breaking_newsअन्य ताजा खबरेंदेशदेश की अन्य ताजा खबरेंबिजनेस न्यूजराज्यों की खबरें
Trending

उत्तर प्रदेश के इतिहास का सबसे बड़ा बजट, 5,12,860 करोड़ रूपए…!

51,28,60,00,00,000 रूपए का भारी भरकम बजट पेश किया योगी सरकार ने

uttarpradesh yogisarkar-budget2020 news-updates-in-hindi

उत्तर प्रदेश, (समयधारा) : उत्तर प्रदेश सरकार ने अपना 2020-21 का बजट पेश किया l 

यह बजट उत्तर प्रदेश के इतिहास का सबसे बड़ा बजट है l  बीजेपी की योगी सरकार ने  विधानसभा में अपना चौथा बजट पेश किया है।

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना का यह पहला बजट है, व मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ का चौथा l

उल्लेखनीय है कि इससे पिछला बजट 4 लाख 28 हजार करोड़ का था।

वित्त मंत्री सुरेश खन्ना ने बजट की शुरुआत में  शायरी करते हुए कहा …वही उड़ेंगे जिनके पर होंगे
उन्होंने आगे कहा इस बार का बजट युवाओं के विकास और अवस्थापना पर केंद्रित होगा l 
योगी सरकार का यह बजट सामाजिक-आर्थिक विकास पर केंद्रित है और इस ओर सरकार के उद्देश को पूरा करेगा l 
uttarpradesh yogisarkar-budget2020 news-updates-in-hindi
  • प्रधानमंत्री जन विकास कार्यक्रम के लिए 783 करोड़ रुपये, मान्यता प्राप्त मदरसों और मक तबों के लिए 479 करोड़ रुपये।
  • दिव्यांगों को 500 रुपये/प्रतिमाह पेंशन के लिए 621 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
  • मुख्यमंत्री सामूहिक विवाह योजना के लिए 250 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
  • ग्रामीण मार्गों के निर्माण और चौड़ीकरण के लिए 2305 करोड़ और राज्य सड़क निधि के लिए 1 हजार करोड़ रुपये।
  • पर्यावरण की रक्षा के लिए प्रदेश में पॉलिथीन के निर्माण, बिक्री और उपयोग पर पूर्ण प्रतिबंध लागू किया है l
  • समग्र शिक्षा अभियान के लिए 18363 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई।
  • प्रदेश के जिलों में न्यायालयों में सुरक्षा व्यवस्था होगी पुख्ता। सीसीटीवी और अन्य उपकरणों की व्यवस्था के लिए 75 करोड़ रुपये का प्रस्ताव।
  • दिल्ली से मेरठ रीजनल रैपिड ट्रांजिट सिस्टम का कार्य प्रगति में है, इसके लिए 900 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई है।
  • सांसदों, विधायकों, जनप्रतिधियों पर चल रहे मुकदमों के लिए एक स्पेशल कोर्ट की व्यवस्था की गई है।

uttarpradesh yogisarkar-budget2020 news-updates-in-hindi

  • पॉक्सो के लिए 218 कोर्ट के गठन का फैसला लिया गया है।
  • मनरेगा के लिए 4,800 करोड़ रुपये की व्यवस्था प्रस्तावित l
  • पूर्वांचल निधि के लिए 300 करोड़ और बुंदेलखंड निधि के लिए 210 करोड़ की व्यवस्था।
  • काशी विश्वनाथ मंदिर के लिए बजट में 200 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
  • प्रदेश में 700 से ज्यादा इलेक्ट्रिक बसों की व्यवस्था l
  • गोरखपुर समेत अन्य शहरों में मेट्रो की व्यवस्था के लिए 200 करोड़ रुपये का प्रस्ताव।
  • कानपुर मेट्रो के लिए 358 करोड़ की व्यवस्था प्रस्तावित l
  • गन्ना किसानों को सरकार का तोहफा, गन्ने का समर्थन मूल्य 325 रुपये/क्विंटल करने का प्रस्ताव।
  • मुसहर, वनटंगिया और थारू जनजातियों के आवास के लिए 370 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
  • अयोध्या में बनेगा एयरपोर्ट, इसके लिए 500 करोड़ रुपये की व्यवस्था की गई।
  • लखनऊ के कैंसर संस्थान के लिए 187 करोड़ रुपये और राम मनोहर लोहिया अस्पताल के लिए 477 करोड़ रुपये की व्यवस्था l
  • इटावा स्थित मेडिकल कॉलेज के लिए 309 करोड़ की व्यवस्था।
  • असाध्य रोगों के लिए निशुल्क इलाज की व्यवस्था के लिए 40 करोड़ की व्यवस्था l 
  • लखनऊ के एसजीपीजीआई के लिए 820 करोड़ की व्यवस्था।
  • प्रदेश के जिला पुरुष और महिला चिकित्सालयों के विकास के लिए 70 करोड़ रुपये की व्यवस्था।

uttarpradesh yogisarkar-budget2020 news-updates-in-hindi

  • उत्तर प्रदेश में पुलिस फरेंसिक यूनिवर्सिटी और प्रयागराज में एक लॉ यूनिवर्सिटी का निर्माण प्रस्तावित l 
  • युवा हब की स्थापना के लिए 50 करोड़ की व्यवस्था प्रस्तावित l 
  • उत्तर प्रदेश के प्रत्येक जिले में युवा हब स्थापित होगा l 
  • युवाओं के लिए इस बजट में दो महत्वपूर्ण योजनाएं प्रारंभ करने का निर्णय, युवाओं के लिए इस बजट में 1200 करोड़ रुपये प्रस्तावित: वित्त मंत्री
  • मुख्यमंत्री कन्या सुमंगला योजना के लिए 1200 करोड़ रुपये का प्रस्ताव।
  • तेजाब, बलात्कार से पीड़ितों को आर्थिक सहायता के लिए 28 करोड़ की व्यवस्था।
  • सेफ सिटी लखनऊ योजना के लिए 97 करोड़ रुपये की व्यवस्था।
राजकोषीय घाटा 53,195.46 करोड़ अनुमानित है जो वर्ष के लिए अनुमानित सकल घरेलू उत्पाद का 2.97 प्रतिशत है।
वित्तमंत्री ने कहा  हमारी व्यवस्था ने क्राइम को लेकर जीरो टॉलरेंस की नीति अपनाई है, कानून के भय से अपराधियों ने किया सरेंडर l 
उत्तर प्रदेश में केंद्र की तर्ज पर राज्य योजना आयोग की जगह राज्य नीति आयोग का होगा गठन l 
uttarpradesh yogisarkar-budget2020 news-updates-in-hindi
 
Tags

Radha Kashyap

राधा कश्यप लेखन में अपनी रुचि के चलते काफी समय से विभिन्न पब्लिशिंग हाउसेज में काम करती रही है और अब समयधारा के साथ एक लेखिका के रूप में जुड़ी हुई है।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: