पश्चिम बंगाल में कुछ दिनों पहले हुई घटनाएं, खास तौर पर पिछले 24 घंटों में जो भी हुआ,

राजनीतिक पार्टियों की तरफ से मिली शिकायत, पश्चिम बंगाल चुनाव आयोग के डीईसी की रिपोर्ट

और स्पेशल ऑब्जर्वर अजय नायक (रिटायर्ड आईएएस) और विवेक दूबे (रिटायर्ड आईपीसी) की जॉइंट रिपोर्ट के आधार पर स्वतंत्र,

मुक्त, पारदर्शी, हिंसा रहित और आदर्श चुनाव कराने के लिए कोई भी व्यक्ति या समूह पब्लिक मीटिंग नहीं कर सकता,

इसके अलावा किसी भी अन्य ढंग से गुरुवार रात 10 बजे के बाद चुनाव प्रचार नहीं किया जा सकता है।

चुनाव प्रचार सिर्फ 16-05-2019 रात 10 बजे तक ही किया जा सकता है।

यह आदेश पश्चिम बंगाल की 9 लोकसभा सीटों के लिए लागू होगा। इन सीटों पर 19 मई को मतदान होना है।’

चुनाव आयोग ने कहा, ‘शायह यह पहला मौका है, जब चुनाव आयोग ने धारा 324 का प्रयोग किया है,

लेकिन कानून व्यवस्था का फिर से पालन न होने पर, हिंसा होने पर और चुनाव के दौरान

आचार संहिता का उल्लंघन होने पर यह कदम फिर से उठाया जा सकता है।’

चुनाव आयोग ने कहा, ‘चुनाव आयोग ईश्वर चंद विद्यासागर की मूर्ति को तोड़े जाने की निंदा करता है।’ 

गौरतलब है कि 19 मई को पश्चिम बंगाल की 9 सीटों पर चुनाव होना है, ऐसे में सभी राजनीतिक पार्टियां अपनी पूरी ताकत झोंक रही हैं।

मंगलवार को बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो के दौरान खूब हंगामा हुआ।

इस दौरान वहां के कॉलेज में ईसी विद्याासागर की मूर्ति भी क्षतिग्रस्त की गई। बीजेपी और टीएमसी इस हिंसा के लिए एक-दूसरे पर आरोप लगा रही हैं।  

यह चुनाव ममता बनर्जी के लिए साख का सवाल है वही बीजेपी ने भी अपनी पूरी ताकत झोक दी है चुनाव को जीतने में l

election-commission-on-bjp-tmc-clash-no-election-campaign-in-west-bengal-from-10pm-16may

बंगाल के चुनाव पर पूरे देश की नजर है l यहाँ से ही बीजेपी के लिए बंगाल में आगे का रास्ता निकलेगा l

2014 में सिर्फ दो सीट जितने वाली बीजेपी को इस बार यहाँ से कम से कम 23 सीट जितने की उम्मीद है l

अब इसका फैसला तो 23 तारीख को ही पता चलेगा की कौन कितनी सीट जीतता है l 

(इनपुट एजेंसी से भी)

लोकसभा चुनाव 2019 अभी तक की बयानबाजी – कौन है किस पर भारी 

समाजवादी पार्टी के तेज बहादुर का नामांकन रद्द-शालिनी यादव की फिर एंट्री 

सेना के नाम पर वोट मांगने के आरोप से पीएम मोदी को चुनाव आयोग से क्लीन चिट

राहुल गांधी हिंदुस्तानी है,सब जानते है,हार के डर से केंद्र ने विदेशी नागरिकता का मुद्दा उठाया : प्रियंका गांधी 

किरण बेदी पर चला हाई कोर्ट का चाबुक-सरकार के कामकाज में दखल देने का हक़ नहीं

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: