breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशराज्यों की खबरें
Trending

Breaking: फैक्ट्री मालिक रेहान गिरफ्तार, 43 की मौत, केजरीवाल सरकार मृतकों के परिजनों को देगी 10 लाख मुआवजा

दिल्ली पुलिस ने रेहान के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है

नई दिल्ली: Delhi Fire at Rani Jhansi road factory owner Rehan arrest-रविवार की सुबह दिल्लीवासियों के लिए मौत की सुबह साबित हुई। रानी झांसी रोड पर की एक चार मंजिला इमारत की फैक्ट्री में सुबह 5 बजे भीषण आग लग गई। इस आग में 43 लोगों की मौत हो गई। ये सभी फैक्ट्री में काम करने वाले मजदूर थे। फैक्ट्री मालिक मोहम्मद रेहान को शाम में गिरफ्तार कर लिया गया (Delhi Fire at Rani Jhansi road factory owner Rehan arrest) है।

दिल्ली पुलिस ने रेहान के खिलाफ केस दर्ज कर लिया है। रिहायशी इलाके में रेहान की फैक्ट्री अवैध रूप से चल रही थी।

फैक्ट्री मालिक रेहान के खिलाफ दिल्ली पुलिस ने आईपीसी की धारा  304 (गैरइरादन हत्या) के तहत केस दर्ज कर लिया है।

आग लगने के बाद से ही फैक्ट्री का मालिक रेहान फरार थारेहान के भाई को भी पुलिस ने पहले ही गिरफ्तार कर लिया (Delhi Fire at Rani Jhansi road factory owner Rehan arrest)था। अब शाम में फैक्ट्री के मालिक मोहम्मद रेहान को गिरफ्तार करके उसे पूछताछ की जा रही है।

उपहार कांड के बाद यह दिल्ली में हुआ अब तक का सबसे बड़ा अग्निकांड है। इस हादसे में फिलहाल मरने वाले 29 शवों की शिनाख्त हो गई है, लेकिन घायलों और मृतकों के परिजन अभी भी अपने बंधुओं को दिल्ली के अलग-अलग अस्पतालों में तलाशते फिर रहे(Delhi Fire at Rani Jhansi road factory owner Rehan arrest)है।

रानी झांसी रोड के इस अग्निकांड में मारे गए सभी लोग पेशे से मजदूर थे। 14 मजदूरों की पहचान होना बाकी है।

इस मौत की फैक्ट्री को चलाने वाले मालिक रेहान के अलावा फैक्ट्री के मैनेजर फुरकान को भी गिरफ्तार कर लिया गया (Delhi Fire at Rani Jhansi road factory owner Rehan arrest) है।

डीसीपी नार्थ मोनिका भारद्वाज ने बताया कि रेहान के भाइयों से भी पूछताछ की जा रही है। इसके अतिरिक्त कुछ अन्य लोगों को भी पुलिस ने हिरासत में लिया है।

गौरतलब है कि दिल्ली की अनाज मंडी में रानी झांसी रोड की एक फैक्ट्री में रविवार सुबह भीषण आग लग गई। मौके पर दमकल की गाड़ियां पहुंच गई।

दमकल गाड़ियों के अधिकारियों को हादसे की जानकारी सुबह 5:22 पर दी गई।

30 फायर ब्रिगेड की गाड़ियां घटनास्थल पर पहुंच गई और रेस्क्यू ऑपरेशन शुरु किया। दमकल कर्मियों ने अपनी जान पर खेलकर इमारत में मौजूद लोगों को बचाया और 63 लोगों को आग की चपेट में सुलगती फैक्ट्री से बाहर निकाला। बचाव कार्य में तकरीबन डेढ़ सौ दमकल कर्मी जुटे थे।

भयंकर आग लगने का क्या था कारण-Delhi fire reason

प्राथमिक जांच में आग लगने का कारण शॉर्ट सर्किट बताया गया है। इस अग्निकांड में 43 मजदूरों की दर्दनाक मौत हो गई। इतना ही नहीं, दो दमकल कर्मी भी रेस्क्यू ऑपरेशन में घायल हो गए है।

बताया जा रहा है कि दिल्ली (Delhi) में इस भयंकर अग्निकांड के पीछे का कारण बड़ी लापरवाही है। रिहायशी इलाके में अवैध रुप से बेकरी और प्लास्टिक के बैग बनाने की फैक्ट्री चल रही थी।

इनके पास दमकल विभाग का अनापत्ति पत्र (NOC) नहीं था। गलियां इतनी संकरी है कि दमकल गाड़ियों के निकलने के लिए पर्याप्त जगह तक नहीं थी। बचाव कार्य में बहुत दिक्कत आई।

दमकल कर्मी खिड़कियां काटकर भवन में दाखिल हुए।

आग लगने के समय ज्यादातर मजदूर नींद में थे। इस इमारत में हवा की निकासी की भी उचित व्यवस्था नहीं थी। इसलिए ज्यादातर मौतें दम घुटने के कारण हुई (Delhi Fire at Rani Jhansi road factory owner Rehan arrest)है।

दिल्ली के इस भयंकर अग्निकांड की जांच क्राइम ब्रांच की टीम कर रही है। इस हादसे में फंसे लोगों को पास के LNJP अस्पताल, बाड़ा हिंदूराव, सफदरजंग और लेडी हार्डिंग में भर्ती कराया गया है।

अभी तक मरने वालों की संख्या 43 हो चुकी है जिसमें से 29 लोगों के शवों की शिनाख्त हो चुकी है।

दिल्ली सरकार देगी मुआवजा

इस हादसे पर दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल (Delhi CM Arvind Kejriwal) , पीएम मोदी (PM Modi) और राष्ट्रपति कोविंद ने गहरा शोक व्यक्त किया है।

दिल्ली की केजरीवाल सरकार ने मृतको के परिजनों को 10-10 लाख रुपये और घायलों को 1लाख रुपये मुआवजे का ऐलान किया है।

इसके साथ ही घायलो के इलाज का सारा खर्चा भी दिल्ली सरकार ही उठायेगी।

Delhi Fire at Rani Jhansi road factory owner Rehan arrest

Show More

Reena Arya

रीना आर्य www.samaydhara.com की फाउंडर और एडिटर-इन-चीफ है। रीना आर्य ने पत्रकारिता के महज 6-7 साल के भीतर ही अपने काम के दम पर न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपनी पहचान बनाई बल्कि तमाम चुनौतियों और पारिवारिक जिम्मेदारियों को निभाते हुए समयधारा.कॉम की नींंव रखी। हर मुद्दे पर अपनी ज्वलंत और बेबाक राय रखने वाली रीना आर्य एक पत्रकार, कंटेंट राइटर,एंकर और एडिटर की भूमिका निभा चुकी है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

seventeen − 15 =

Back to top button