breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबिजनेसबिजनेस न्यूजराजनीति
Trending

आचार्य के बयान से RBI व सरकार के बीच मतभेद खुलकर बाहर आ गए

नई दिल्ली, 2 नवंबर : आचार्य के बयान से RBI व सरकार के बीच मतभेद खुलकर बाहर आ गए 

आर्थिक मामलों के सचिव सुभाष चंद्र गर्ग द्वारा शुक्रवार को आरबीआई के डिप्टी गवर्नर

विरल आचार्य की टिप्पणी को खारिज करने के साथ केंद्र और भारतीय रिजर्व बैंक (आरबीआई) के बीच गतिरोध बना हुआ है।

डिप्टी गर्वनर विरल आचार्य ने अपनी टिप्पणी में कहा था कि अगर

केंद्रीय बैंक की स्वतंत्रता को नुकसान पहुंचा तो बाजार की नाराजगी उठानी पड़ सकती है।

गर्ग ने विरल आचार्य के बयान की निंदा की और उल्लेख किया कि हालिया व्यापक आर्थिक घटनाक्रम से -रुपये,

तेल व शेयर बाजार के प्रदर्शन में- किसी तरह की नाराजगी नहीं दिखाई देती है।

उन्होंने ट्वीट किया, “रुपया एक डॉलर के मुकाबले 73 से कम पर चल रहा है, कच्चा तेल 73 डॉलर प्रति बैरल है,

बाजार सप्ताह के दौरान चार फीसदी ऊपर है और बांड से आय 7.8 फीसदी से नीचे हैं। बाजार की नाराजगी।”

गर्ग की टिप्पणी विरल आचार्य की टिप्पणी के बाद आई है।

आचार्य ने अपनी टिप्पणी में केंद्रीय बैंक के मामले को दृढ़ता से उठाया था।

विरल आचार्य ने कहा कि सरकारें जो अपने केंद्रीय बैंक की स्वतंत्रता का सम्मान नहीं करतीं,

उन्हें जल्दी या देरी में वित्तीय बाजार की नाराजगी का सामना करना होगा।

आचार्य की टिप्पणी से आरबीआई व सरकार के बीच मतभेद खुलकर बाहर आ गए।

इस तरह की खबर भी है कि केंद्र द्वारा आरबीआई अधिनियम की जिस धारा का कभी इस्तेमाल नहीं किया,

उस धारा का इस्तेमाल केंद्रीय बैंक के लिए इस सरकार ने किया है।

-आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: