breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीति
Trending

Children’s Day 2019 (बाल दिवस) : चाचा नेहरू के जन्मदिन पर उनकी लाजवाब बातें

childrens-day-2019-jawaharlal-nehru-birthday-motivational-words-quotes-in-hindi

नई दिल्ली,14 नवंबर : #Children’s Day 2019चाचा नेहरु का जन्मदिन l

गुलाब की शख्सियत वाले इस महान नेता को  गुलाब से प्यार था और  चाचा नेहरू को न केवल गुलाबों से प्यार था,

  बल्कि गुलाबों की ही तरह मासूम और प्यारे बच्चों से भी बेइंतहा लगाव था।

यही कारण है कि भारत के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू के जन्मदिन को बाल दिवस के रूप में मनाया जाता है।

ये शायद इतिहास में पहली बार है कि किसी भी देश के प्रधानमंत्री को चाचा सरीखे उपनाम से नवाजा गया।

चूंकि पिता के बाद एक चाचा ही होता है जो घर के बच्चों का मार्गदर्शन करता है

और देश के पहले प्रधानमंत्री जवाहर लाल नेहरू ने भी हमेशा से बच्चों के अस्तित्व, उनकी भूमिका और उनकी देखभाल को तवज्जों दी।

यह भी पढ़े: गोवा में 10वीं की सामाजिक विज्ञान की पुस्तक में नेहरू को हटाकर सावरकर की फोटो : NSUI

आज हम सभी के प्रिय चाचा नेहरू के जन्मदिन यानि चिल्ड्रेंस डे पर पंडित जी के जीवन की उन प्रेरणादायक बातों को जानते है

जो आज भी प्रासांगिक है और आपके जीवन को प्रेरणा देने में सहायक है:

1.बच्चे देश का भविष्य है। आज के बच्चे ही कल के नवीन भारत का निर्माण करेंगे।

इसलिए बच्चों का निर्माण जैसा होगा वैसा ही देश का भविष्य निर्मित होगा।

2.बच्चों को केवल किताबी ज्ञान देना ही आवश्यक नहीं है बल्कि अच्छे संस्कार भी जरूरी है। बच्चे जैसे-जैसे बड़े होते जाते है,

बदकिस्मती से उनकी नेचुरल फ्रीडम पुरानी शिक्षा प्रणाली के चलते खराब होती जाती है।

childrens-day-2019-jawaharlal-nehru-birthday-motivational-words-quotes-in-hindi

स्कूल में वे जो बातें सीखते है उन्हें समय के साथ जल्दी ही भूल भी जाते है,

लेकिन संस्कार एक ऐसी चीज है जो बच्चों में कोमलवस्था में रोपी जाएं तो उसी से उनके बलिष्ठ व्यक्तित्व का निर्माण होता है।

3.ज्ञान के निर्बाध रूप से बहते रहने देना चाहिए। सामुदायिक विकास के लिए शिक्षा बहुत जरूरी है।

इसलिए शिक्षा से मिले ज्ञान से सिर्फ स्वंय का ही नहीं बल्कि संपूर्ण समाज का कल्याण करना चाहिए।

यह भी पढ़े: भारत-पाक विभाजन के लिए दलाई लामा ने पहले नेहरू को ठहराया जिम्मेदार,फिर मांगी माफी

4.बच्चे बड़ों से ज्यादा समझदार,सच्चे और बुद्धिमान होते है। जब वे आपस में झगड़ते है तो उनकी लड़ाई केवल वहीं तक रहती है।

childrens-day-2019-jawaharlal-nehru-birthday-motivational-words-quotes-in-hindi

बच्चों के अंदर न मनभेद होता और न ही मतभेद। बच्चे जाति,रंग,क्लास का भेद नहीं समझते और न मानते।

5.एक यूनिवर्सिटी साहसिक विचारों,सहिष्णुता, मानवतावाद और सच की खोच के लिए जानी जाती है।

6.बच्चों का दिल मासूम होता है। वे कलियों की भांति कोमल स्वभाव के होते है।

उन्हें प्यार और सावधानीपूर्वक पालना चाहिए चूंकि बच्चे ही देश का भविष्य है और आने वाले कल के नागरिक है।

बच्चों के व्यक्तित्व निर्माण में सही शिक्षा बहुत जरूरी है। तभी उन्हें सही दिशा मिल सकेगी।

7.बच्चा अगर असभ्य है तो वो तब तक सभ्य नहीं बन सकता जब तक आप उसकी एनर्जी को किसी सही जगह न लगाए। ब

च्चों का डांटने-डपटने से या गलत बातों पर टोकने से वे नहीं सुधरेंगे बल्कि उनकी उसी क्षमता को आपको किसी अन्य जगह लगाना होगा।

childrens-day-2019-jawaharlal-nehru-birthday-motivational-words-quotes-in-hindi

बच्चों को केवल प्यार से सुधारा जाना चाहिए। आप उन्हें किसी रचनात्मक कार्य जैसे-संगीत सीखना,

या फिर कराटे या जो भी उन्हें पसंद हो उसमें लगा सकते है।

यह भी पढ़े: नेहरू की पुण्यतिथि : मोदी, राहुल, मनमोहन, प्रणव आदि ने श्रद्धांजलि दी

पंडित जवाहर लाल नेहरू कहते थे कि बच्चे देश का भविष्य है।

स्वस्थ समाज की नींव तभी पड़ सकती है जब बच्चों का समुचित विकास और शिक्षाकरण हो। स्वस्थ समाज से ही स्वस्थ देश का निर्माण होता है।

बच्चों को उचित शिक्षा और मार्गदर्शन मिलना चाहिए और शिक्षा के स्तर को सुधारकर ही ये संभव है। चाचा नेहरू का कहना  था कि,

बच्चों को पढ़ाई के वैज्ञानिक तरीकों के साथ-साथ लॉजिकल शिक्षा देने पर भी ध्यान देना चाहिए। वे रूसी दृष्टिकोण का समर्थन करते थे।

childrens-day-2019-jawaharlal-nehru-birthday-motivational-words-quotes-in-hindi

नेहरू जी को पता था कि संकुचित मानसिकता,साम्यवादी विचारों और धार्मिक उन्माद को केवल शिक्षा के द्वारा ही दूर किया जा सकता है।

नेहरू जी शिक्षा के क्षेत्र में वैज्ञानिक और मानवीय मानसिकता को बढ़ाने पर जोर देते थे। उन्होंने इंग्लिश लैंग्वेज पर भी काफी जोर दिया,

क्योंकि वे जानते थे कि वैश्विक भाषा होने के कारण बच्चे इसे सीखकर ही देश का विकास कर सकते है।

चाचा नेहरू का कहना था कि शिक्षा से कला,संस्कृति और प्रत्येक युग के विकास के विषय में जानकारी मिलती है।

इसके लिए उन्होंने देश में खास संस्थानों की नींव रखने,कला और संस्कृति में तीव्र विकास की वकालत की थी।

पंडित जवाहर लाल नेहरू ने देश में सभी बच्चों को समान शिक्षा नि:शुल्क उपलब्ध कराने

और जरूरी प्राथमिक शिक्षा के अवसर मुहैया कराने के लिए पांच साल की योजनाएं बनाई थी।

यह भी पढ़े: नेहरू-गांधी परिवार से बाहर का सदस्य भी भविष्य में कांग्रेस अध्यक्ष बन सकता है: सोनिया गांधी

ललित कला अकादमी और साहित्य कला अकादमी को स्थापित करने में नेहरू जी ने मदद की  थी।

पंडित नेहरू ही इन साहित्यिक संस्थानों के प्रथम अध्यक्ष थे।

आज बाल दिवस पर चाचा नेहरू के प्रेरणादायक विचारों से देश के बच्चे और जनता अपने जीवन में अभूतपूर्व बदलाव ला सकती है।

समयधारा की ओर से सभी को बाल दिवस की शुभकामनाएं!

Happy Children’s Day!

childrens-day-2019-jawaharlal-nehru-birthday-motivational-words-quotes-in-hindi

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: