breaking_newsHome sliderदेशराजनीति

परस्पर विकास की भावना दोनों देशों के बेहतर भविष्य के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण : मोदी

अहमदाबाद, 17 जनवरी :  प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को कहा कि भारत और इजरायल को करीब लाने में नवाचार की महत्वपूर्ण भूमिका है और परस्पर विकास की भावना दोनों देशों के बेहतर भविष्य के लिए अत्यंत महत्वपूर्ण है। मोदी ने यहां आईक्रिएट केंद्र का उद्घाटन करते हुए कहा, “नवाचार ने भारत और इजरायल के लोगों को नजदीक लाने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाई है। इजरायल की प्रौद्योगिकी और रचनात्मकता से पूरा विश्व प्रभावित है। भारत के अन्वेषक यहां की जरूरत के हिसाब से लाभान्वित हो सकते हैं।”

उन्होंने कहा कि जल संवर्धन, कृषि उत्पादन, भंडारण सुविधाएं, खाद्य प्रसंस्करण, रेगिस्तान में कम पानी की खेती और साइबर सुरक्षा ऐसे मुद्दे हैं, जहां भारत इजरायल का साथी बन सकता है।

इजरायल के प्रधानमंत्री बेंजामिन नेतन्याहू इस समारोह में उपस्थित थे।

मोदी ने कहा, “इजरायल ने यह साबित किया है कि देश के आकार से नहीं, बल्कि लोगों की प्रतिबद्धता से कोई देश आगे बढ़ता है।”

मोदी ने कृषि सहयोग और दोनों देशों के बीच आनुवांशिक संसाधनों व सूचना के आदान-प्रदान के बारे में कहा, “परस्पर विकास के लिए इस तरह के सहयोग और भावना दोनों देशों के अच्छे भविष्य के लिए बहुत महत्वपूर्ण है।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि पिछले वर्ष उनके इजरायल दौरे के दौरान चार करोड़ डॉलर की निधि पैदा हुई थी। यह दोनों देशों का संयुक्त उद्यम होगा।

उन्होंने कहा, “इससे प्रौद्योगिक नवाचार के क्षेत्र में दोनों देशों की प्रतिभाओं को मदद मिलेगी।”

मोदी ने कहा, “खाद्य, जल, ऊर्जा, बीमारी उन्मूलन समेत अन्य क्षेत्रों में विशेष ध्यान दिया जाएगा।”

प्रधानमंत्री ने कहा कि वह आईक्रिएट के स्थापित होने के बाद इजरायली अनुभव से फायदा लेने और संस्थान के नवयुवकों को स्टार्ट-अप माहौल की सुविधा देने के लिए वह इजरायल का सहयोग चाहते हैं।

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: