breaking_newsHome sliderदेशराजनीति

राहुल के समर्थन में आयी कट्टर ‘शिवसेना’ कहा सबको अपनी इच्छा बयां करने का पूरा हक़

मुंबई, 9 मई :  शिवसेना ने बुधवार को कहा कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी को कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी का ‘उपहास नहीं उड़ाना’ चाहिए।

राहुल गांधी ने 2019 में बहुमत मिलने की स्थिति में प्रधानमंत्री बनने की घोषणा की है।

मोदी द्वारा राहुल और उनके बयान को ‘सरासर घमंड’ कहकर आलोचना करने पर, शिवसेना के राज्यसभा सदस्य और प्रवक्ता संजय राउत ने कड़ी प्रतिक्रिया व्यक्त की है और उन्होंने कहा कि लोकतंत्र में कांग्रेस अध्यक्ष को प्रधानमंत्री बनने की अपनी इच्छा बयां करने का पूरा अधिकार है।

राउत ने कहा, “इसी अधिकार से मोदी देश के प्रधानमंत्री बने हैं, इसलिए उन्हें इसके लिए किसी का उपहास नहीं उड़ाना चाहिए।

वास्तव में 2014 में, इस बात की संभावना थी कि भाजपा नेता एल.के. आडवाणी प्रधानमंत्री की भूमिका निभाएंगे।”

उन्होंने कहा कि मोदी अगर राहुल गांधी को प्रधानमंत्री बनने से रोकना चाहते हैं तो उनके लिए बेहतर विकल्प यह है कि पहले गांधी को हराएं। लेकिन राहुल के रुख पर इतना खीझने का कोई मतलब नहीं है।

राउत ने कहा, “कांग्रेस आज भी देश की सबसे बड़ी पार्टी है। उसे 2014 में उत्पन्न एक असाधारण माहौल से हराया गया। यह संप्रग सहयोगियों को निर्णय लेना है कि गांधी की भूमिका क्या होगी।”

उन्होंने कहा कि जहां तक शिवसेना का सवाल है, “हमें लगता है कि शरद पवार भी एक योग्य उम्मीदवार हैं और भाजपा में मोदी के अलावा अरुण जेटली और आडवाणी में भी संभावना है।”

महाराष्ट्र के पालघर लोकसभा उपचुनाव में भाजपा के दिवंगत सांसद चिंतामन वंगा के पुत्र श्रीनिवास वंगा को शिवसेना द्वारा अपना उम्मीदवार बनाने के बाद भाजपा की आलोचना पर राउत ने कहा, “भाजपा उथल-पुथल की स्थिति में है।”

राउत ने कहा, “पहले उन्हें बैठना चाहिए और हमसे चर्चा करनी चाहिए। हमपर कोई भी इस तरह से दबाव नहीं बना सकता। यह शिवसेना अध्यक्ष उद्धव ठाकरे का निर्णय है कि हम वहां अपनी ताकत के साथ चुनाव लड़ें।”

–आईएएनएस

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: