breaking_newsHome sliderचटपट चुटकले और शायरीदिल की बात

#शायरी(Shayari) : मैं अधूरी नहीं हूँ तेरे बिना-फिर भी पूरी नहीं हूँ तेरे बिना

(1) मैं अधूरी नहीं हूँ तेरे बिना (Main adhuri nahi hu tere bina)

फिर भी पूरी नहीं हूँ तेरे बिना (phir bhi puri nahi hu tere bina)

सांस में क्यों रुका हुआ है तू (Saans me kyo ruka hua hai tu)

दिल जब भी तुझको याद करता है (dil jab bhi tujhko yaad karta hai)

मेरे जिस्म से गुजरता है तू (mere jism se gujarta hai tu)

आँख में क्यों रखा हुआ है तू (aankh me kyo rakha hua hai tu…)

(2) उसे बेवफा कहनेवाले बता ,
क्या तुमने वफा शिद्दत से निभाई थी??

(3) “आपकी दोस्ती की एक नज़र चाहिए,
दिल है बेघर उसे एक घर चाहिए,
बस यूँही साथ चलते रहो ऐ दोस्त,
यह दोस्ती हमें उम्र भर चाहिए..”

(4) अगर तुम्हें पा लेते तो ,,,किस्सा इसी जन्म में खत्म हो जाता,,,
तुम्हें खोया है तो
यकीनन कहानी लम्बी चलेगी ……

Tags

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
error: