breaking_newsअन्य ताजा खबरेंचटपट चुटकले और शायरीदिल की बातलाइफस्टाइल
Trending

Happy Hindi Diwas 2019: अपने प्रियजनों को भेजें ‘हिंदी दिवस’ के ये शुभकामना संदेश

14 सितंबर 1953 में पहली बार ‘हिंदी दिवस’ (Hindi Diwas) मनाया गया।

नई दिल्ली: Happy Hindi Diwas 2019 wish messages images- आज 14 सितंबर 2019, शनिवार को देशभर में हिंदी दिवस धूमधाम से मनाया जा रहा है। हिंदी भाषा के लिए यह दिन गौरवशाली पर्व के रूप में पूरे 15 दिनों तक मनाया जाता है।

विशेष रूप से सरकारी कार्यालयों और संस्थानों में हिंदी साहित्य कला गोष्ठी, प्रतियोगिताएं आयोजित की जाती है। वर्ष 1949 में संविधान सभा ने हिंदी भाषा को भारत की राजभाषा (Hindi Rajbhasha) बनाने का निर्णय लिया था।

फिर 14 सितंबर 1953 में पहली बार ‘हिंदी दिवस’ (Hindi Diwas) मनाया गया।

वक्त के साथ इसे हिंदी (Hindi) का प्रभाव और वर्चस्व ही कहेंगे कि आज विश्व के सबसे बड़े सर्च

इंजन गूगल में भी हिंदी कंटेंट की महत्ता अंग्रेजी के कंटेंट से कई ज्यादा हो चुकी है।

इतना ही नहीं, हिंदी संपूर्ण विश्व में चौथी ऐसी भाषा है जिसे सर्वाधिक लोग बोलते है

हम हिंदुस्तानियों के लिए हिंदी सिर्फ हमारी मातृभाषा ही नहीं बल्कि भारत का गौरव है।

राष्ट्र का सम्मान है। वर्तमान में देश में हिंदी बोलने वालों की संख्या 43.63 फीसदी हो

गई है जबकि 2001 में यह आंकड़ा 41.3 फीसदी था।

हिंदी की सबसे बड़ी खूबसूरती और उदारता यह है कि इसने अपने अंदर सभी अन्य बोलियों को

समाहित किया हुआ है। यह तो सर्वमान्य सत्य है कि जो भी संकीर्ण होता है उसका ह्रास

होता है और जो चीज जितना उदार होती है उसका उतना ही विस्तार होता है।

यह बात हिंदी भाषा (Hindi Bhasha) पर पूरी तरह सटीक बैठती है। हिंदी ने आज अंग्रेजी के भी कई शब्दों

को अपने अंदर समाहित कर लिया है और बहुत से लोग हिंदी को हिंग्लिश की तरह बोलते है

लेकिन इससे हिंदी का और अधिक विस्तार ही हुआ है। फिर भी हिंदी दिवस के दिन हमें यह प्रण

करने की जरूरत है कि हम हमारी मां हिंदी के अस्तित्व और सम्मान को बनाएं रखने में प्रतिज्ञाबद्ध रहेंगे।

इसलिए राजभाषा हिंदी को प्रोत्साहित करने के उद्देश्य से प्रत्येक वर्ष 14 सितंबर को हिंदी दिवस धूमधाम से मनाया जाता है।

इस मौके पर आप भी अपने सहयोगियों,सहकर्मियों,दोस्तों, रिश्तेदारों और प्रियजनों को हिंदी दिवस के शुभकामना संदेश (Happy Hindi Diwas 2019 wish messages), हिंदी दिवस विश इमेजेस (Hindi Diwas 2019 wish images), हिंदी दिवस एसएमएस (Hindi Diwas SMS) , हिंदी शायरी (Hindi Shayari) भेजें:

Happy Hindi Diwas 2019 wish messages images:

HindiDiwas2019wishimages_optimized

हिन्दी को आगे बढ़ाना है

उन्नति की राह ले जाना है

केवल इक दिन ही नहीं हमने

नित हिन्दी दिवस मनाना है

हिंदी दिवस की शुभकामनाएं!

Happy Hindi Diwas 2019!

 

Hindi diwas Hindi shayari-SMS

भारत माँ की ये बिंदी है

हिंदुस्तान की जान हिंदी है

हिंदी दिवस की शुभकामनाएं!

Happy Hindi Diwas 2019

 

HindiDiwasSMS,HindiShayari_optimized

एक दिन ऐसा भी आएगा

हर तरफ हिंदी का परचम लहराएगा,

इस राष्ट्र भाषा का हर ज्ञाता

विद्वान भारतवासी कहलाएगा।

हिंदी दिवस की शुभकामनाएं!

Happy Hindi Diwas 2019

 

HappyHindiDiwas2019wishmessages,HindiDiwas2019wishimages-2_optimized

जिसमें है मैंने ख्वाब बुने,

जिस से जुड़ी मेरी हर आशा,

जिससे मुझे पहचान मिली,

वो है मेरी हिंदी भाषा।

हिंदी दिवस की शुभकामनाएं!

Happy Hindi Diwas 2019

 

HappyHindiDiwasSMS,HindiShayari-2_optimized

मातृभाषा पर तुम भी इतराओगे,

जिस दिन हिंदी की ताकत समझ जाओगे।

हिंदी दिवस की शुभकामनाएं!

Happy Hindi Diwas 2019

 

HappyHindiDiwas2019wishmessagesimages-HindidiwasHindishayari-3_optimized

हिंदी बोली यही गिला है

वर्ष का इक दिन मुझे मिला है

अपने देश में मैं हूँ पराई

ऐसा मान न चाहूँ भाई

हिंदी दिवस की शुभकामनाएं!

Happy Hindi Diwas 2019

 

HappyHindiDiwas2019wishmessagesimages_optimized

हिंदी पूरे विश्व का हो गान,

हिंदी को बनाये भारत की शान

हिंदी दिवस की शुभकामनाएं!

Happy Hindi Diwas 2019

Tags

Reena Arya

रीना आर्य एक ज्वलंत और साहसी पत्रकार व लेखिका है। वे समयधारा.कॉम की एडिटर-इन-चीफ और फाउंडर भी है। लेखन के प्रति अपने जुनून की बदौलत रीना आर्य ने न केवल बड़े-बड़े ब्रांड्स में अपने काम के बल पर अपनी पहचान बनाई बल्कि अपनी काबलियत को प्रूव करते हुए पत्रकारिता के पांच से छह साल के सफर में ही अपने बल खुद एक नए ब्रैंड www.samaydhara.com की नींव रखी।रीना आर्य हर मुद्दे पर अपनी बेबाक राय रखने पर विश्वास करती है और अपने लेखन को लगभग हर विधा में आजमा चुकी है

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: