breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंराजनीति
Trending

Breaking: पूर्व विदेश मंत्री सुषमा स्वराज का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन, नम आंखों से विदाई

बेटी के हाथों अंतिम विदाई, पक्ष-विपक्ष सभी लोग है मौजूद

Purv-Videsh-Mantri-Sushma-Swaraj-Ka-Parthiv-Sharir-Panchtatv-Me-Vilin-Nam-Ankho-Se-Vidai

नई दिल्ली, 7 अगस्त, (समयधारा) : बीजेपी की कद्दावर नेता व पूर्व विदेश मंत्री का पार्थिव शरीर पंचतत्व में विलीन हो गया l

बेटी के हाथों अंतिम विदाई, पक्ष-विपक्ष सभी लोग थे मौजूद l लोधी रोड पर हुआ अंतिम संस्कार l

पूरे राजकीय सम्मान के साथ सुषमा स्वराज जी को दी गयी अंतिम विदाई l  

नाम आंखों से सभी ने दी विदाई l क्या पक्ष क्या विपक्ष क्या ख़ास क्या आम सभी की आँखें नम थी l

अपने विरोधियों को भी रुला गयी सुषमाजी l अब सिर्फ आपकी और हमारी यादों में रहेगी सुषमा स्वराज l 

मोदी-आडवाणी, सोनिया-राहुल, रामगोपाल यादव या कोई और सभी की आँखों में आंसू छलक रहे थे l

पार्टी की सीमाओं को तोड़ सुषमा स्वराज को सभी  ने  याद किया l उनकी कद्दावर छवि या उनका केयर करना कोई भूल नहीं सकता l

देश का शायद ऐसा ही कोई नेता या हस्ती बची होंगी जिसने उन्हें श्रद्धांजलि या याद न किया हो l

वह इकलौती ऐसी नेता थी जिनकी अचानक मौत से कई सारे मुल्कों के नेताओं को भी सकेत में डाल दिया l

कई देश के नेताओं ने शोक संदेश भेजा l उनकी याद में ट्वीट किया l

सुषमा स्वराज को अंतिम श्रद्धांजलि देने पहुंची देश की कई मशहूर हस्तियाँ l

राष्ट्रपति कोविंद, प्रधानमंत्री मोदी, उपराष्ट्रपति नायडू, गृहमंत्री अमित शाह,  लोकसभा स्पीकर ॐ बिरला,

बीजेपी के कार्यकारी अध्यक्ष जे पी नड्डा, लालकृष्ण आडवाणी,   हेमा मालिनी,  उत्तर प्रदेश के पूर्व मुख्यमंत्री मुलायमसिंह यादव,

समाजवादी पार्टी के लीडर राम गोपाल यादव, दिल्ली के CM व डिप्टी CM केजरीवाल व मनीष सिसोदिया,

दिल्ली के उपराज्यपाल अनिल बैजल, पंतजलि व योग गुरु रामदेव, गौतम गंभीर, बहुजन समाज पार्टी  की सुप्रीमो मायावती,

FormerforeginministerSushmaSwarajdies_optimized
सुषमा स्वराज (तस्वीर,साभार-ट्विटर)

अनुराग ठाकुर, बाबुल सुप्रियों, मनोज तिवारी व कई राजनीतिक गैर राजनीतिक हस्तियाँ उन्हें श्रद्धांजलि देने उनके आवास पहुंची l

कई देशों ने भी अपनी गहरी संवेदना व दुःख संदेश पहुंचाया l

मालदीव, रूस, अफगानिस्तान, यमन, नेपाल, कई देशों ने उन्हें भावभिन श्रद्धांजलि दी l 

मोदी सुषमा जी के परिवार से मिलकर भावुक हुए l वही लालकृष्ण अडवानी भी रो पड़े l

सपा नेता रामगोपाल यादव भी भावुक हो गए l कई नेताओं की आखें नम थी l

विदेश मंत्री रहते हुए उन्होंने न सिर्फ हिन्दुस्तानी बल्कि विदेशों में  भी अपनी छाप छोड़ी l

सिर्फ एक ट्वीट पर लोगों की परेशानियों को दूर करनेवाली सुषमा स्वराज जैसा कोई दूसरा विदेश मंत्री अब तक नहीं हुआ l 

Purv-Videsh-Mantri-Sushma-Swaraj-Ka-Parthiv-Sharir-Panchtatv-Me-Vilin-Nam-Ankho-Se-Vidai

Sushma Swaraj last rites at 3pm today
सुषमा स्वराज (तस्वीर,साभार-ट्विटर ANI)

Sushma Swaraj last rites at 3pm todayभाजपा की वरिष्ठ कद्दावर नेता

और पूर्व विदेशमंत्री सुषमा स्वराज (Sushma Swaraj) का दिल का दौरा पड़ने से मंगलवार,

6 अगस्त 2019 को 67 वर्ष की आयु में निधन (Sushma Swaraj passes away) हो गया है।

सुषमा स्वराज का निधन (Sushma Swaraj dies) एम्स अस्पताल में हुआ।

सुषमा स्वराज का अंतिम संस्कार (Sushma Swaraj last rites at 3pm today)

7 अगस्त, बुधवार, दोपहर 3 बजे लोधी रोड शवदाह गृह में किया जाएगा।

मीडिया रिपोर्ट्स और एम्स के सूत्रों के अनुसार, सुषमा स्वराज को इमरजेंसी वॉर्ड में भर्ती करवाया गया था।

वर्ष 2016 में ही उनके गुर्दे का ट्रांसप्लांट हुआ था। सुषमा स्वराज दिल्ली की पूर्व मुख्यमंत्री भी रह चुकी है।

मोदी सरकार के प्रथम कार्यकाल में उन्होंने बतौर विदेशमंत्री सबसे बेहतर काम किया था।

सोशल मीडिया पर एक्टिव कुछेक नेताओं में सुषमा स्वराज सबसे अग्रणी थी। ट्विटर पर उनके एक करोड़ 20 लाख से ज्यादा फॉलोअर थे।

Politicians and Celebrities pays tribute to former External Affairs Minister Sushma Swaraj, सुषमा स्वराज को अंतिम श्रद्धांजलि देने पहुंची हस्तियाँ, कोविंद-मोदी-नायडू......
सुषमा स्वराज को अंतिम श्रद्धांजलि देने पहुंची हस्तियाँ, कोविंद-मोदी-नायडू……

Purv-Videsh-Mantri-Sushma-Swaraj-Ka-Parthiv-Sharir-Panchtatv-Me-Vilin-Nam-Ankho-Se-Vidai

Tags

Dharmesh Jain

धर्मेश जैन एक स्वतंत्र लेखक है और साथ ही समयधारा के को-फाउंडर व सीईओ है। लेखन के प्रति गहन रुचि ने धर्मेश जैन को बिजनेस के साथ-साथ लेख लिखने की ओर प्रोत्साहित किया।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: