breaking_newshindiअन्य ताजा खबरेंदेशराज्यों की खबरें
Trending

#MumbaiTerrorAttack-26/11 मुंबई हमले की आज 10वीं बरसी पर शहीदों को श्रद्धांजलि

26/11मुंबई आतंकी हमले में ताज होटल का अस्तित्व मिटाने की खौफनाक कोशिश हुई थी क्योंकि आतंवादियों ने पूरे होटल को अपने कब्जे में ले लिया था

मुंबई में 26 नवंबर, #MumbaiTerrorAttack– 2008 को हुए आतंकवादी हमले की 10वीं बरसी पर शहीदों व पीड़ितों को श्रद्धांजलि । इस हमले को 10 पाकिस्तानी आंतकवादियों ने अंजाम दिया था, जिसमें 166 लोगों की जान चली गई थी।

#MumbaiTerrorAttack- 26/11मुंबई हमले की दास्तां

पाकिस्तान समर्थित इस्लामी आतंकवादी संगठन लश्कर-ए-तैयबा के आदेश पर देश की आर्थिक राजधानी मुंबई पर 10 खूनखार आतंकवादियों ने खूनी खेल खेलकर अपने नापाक मंसूबों को अंजाम दिया था। ताज होटल की वो ह्दयविदारक रात याद कर आज भी देश के लोगों के रोंगटे खड़े हो जाते है।

पाकिस्तानी आतंकवादियों का वो खूनी खंजर आज भी भारत के सीने में फंसा पड़ा है क्योंकि उस खूनी रात में आतंकवादियों ने जगमगाती मुंबई को गोली,बारूद,ग्रेनेड से तबाह और बर्बाद करने की कोशिश की थी और अनगिनत बेकसूरों को मौत के घाट उतार दिया था।

#MumbaiTerrorAttack10thanniversary- 26-11-mumbai-terror-attack

26/11मुंबई आतंकी हमले में ताज होटल का अस्तित्व मिटाने की खौफनाक कोशिश हुई थी क्योंकि आतंवादियों ने पूरे होटल को अपने कब्जे में ले लिया था। इस हमले की आज दसवीं बरसी है लेकिन उस खौफनाक रात के दर्दनाक सबूत आज भी ताज होटल में मौजूद है।

आतंकवादी अरब सागर के रास्ते मुंबई पहुंचे थे और उन्होंने दक्षिणी मुंबई के कई इलाकों में हमले किए थे। लश्कर-ए-तैयबा के 10 आतंकवादी 26 नवंबर 2008 को पानी के रास्ते मुंबई में घुसे थे। इन लोग ने कोलाबा के समुद्री तट से एक नाव के द्वारा भारत में घुसपैठ की थी।

इन लोगों ने पूरी सोची-समझी साजिश के तहत भारत की आर्थिक राजधानी मुंबई को अपने आंतकी मंसूबों का शिकार बनाया था। आतंकवादियों ने अपना भेष बदला हुआ था ताकि कोई पहचान न सकें और विस्फोटक व हथियारों से लैस होकर पानी के रास्ते भारत में घुसे थे। यहां आकर इन लोगों ने खुद को दो-दो के समूहों में बांट दिया ता और विभिन्न दिशाओं में अपना आतंकी खेल खेलने के लिए अग्रसर हो गए थे।

मुंबई की इन जगहों पर किया गया था आतंकी विस्फोट- #Remembering2611

आतंकवादियों ने अपनी एक टोली छत्रपति शिवाजी टर्मिनल,होटल ट्राइडेंट ओबरॉ और ताज होटल की ओर भेजी थी। दो आतंकवादियों ने कोलाबा (दक्षिण मुंबई) स्थितलियोपोल्ड कैफे पर हमला किया था और बाकी बचे दो आतंकियों ने नरीमन हाउस को अपने निशाने पर लिया था। मुंबई पर चौतरफा विस्फोटक किए गए थे।

#MumbaiTerrorAttack10thanniversary- 26-11-mumbai-terror-attack- tribute to the martyrs
26/11 मुंबई हमले की आज 10वीं बरसी पर शहीदों को श्रद्धांजलि

 आतंकवादियों ने मासूम,बेकसूर और निहत्थे लोगों को कब्जे में लेकर उनपर ताबड़-तोड़ फायरिंग शुरू की और एक के बाद एक बम विस्फोट किए थे। इसके बाद प्रशासन ने इनका सामना करने के लिए 200 एनएसजी कमांडो को भेजा था। इस ऑपरेशन में सेना के 50 कमांडों भी उतरे थे।

आतंकवादियों ने 166 देशी और विदेशी लोगों की हत्या कर दी थी और सैकड़ों मासूमों को घायल कर दिया था। इस सुरक्षा बलों और आतंकवादियों की मुठभेड़ में जवानों ने 9 आतंकवादियों को मार दिया था और एक को जिंदा पकड़ लिया गया था। इस जिंदा आतंकवादी से ही सरकार को पुख्ता सबूत मिले थे कि मुंबई आतंकी हमले में पाकिस्तान का हाथ था।

 हमलावरों के खिलाफ अभियान कई सुरक्षा एजेंसियों ने मिलकर चलाया था, जो 26 नवंबर (बुधवार) की रात से 29 नवंबर, 2008 (शनिवार) की सुबह लगातार लगभग 60 घंटे तक चला था।

26/11 की दसवीं बरसी पर भी मुंबई के लोगों के दिलों और दिमाग पर उस आतंकी हमले के घाव आज भी ताजा है। देश आज भी अपने उन शहीदों और पीड़ितों के दर्द को नहीं भूला है जिन्होंने बेकसूर होते हुए भी दर्दनाक मौत की सजा भुगती।

देश पर आतंक का जो घाव लगा है वो कभी भर नहीं सकता l आतंकियों ने मुंबई को अपना निशाना बनाया l

#MumbaiTerrorAttack10thanniversary- 26-11-mumbai-terror-attack- tribute to the martyrs
मुंबई आतंकी हमले में शहीद हुए जवानों को हमारी श्रद्धांजलि (तस्वीर,साभार-ट्विटर)

वीर जवान और शहीद जिन्होंने अपनी जान गवांकर मुंबई की सुरक्षा की उन्हें समयधारा शत शत नमन करता है !

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: