breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराजनीति
Trending

Breaking: राज्यसभा सांसद अमर सिंह का 64 वर्ष की उम्र में निधन

हाल के दिनों में उन्होंने ट्वीट करके अमिताभ बच्चन से माफी भी मांगी थी कि उन्होंने उनके व उनके परिवार के साथ गलत किया था...

नई दिल्ली:Amar Singh passes away at 64-राज्यसभा सांसद अमर सिंह का आज सिंगापुर में निधन  हो गया। वह बीते 6 महीनों से बीमार चल रहे थे। सिंगापुर में उनका इलाज चल रहा था। उनकी उम्र 64 साल थी।

अमर सिंह(Amar Singh) का किडनी ट्रांसप्लांट हुआ था लेकिन बीते काफी समय से वह बीमार चल रहे थे।

अमर सिंह का समाजवादी पार्टी और बॉलिवुड अभिनेता अमिताभ बच्चन (Amitabh Bachchan) के साथ भी एक समय काफी करीबी रिश्ता रहा है।

एक समय पर उत्तर प्रदेश के कद्दावर नेताओं में उनका नाम गिना जाता था।

हाल के दिनों में उन्होंने ट्वीट करके अमिताभ बच्चन से माफी भी मांगी थी कि उन्होंने उनके व उनके परिवार के साथ गलत किया था।

समाजवादी पार्टी के मुखिया मुलायम सिंह यादव से उनका सबसे ज्यादा करीबी रिश्ता रहा है। अमर सिंह के परिवार में उनकी दो बेटियां है।

अमर सिंह राजनीति में काफी बड़ा नाम रहे है और विधायकों की खरीद-फरोख्त में भी उनका नाम जुड़ा रहा है।

हाल में प्रकाशित एक रिपोर्ट में बताया गया था कि वह आईसीयू में थे और उनका परिवार भी सिंगापुर में था।

अमर सिंह की साल 2013 में किडनी खराब हो गई थी।

अमर सिंह वर्तमान में उत्तर प्रदेश से राज्यसभा के सांसद थे। 5 जुलाई 2016 को उन्हें उच्च सदस्या के लिए चुना गया था। समाजवादी पार्टी से अलग होने के बाद उनकी सक्रियता कम हो गई थी।

हालांकि, बीमार होने से पहले तक उनकी करीबियां भारतीय जनता पार्टी से बढ़ रही थीं। उनके राजनीतिक सफर की शुरुआत 1996 में राज्यसभा का सदस्य चुने जाने के साथ ही हुई थी।

एक समय मुलायम सिंह यादव के खास कहे जाने वाले अमर सिंह साल 2017 के पहले ही किनारे लगने लगे थे।

समाजवादी पार्टी में शिवपाल यादव और अखिलेश यादव के झगड़े में अखिलेश ने अमर सिंह को विलन माना।

कई बार तो अखिलेश ने खुलेआम अमर सिंह की आलोचना की। बाद में अमर सिंह भी बीजेपी के कार्यक्रमों में नजर आने लगे।

उन्होंने RSS से जुड़े संगठन को अपने पूरी संपत्ति दान करने का भी ऐलान किया था।

Amar Singh passes away at 64

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: