breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीति

CWC Meeting : जोरदार गहमागहमी के बीच 6 महीनों तक सोनिया गांधी के हाथ में ही रह सकती है कमान

कांग्रेस वर्किंग कमिटी की बैठक आज करीब 7 घंटे तक चली।  बैठक में सोनिया गांधी ने पार्टी में बागी रूख रखने वाले नेताओं के बारे में कहा, "मुझे दुख है लेकिन वे लोग मेरे सहयोगी हैं। पुरानी बातें भुलाकर हमें साथ में मिलकर काम करना चाहिए।"

cwc-meeting soniagandhi-to-remain-interim-congress-chief-next-6-months

नई दिल्ली (समयधारा) : देश की सबसे पुरानी पार्टी कांग्रेस के लिए आज का दिन काफी गहमागहमी वाला रहा l 

कांग्रेस वर्किंग कमिटी की बैठक में पार्टी की अंतरिम अध्यक्ष सोनिया गांधी ने पार्टी से कहा है कि वह नए अध्यक्ष चुनने की प्रक्रिया शुरू करे।

पार्टी के नेता लगातार इस बात की डिमांड करते आ रहे हैं कि पार्टी के लिए किसी फुल टाइम अध्यक्ष को चुना जाए।

हालांकि सूत्रों का कहना है कि सोनिया गांधी अगले कुछ और महीनों तक पार्टी के अध्यक्ष पद पर बनी रह सकती हैं।

आज बैठक में पार्टी की वरिष्ठ नेता मनमोहन सिंह ने कहा कि सोनिया गांधी को अगले कुछ और महीने तक अपने पद पर बने रहना चाहिए।

कांग्रेस के नेता मल्लिकार्जुन खड़गे ने कहा कि सोनिया गांधी को पार्टी अध्यक्ष पद पर बने रहना चाहिए।

उनकी अध्यक्षता में UPA करीब 10 साल तक सत्ता में रही। उन्होंने कहा कि अगर वह पद छोड़ती हैं तो राहुल गांधी को अध्यक्ष का पद स्वीकार करना चाहिए।

cwc-meeting soniagandhi-to-remain-interim-congress-chief-next-6-months

कांग्रेस वर्किंग कमिटी की बैठक आज करीब 7 घंटे तक चली। बैठक में सोनिया गांधी ने पार्टी में बागी रूख रखने वाले नेताओं के बारे में कहा,

“मुझे दुख है लेकिन वे लोग मेरे सहयोगी हैं।पुरानी बातें भुलाकर हमें साथ में मिलकर काम करना चाहिए।”

CWC की बैठक में माहौल उस वक्त बहुत गरम हो गया जब यह खबर आई कि

राहुल गांधी गुलाम नबी आजाद और कपिल सिब्बल पर BJP से मिले होने का आरोप लगा रहे हैं।

इसके बाद आजाद ने कहा कि ऐसा है तो वह इस्तीफा दे देंगे।

वहीं कपिल सिब्बल ने गुस्से में ट्वीट किया कि पिछले 30 साल के दौरान कभी पार्टी के खिलाफ बयान नहीं दिया।

हालांकि बाद में उन्होंने एक और ट्वीट करते हुए अपना पुराना ट्वीट डिलीट कर दिया।

cwc-meeting soniagandhi-to-remain-interim-congress-chief-next-6-months

उन्होंने कहा कि राहुल गांधी ने उन्हें निजी तौर पर सफाई दी है कि उनका कहने का ये मतलब नहीं था।

अपने दूसरे ट्वीच में सिब्बल ने लिखा, “राहुल गांधी ने मुझे पर्सनली बताया है कि उनका यह कतई मतलब नहीं था। ऐसे में मैं अपनी ट्वीट डिलीट कर रहा हूं।”

सिब्बल और आजाद सहित पार्टी के 30 सीनियर नेताओं ने शनिवार को सोनिया गांधी को लेटर लिखकर कहा था कि

वह पार्टी के लिए फुल टाइम अध्यक्ष नियुक्त करें। 2019 के चुनावों में कांग्रेस की हार के बाद राहुल गांधी ने अध्यक्ष पद से इस्तीफा दे दिया था।

उसके बाद सोनिया गांधी को अंतरिम अध्यक्ष बनाया गया था।

cwc-meeting soniagandhi-to-remain-interim-congress-chief-next-6-months

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen + 6 =

Back to top button