होम > देश > राजनीति > मोदी : विपक्षी पार्टी तो मिसाइल परीक्षण का भी सबूत मांगेगी
Home sliderअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति

मोदी : विपक्षी पार्टी तो मिसाइल परीक्षण का भी सबूत मांगेगी

रुद्रपुर/बदायूं, 13 फरवरी :  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रक्षा अनुसंधान विकास संगठन (डीआरडीओ) द्वारा शनिवार को इंटरसेप्टर मिसाइल के सफल परीक्षण की सराहना की और कांग्रेस पर कटाक्ष करते हुए कहा कि विपक्षी पार्टी तो इस परीक्षण का भी सबूत मांगेगी। उत्तराखंड में एक चुनाव रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कारोबारियों से ज्यादा भ्रष्ट राजनेताओं ने देश को नुकसान पहुंचाया। उन्होंने कहा कि भ्रष्टाचार के खिलाफ उनकी सरकार की लड़ाई जारी रहेगी।

उधर, उत्तर प्रदेश के बदायूं जिले में एक रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने मुख्यमंत्री अखिलेश यादव पर अपराधियों को शरण देने का आरोप लगाया।

प्रधानमंत्री ने कहा, “आपने सुना होगा कि कुछ देश 5,000 किलोमीटर या 8,000 किलोमीटर की दूरी तक मार करने वाली मिसाइलों का विकास कर रहे हैं। पिछले महीने आपने सुना होगा कि पाकिस्तान एक मिसाइल का विकास कर रहा है, जो अंडमान द्वीप को तबाह कर सकता है।”

ओडिशा तट पर इंटरसेप्टर मिसाइल के सफल परीक्षण के कुछ घंटों बाद मोदी ने रैली को संबोधित करते हुए कहा, “लेकिन मेरी भी सुन लीजिए, भारत में मिसाइलों का अकाल नहीं पड़ा है और आज हमारे वैज्ञानिकों ने एक ऐसी उपलब्धि हासिल की है, जिससे पूरा देश गौरवान्वित है।”

मोदी ने कहा, “आज जिस इंटरसेप्टर मिसाइल का परीक्षण हुआ है, वह दुश्मनों की मिसाइलों को आसमान में 150 किलोमीटर की ऊंचाई पर ही मार गिराने में सक्षम है। केवल चार या पांच देश ही इस उपलब्धि को हासिल कर पाए हैं।”

भारतीय सेना द्वारा नियंत्रण रेखा के पार पाकिस्तान के कब्जे वाली कश्मीर (पीओके) में जाकर 29 सितंबर को किए सर्जिकल स्ट्राइक का विपक्ष द्वारा सबूत मांगे जाने की ओर इशारा करते हुए मोदी ने कटाक्ष करते हुए कहा कि कांग्रेस इस मिसाइल परीक्षण का भी सबूत मांग सकती है।

मोदी ने कहा, “हमें नहीं पता कि हमारी विरोधी कांग्रेस कब कौन सी नई मांग कर दे। वे इस बात का सबूत मांगेंगे कि मिसाइल आसमान में 150 किलोमीटर की ऊंचाई पर पहुंचा था। वह आने वाली मिसाइल को ध्वस्त करने के भी सबूत मांगेगी।”

उन्होंने कहा, “सर्जिकल स्ट्राइक देश के लिए एक बड़ी उपलब्धि है। पूरी दुनिया भारत की ताकत देखकर अभिभूत है। लेकिन कुछ नेता हैं, जिन्होंने सर्जिकल स्ट्राइक पर सवाल किए और उसका सबूत मांगा।”

नरेंद्र मोदी ने कहा, “क्या यह हमारे वीर जवानों, देश की उपलब्धि तथा आत्मसम्मान का अपमान नहीं है?”

प्रधानमंत्री ने राज्य में सत्ताधारी कांग्रेस की सरकार पर उत्तराखंड के विकास को अवरुद्ध करने का आरोप लगाया और प्रदेश की जनता से विकास, विद्युत, कानून व्यवस्था व सड़क सुनिश्चित करने के लिए भाजपा को वोट देने की अपील की।

उन्होंने कहा, “कोई व्यापारी किसी चीज के लिए 20 के बदले 25 रुपये ले सकता है या सरकार को कर के रूप में 100 के बदले 80 रुपये ही दे सकता है। लेकिन कारोबारियों के चलते नहीं, बल्कि राजनेताओं के भ्रष्टाचार के चलते देश का सर्वाधिक नुकसान होता है।”

मोदी ने कहा, “ऐसे राजनेताओं के खिलाफ मेरी लड़ाई जारी रहेगी, जो अपने प्रभाव का इस्तेमाल देश की संपदा लूटने के लिए करते हैं। मैं जानता हूं कि 70 साल से देश लूट रहे लोगों के खिलाफ लड़ाई में दिक्कतें आएंगी। लेकिन हमारी लड़ाई जारी रहेगी।”

प्रधानमंत्री हालांकि भाजपा शासित मध्यप्रदेश के व्यापम घोटाले, छत्तीसगढ़ के धान व नान घोटाले और पाकिस्तान के लिए जासूसी करने वाले आईएसआई के 11 एजेंटों के मध्यप्रदेश में पकड़े जाने और दो संदिग्धों के भाजपा से नाते को नजरअंदाज कर गए। यह उनकी मजबूरी है।

बदायूं में रैली को संबोधित करते हुए प्रधानमंत्री ने सपा तथा मायावती के नेतृत्व वाली बहुजन समाज पार्टी (बसपा) पर अपने राजनीतिक लाभ के लिए जनता की आकांक्षाओं के साथ खेलने का आरोप लगाया। साथ ही उन्होंने जोर दिया कि अगर भाजपा सत्ता में आती है, तो भाजपा विकास का सूत्रपात करेगी।

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published.

Back to top button
error:
Close